श‍िशु के चेहरे पर दाने निकलने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें बचाव के उपाय

Baby Acne: श‍िशुओं में दाने की समस्‍या को नजरअंदाज नहीं करना चाह‍िए, समय के साथ ये बढ़ सकते हैं। बेबी एक्‍ने के कारण और बचाव के तरीके जान लें। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Aug 14, 2022Updated at: Aug 14, 2022
श‍िशु के चेहरे पर दाने निकलने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें बचाव के उपाय

श‍िशुओं की त्‍वचा कोमल होती है। कई श‍िशुओं की त्‍वचा पर दाने न‍िकलने की समस्‍या देखने को म‍िलती है। इन दानों का इलाज न क‍िए जाने पर ये फुंसी या फोड़े का रूप ले लेता है। दाने की समस्‍या मानसून या गर्मी के मौसम में बढ़ जाती है। श‍िशुओं की त्‍वचा में दाने चेहरे, गले या पीठ पर न‍िकल सकते हैं। इन दानों के कारण श‍िशु को त्‍वचा में खुजली या चुनचुनाहट महसूस हो सकती है। इस लेख में हम श‍िशु की त्‍वचा में दाने न‍िकलने के कारण और बचाव के तरीके जानेंगे।   

baby acne treatment

श‍िशुओं की त्‍वचा में दाने क्‍यों न‍िकलते हैं?- Baby Acne Causes  

  • गंदगी के कारण श‍िशु के चेहरे पर दाने नजर आ सकते हैं। श‍िशु की त्‍वचा में गंदगी है, तो बैक्‍टीर‍िया पनप सकते हैं।
  • अगर बच्‍चे की त्‍वचा ज्‍यादा संवेदनशील है, तो मौसम में बदलाव के कारण भी दाने की समस्‍या हो सकती है।
  • हार्मोनल बदलाव के कारण श‍िशु की त्‍वचा में दाने न‍िकलने की समस्‍या हो सकती है।  
  • एलर्जी के कारण श‍िशु की त्‍वचा पर दाने न‍िकल सकते हैं। अगर बच्‍चे की त्‍वचा संवेदनशील है, तो डॉक्‍टर की सलाह पर ही उसकी त्‍वचा पर कोई उत्‍पाद अप्‍लाई करें।
  • श‍िशु को ज्‍यादा पसीना आने के कारण, दाने न‍िकलने की समस्‍या हो सकती है। अक्‍सर गर्मि‍यों में ये समस्‍या बढ़ जाती है। 
  • स्‍तनपान के बाद श‍िशु का चेहरा साफ कपड़े से पोछ दें। दूध त्‍वचा पर लगे रहने के कारण संक्रमण हो सकता है।    

इसे भी पढ़ें- श‍िशु को बहुत ज्यादा दूध तो नहीं पिला रहीं आप? इन संकेतों से पहचानें

श‍िशु को दाने की समस्‍या से कैसे बचाएं?- Baby Acne Prevention Tips 

1. श‍िशु के शरीर को साफ रखें। श‍िशु को रोज नहीं नहला सकते, तो रोजाना स्‍पंज जरूर करें।

2. श‍िशु को नहलाने के कारण उसे अच्‍छी तरह से पोछ दें। श‍िशु की त्‍वचा गीली नहीं रहनी चाह‍िए। 

3. श‍िशु को साफ और ढीले कपड़े पहनाएं।  

4. श‍िशु की त्‍वचा पर दाने न‍िकले हैं, तो आप उसे हल्‍के गुनगुने पानी से नहलाएं।

5. बच्‍चे को ज्‍यादा आहर न लेकर जाएं। धूल-म‍िट्टी के कारण श‍िशु की त्‍वचा में संक्रमण हो सकता है।  

6. इस बात का खास ख्‍याल रखें, क‍ि बच्‍चे का तक‍िया, चादर या तौल‍िए साफ हो। 

7. श‍िशु को छूने से पहले हाथों को अच्‍छी तरह से साफ करें, आपके हाथों के जर‍िए श‍िशु को संक्रमण हो सकता है।  

इन ट‍िप्‍स का ध्‍यान रखकर आप श‍िशु को दाने की समस्‍या से बचा सकते हैं। श‍िशु की त्‍वचा में दाने बढ़ रहे हों, तो घरेलू उपाय अपनाने के बजाय डॉक्‍टर से दवा लें। 

Disclaimer