दूध में हल्दी और घी डालकर सोने से पहले पिएं, सेहत को मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे

रात में सोने से पहले दूध में हल्दी और घी मिलाकर पीने से इम्यूनिटी बूस्ट होने के साथ-साथ शरीर की कई परेशानी दूर हो सकती है। आइए जानते हैं इसके बारे में

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Mar 11, 2022Updated at: Mar 11, 2022
दूध में हल्दी और घी डालकर सोने से पहले पिएं, सेहत को मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे

दूध, हल्दी और घी लगभग हर एक भारतीय घरों (Milk Benefits in Hindi) में इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या कभी आपने दूध, घी और हल्दी का एक साथ सेवन किया है? शायद आप में से कई लोगों ने इसका सेवन किया भी हो और न भी किया हो। अक्सर हमारे घर के बड़े-बुजुर्ग सर्दी-जुकाम और खांसी की परेशानी होने पर दूध, घी और हल्दी का सेवन करने की सलाह देते हैं। मुझे याद है कि बचपन में जब भी हमें सर्दी-जुकाम या फिर हाथ-पैरों में दर्द की परेशानी होती थी, तो मेरे पापा मां को हल्दी वाले दूध में घी मिलाकर पिलाने के लिए कहते थे। खासतौर पर रात के समय इस दूध (Can I eat ghee and milk together) को पीने के लिए हमें दिया जाता था। इसका स्वाद थोड़ा अजीब लगे, लेकिन जब आप इसका सेवन करना शुरू करेंगे, तो धीरे-धीरे आपको इसका स्वाद काफी पसंद आने लगेगा। मेरे साथ भी ऐसा हुआ है। इसलिए मैं आप लोगों को यह सलाह दे रही हूं। अब सवाल यह है कि रात के समय हल्दी वाले दूध में घी मिलाकर पीने से क्या होता है? अगर आपके मन में भी इस तरह का सवाल है, तो आइए विस्तार से जाने हैं इसके बारे में-

दूध में घी और हल्दी मिलाकर पीने के फायदे (Benefits of drinking milk with ghee and turmeric at night in Hindi)

दूध में हल्दी और घी का सेवन करने की सलाह न सिर्फ बड़े-बुजर्ग देते हैं, बल्कि आयुर्वेद में भी इस दूध का खास महत्व होता है। आइए जानते हैं इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदों के बारे में-

इसे भी पढ़ें - दूध छुहारा खाने से दूर होती हैं पुरुषों की ये 5 समस्याएं, जानें सेवन का सही तरीका

पाचन तंत्र को कर सकता है मजबूत

सादा एक गिलास दूध पीने से बेहतर है कि आप उसमें 1 चम्मच घी और 1 चुटकी हल्दी मिला लें। इससे आपको कई फायदा बहुंत सकता है। गर्म दूध में हल्दी और घी का संयोजन पाचन क्रिया को मजबूत बनाए रखने में आपकी मदद करता है। इस दूध का सेवन करने से शरीर में मौजूद हानिकारक विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं, जो पाचन में सुधार कर सकता है। इतना ही नहीं, यह कब्ज की परेशानी को दूर करता है। साथ ही प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाए रखने में आपकी मदद कर सकता है। 

स्किन को बनाए हेल्दी

हल्दी, घी और दूध आपकी स्किन को प्राकृतिक रूप से मॉइस्चराइजर करता है। इससे आपकी त्वचा बेहतर होती है। रोजाना रात को सोने से पहले दूध के साथ हल्दी और घी को मिलाकर पीने से आपकी स्किन हाइड्रेट होती है। साथ ही बेजान और डल स्किन रिपेयर हो सकती है। अगर आप अपने चेहरे पर निखार लाना चाहते हैं, तो रोजाना सोने से पहले (can we drink turmeric milk after dinner) दूध में घी और हल्दी मिलाकर पिएं।

मेटाबॉलिज्म को करे बूस्ट

रात को सोने से पहले घी और हल्दी वाला दूध पीने से सबसे हमारे शरीर के मेटाबॉलिज्म में सुधार आता है। मेटाबॉलिज्म से खाने के पचाने की क्षमता सुधरती है, जिससे वजन कम करने में आपको लाभ हो सकता है। साथ ही यह आपके बेहतर मूड के लिए भी बहुत ही जरूरी है। 

स्ट्रेस में करे सुधार

हल्दी वाले दूध के साथ घी मिक्स करके पीने से स्ट्रेस में सुधार आता है। चॉकलेट या आइसक्रीम की तरह, घी भी मूड को सुधारने के लिए सुपरफूड माना जाता है। यह आपके मूड को खुशी महसूस कराता है। आयुर्वेद के मुताबिक, रात में गर्म कप दूध पीने से नर्वस सिस्टम को शांत किया जाता है, जिससे व्यक्ति को नींद अच्छी आती है। यही कारण है कि यह पेय उन लोगों के लिए विशेष रूप से उपयोगी पाया जाता है, स्ट्रेस से जूझ रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें - शरीर के लिए संपूर्ण आहार माना जाता है दूध, एक्सपर्ट से जानें दूध पीने के फायदे और नुकसान

जोड़ों के दर्द को करे कम 

सोने से ठीक पहले दूध के साथ हल्दी और घी का सेवन करने से जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है। घी जोड़ों के लिए एक प्रसिद्ध स्नेहक के रूप में कार्य करता है। इसमें मौजूग गुण सूजन को कम करने में प्रभावित हो सकते  हैं। वहीं, दूध में कैल्शियम भरपूर रूप से मौजूद होता है, जो हड्डियों को नैचुरली मजबूत बनाए रखने में आपकी मदद कर सकते हैं। घी में मौजूद विटामिन K2 हड्डियों को दूध से कैल्शियम को सोखने में मदद करता है। वहीं, हल्दी सूजन और दर्द को कम करने में प्रभावी होता है। इसीलिए आयुर्वेद में दूध हल्दी और घी के कॉम्बिनेशन को बेहतर माना गया है। 

स्वास्थ्य की कई परेशानियों को दूर करने के लिए दूध के साथ हल्दी और घी मिलाकर पिएं। हालांकि, ध्यान रखें कि अगर आप पहले से किसी समस्या से जूझ रहे हैं, तो डॉक्टर या आयुर्वेद की सलाह पर ही इस दूध का सेवन करें।

Disclaimer