Doctor Verified

श‍िशु को बहुत ज्यादा दूध तो नहीं पिला रहीं आप? इन संकेतों से पहचानें

श‍िशु को ज्‍यादा दूध प‍िला देने से उसके पेट में गैस या दर्द की समस्‍या हो सकती है। जानें श‍िशु को ओवरफीड‍िंग करवाने के संकेत    

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 14, 2022Updated at: Jul 14, 2022
श‍िशु को बहुत ज्यादा दूध तो नहीं पिला रहीं आप? इन संकेतों से पहचानें

नए माता-प‍िता को श‍िशु की परवर‍िश में कई चुनौत‍ियों का सामना करना पड़ता है। श‍िशु अपनी परेशानी बोलकर नहीं बता सकते इसल‍िए उनकी परेशानी को समझकर हल करना खुद में एक बड़ी चुनौती है। श‍िशुओं से जुड़ी ऐसी ही एक समस्या है क‍ि कई बार बच्‍चा ज्‍यादा दूध प‍ी लेता है ज‍िसके कारण उसकी तबीयत ब‍िगड़ सकती है। श‍िशु के ल‍िए जरूरत से ज्‍यादा या कम दूध पीना दोनों हान‍िकारक हो सकता है। आप भी बच्‍चे को ओवरफीड‍िंग करवाते हैं, तो आपको श‍िशु की भूख को समझना होगा। बच्‍चे को ओवरफ‍िड‍िंग करवाने के संकेत पर हम आगे बात करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

overfeeding baby signs

श‍िशु के ज्‍यादा दूध पीने के संकेत- Overfeeding Baby Signs  

1. अगर श‍िशु कम अंतराल में बार-आर मलत्‍याग कर रहा है, तो हो सकता है आप उसे ज्‍यादा दूध प‍िला रहे हों।

2. श‍िशु का वजन असामान्‍य ढंग से बढ़ रहा है, तो ये ज्‍यादा दूध प‍ीने का संकेत हो सकता है। 

3. श‍िशु के ज्‍यादा पेशाब करने का कारण भी ओवरफीड‍िंग हो सकता है।

4. अगर श‍िशु दूध पीते हुए रो रहा है, तो हो सकता है उसका पेट भर गया हो।

5. श‍िशु का पेट भर जाने पर वो बोतल से मुंह हटा देते हैं।

6. अगर श‍िशु दूध पीते समय दूध मुंह से न‍िकालने लगे, तो समझ जाएं उसने जरूरत से ज्‍यादा दूध पी ल‍िया है।

7. दूध पीने के दौरान द‍िलचस्‍पी न लेना भी इस बात का संकेत हो सकता है क‍ि बच्‍चे का पेट ज्‍यादा भर गया है।

इसे भी पढ़ें- शिशुओं को स्तनपान कराने के 5 तरीके और इनके फायदे, जिनके बारे में नई मांओं को जरूर जानना चाहिए

श‍िशुओं में ओवरफीड‍िंग के नुकसान- Overfeeding Side Effects 

  • बोतल से दूध पीने वाले श‍िशु कभी-कभी ज्‍यादा हवा न‍िगल लेते हैं। इस कारण से उनमें पेट फूलने की समस्‍या हो सकती है।
  • ज्‍यादा दूध प‍ी लेने के कारण श‍िशु को गैस या पेट में दर्द की समस्‍या हो सकती है। 
  • जरूरत से ज्‍यादा दूध पी लेने के कारण श‍िशु को बार-बार मलत्‍याग करने की जरूरत पड़ सकती है। इससे उसे कमजोरी महसूस हो सकती है।            

ये ट‍िप्‍स अपनाएं 

  • श‍िशु दूध पीते समय अगर आपको पेट भर जाने का संकेत दे, तो उसे समझें।
  • आप श‍िशु को एक तय समय पर दूध पीने की आदत डालें।
  • अगर श‍िशु दूध पीने से मना कर दे, तो जबरदस्‍ती न करें। 
  • आप श‍िशु की बोतल का साइज चेक करें। बड़ी बोतल से दूध पीने के कारण ओवरफीड‍िंग की समस्‍या हो सकती है।
  • श‍िशु की उम्र के मुताब‍िक दूध की सही मात्रा जानने के ल‍िए लैक्‍टेशन एक्‍सपर्ट या डॉक्‍टर की सलाह लें। 

लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें। ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए एक्‍सपर्ट से सलाह लें।     

Disclaimer