रोज सुबह करें इन 5 योगासनों का अभ्यास, सेहत को मिलेंगे जबरदस्त फायदे

Best Yoga Asanas For Morning: रोजाना सुबह कुछ योगासनों का अभ्यास करने से सेहत को अद्भुत फायदे मिलते हैं, जानें सुबह करने वाले 5 योगासन।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Sep 17, 2022Updated at: Sep 18, 2022
रोज सुबह करें इन 5 योगासनों का अभ्यास, सेहत को मिलेंगे जबरदस्त फायदे

Best Yoga Asanas For Morning In Hindi: योग करने से सेहत को जबरदस्त फायदे मिलते हैं, यह तो हम सभी जानते हैं। लेकिन आमतौर पर व्यायाम करने का सबसे अच्छा समय सुबह का समय माना जाता है, खासकर योग करने के लिए। अगर आप सुबह के समय योग का अभ्यास करते हैं तो इससे सेहत को अद्भुत फायदे मिलते हैं। ज्यातार ऑफिस जाने वाले लोग और स्टूडेंट्स भी सुबह के समय ही व्यायाम करना पसंद करते हैं, क्योंकि शाम तक वे काफी थक जाते हैं। साथ ही सुबह के समय योग करने से पूरा दिन शरीर में एनर्जी बनी रहती है।

बहुत से लोग अक्सर पूछते हैं कि सुबह के समय कौन से योग का अभ्यास करने फायदेमंद होता है? या सुबह करने वाले योग (subah karne wale yoga) के बारे में बताएं। इस लेख में हम आपको ऐसे 5 योग बता रहे हैं जिनका अभ्यास आप सुबह के समय कर सकते हैं और सेहत को जबरदस्त फायदे प्रदान करते हैं।

Best Yoga Asanas For Morning In Hindi

सुबह करने वाले योगासन- Best Yoga Asanas For Morning In Hindi

1. अर्धमत्स्येन्द्रासन (Ardha Matsyendrasana)

डायबिटीज रोगियों के लिए बहुत लाभकारी है, ब्लड शुगर को कंट्रोल रखता है और उनमें ऊर्जा को बढ़ाता है। साथ ही इसका अभ्यास करने पीठ, गर्दन, हाथ छाती आदि में खिंचाव और दर्द को दूर करने में मदद करता है और शरीर में लचीलेपन को बढ़ावा देता है। साथ ही जोड़ों के दर्द से छुटकारा दिलाने में भी मदद करता है।

इसे भी पढें: दबी हुई नसें खोलने के लिए करें इन 3 योगासनों का अभ्यास, सूजन और दर्द से मिलेगा छुटकारा

2. पश्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana)

यह नींद से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है और आलस-थकान को दूर करता है। साथ ही यह शरीर में ब्लड प्रेशर कंट्रोल रखने में भी मदद करता है। इसके अलावा साइनस जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए यह एक प्रभावी आसन है। चिंता, तनाव और अवसाद जैसी मानसिक स्थितियों से राहत प्रदान करने में भी बहुत लाभकारी है। साथ पेट संबंधी बीमारियों को ठीक करने और वजन प्रबंधन में भी मददगार है।

3. दंडासन (Dandasana)

सांस संबंधी रोगों में इसका अभ्यास बहुत लाभकारी है, यह फेफड़ों के कामकाज को बेहतर बनाता है, जिससे यह अस्थमा जैसी समस्याओं में बहुत लाभकारी है। मांसपेशियों और नसों में दर्द जैसे साइटिका दर्द कम करने में भी दंडासन का अभ्यास बहुत लाभकारी है। चिंता और तनाव आदि को कम करने और मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में मदद करता है। रीढ़ हड्डियों से जुड़ी समस्याओं में भी राहत प्रदान करता है।

4. विपरीत करनी आसन (Viparita Karani)

पैरों में दर्द, पीठ दर्द, सिर दर्द, पेट में ऐंठन आदि को दूर करने में इस आसन का अभ्यास बहुत लाभकारी है। यह महिलाओं में पीरियड्स के दौर ऐंठन को कम करने में भी मददगार है। नींद न आने की समस्या या अनिद्रा को दूर करने में फायदेमंद है और  आपको एक अच्छी नींद लेने में मदद करता है।

5. नौकासन (Naukasana)

इसका अभ्यास करने से वेट लॉस और फैट लॉस दोनों में ही बहुत लाभकारी है। यह तेजी कैलोरी और फैट बर्न करने में मदद करता है। साथ ही हैमस्ट्रिंग की मांसपेशियों के दर्द से राहत प्रदान करता है और उन्हें मजबूत बनता है। पेट की मांसपेशियों को टोन करने में मदद करता है और रीढ़ की हड्डियों में दर्द से छुटकारा दिलाता है। साथ ही मजबूत बनाता है। कमर से लेकर गर्दन की मांसपेशियों को स्ट्रेच करता है, दर्द दूर करता है और नसों के दर्द में भी आराम प्रदान करता है। यह डायबिटीज रोगियों में ब्लड शुगर को कंट्रोल रखने में भी मददगार है।

इसे भी पढें: एचडीएल (गुड) कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने के लिए करें ये 3 योगासन

आप किसी योगाचार्य के दिशा निर्देश के अनुसार रोजाना सुबह इन आसनों का अभ्यास कर सकते हैं। इनका रोजाना नियमित रूप से अभ्यास करने से न सिर्फ आप सेहतमंद रहेंगे, बल्कि कई गंभीर रोगों को भी आपसे दूर रखने में मदद करता है।

All Image Source: Freepik

Disclaimer