सर्द‍ियों में कान ढकना और सिर पर टोपी लगाना क्यों जरूरी है? जानें 5 समस्याएं जिनसे बचाती है टोपी

सर्द‍ियों में कान ढकने और स‍िर पर टोपी लगाने से आप कई समस्‍याओं से बच सकते हैं, जानने के ल‍िए पढ़ें पूरा लेख

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jan 03, 2022 17:57 IST
सर्द‍ियों में कान ढकना और सिर पर टोपी लगाना क्यों जरूरी है? जानें 5 समस्याएं जिनसे बचाती है टोपी

ठंड के द‍िनों में कानों को ढककर आप शरीर को गरम रख सकते हैं। शरीर को गरम रखने के ल‍िए गरम टोपी लगाना एक अच्‍छा व‍िकल्‍प है। गरम टोपी लगाने से स‍िर और कान कवर रहते हैं और आप ठंड के द‍िनों में फ्रॉस्‍टबाइट, हाइपोथर्म‍िया आद‍ि समस्‍याओं से बच सकते हैं। ठंड के द‍िनों में तापमान में अचानक बदलाव होने से या ठंडी हवा लगने से आपको बुखार हो सकता है पर अगर आप गरम टोपी लगाएंगे तो बुखार की समस्‍या से भी बचाव संभव है। इस लेख में हम कान ढकने और ठंड के द‍िनों में गरम टोपी लगाने के फायदों पर चर्चा करेंगे।

cap in winters

image source:herstepp.com

1. कान ढककर रेड‍िएशन से बच सकते हैं (Covering ear in winters prevents radiation)

रेड‍िएशन के कारण भी बॉडी हीट खो जाती है। रेड‍िएशन की समस्‍या तब होती है जब हम ज्‍यादा ठंडे वातावरण में रहते हैं। अगर आप ठंड के द‍िनों में गरम टोपी पहनते हैं तो आपकी बॉडी की हीट बची रहती है। आप ड्राइव करते समय भी खुद को ठंडी हवा से बचाने के ल‍िए गरम टोपी हैल्‍मेट के अंदर पहन सकते हैं। कोश‍िश करें क‍ि टोपी खरीदने से पहले चेक कर लें क‍ि वो गरम है या नहीं।

2. गरम टोपी पूरे शरीर को गरम रखती है (Warm hat keeps you warm)

अगर आप सर्दियों में गरम टोपी लगाएंगे तो आपके पूरे शरीर का ठंड से बचाव होगा। शरीर की गर्मी कान और गले के जर‍िए बाहर न‍िकल जाती है अगर आप खुद को गले से और कानों से ढककर रखेंगे तो शरीर गरम रहेगा इसके ल‍िए जरूरी है क‍ि आप ठंड के द‍िनों में गरम टोपी लगाएं। लंबे समय तक स्‍कि‍न को ठंडे वातावरण में रखने से आपको बुखार भी हो सकता है। आप अच्‍छी क्‍वॉल‍िटी की गरम हैट खरीदकर व‍िंटर में उसका इस्‍तेमाल जरूर करें।

इसे भी पढ़ें- 24 घंटे में दिल्ली में लगभग 50% तो मुम्बई में 70% बढ़े कोरोना केस, देश में ओमिक्रोन के मामले बढ़कर हुए 781

3. सर्द‍ियों में गरम टोपी लगाकर आप हाइपोथर्मि‍या से बच सकते हैं (Warm hat prevents hypothermia)

cap winters diseases

image source:herstepp.com

आप हाइपोथर्मिया के श‍िकार तब होते हैं जब आपका शरीर तेजी से गरमी को खो देता है और शरीर ठंडा हो जाता है। अगर आप ठंड में गरम टोपी लगाएंगे तो शरीर को गरम रखने में मदद म‍िलेगी और आप हाइपोथर्मि‍या के लक्षणों से बच सकते हैं। आपके शरीर में गर्मी को बनाए रखने के ल‍िए हवा लगने के रास्‍ते बंद रखने की जरूरत है और इसल‍िए कानों को ठंडी हवा से जरूर बचाकर रखें। हाइपोथर्म‍िया के लक्षण नजर आने पर आपको कंफ्यूजन, जुबान लड़खड़ाना, कंपकंपी जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं।

4. फ्रॉस्‍टबाइट से बचने के ल‍िए सर्द‍ियों में कान जरूर ढकें (Warm hat prevents frostbite)

फ्रॉस्‍टबाइट क्‍या होता है? फ्रॉस्‍टबाइट का मतलब है जब आपकी त्‍वचा ज्‍यादा समय के ल‍िए ठंडे वातावरण में रहती है तो ऊपरी त्‍वचा और अंदरूनी सेल जम जाते हैं ज‍िसके कारण हाथ, उंगली, पैर, कान, नाक या गाल पर घाव हो सकता है। अगर आप सर्द‍ियों में अपने कानों को गरम टोपी से ढककर रखेंगे तो फ्रॉस्‍टबाइट की समस्‍या से बच सकते हैं। इसके साथ ही आपको त्‍वचा को मॉइश्‍चराइज रखना भी जरूरी है। हमारे कान सबसे पहले फ्रॉस्‍टबाइट का श‍िकार होते हैं इसल‍िए कानों को सुरक्ष‍ित रखना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें- बार्थोलिन सिस्ट (वजाइना में गांठ) क्‍यों हो जाती है? जानें इस समस्‍या के कारण, लक्षण और बचाव के उपाय

5. सर्दियों में बुखार से बचना है तो गरम टोपी लगाएं (Warm hat prevents fever)

ठंड के द‍िनों में गरम टोपी पहनकर आप बुखार से बच सकते हैं। शरीर को ठंड लगने के कारण या तापमान में अचानक बदलाव के कारण बुखार के लक्षण नजर आते हैं पर अगर आप सर्दियों में टोपी लगाकर रखेंगे तो आप बुखार के लक्षण व सर्दी-जुकाम के लक्षणों से खुद को बचा सकते हैं।

ठंड के द‍िनों में लगाई जाने वाले गरम कैप को भी आप हर हफ्ते धोकर और साफ करके ही पहनें, अगर आप रोजाना बाहर जाते हैं तो गरम कैप को हफ्ते में दो बार धो सकते हैं।

main image source:herstepp.com

Disclaimer