कूल्हों के दर्द से रहते हैं परेशान तो अपनाएं ये आसान उपाय, आयुर्वेद एक्सपर्ट से जानें घरेलू इलाज

अगर आप भी अपने कूल्हे के दर्द से परेशान हैं तो आयुर्वेद के इन तरीकों का इस्तेमाल कर पाएं तुरंत राहत।

Vishal Singh
आयुर्वेदWritten by: Vishal SinghPublished at: Dec 28, 2020
कूल्हों के दर्द से रहते हैं परेशान तो अपनाएं ये आसान उपाय, आयुर्वेद एक्सपर्ट से जानें घरेलू इलाज

कूल्हों में दर्द के कारण कई लोग परेशान रहते हैं, किसी को चलने-फिरने में परेशानी होती है तो किसी को उठने-बैठने में। कूल्हों के दर्द के कई कारण हो सकते हैं, इसमें वो लोग भी शामिल हैं जो घंटों कंप्यूटर और लैपटॉप के सामने बैठे रहते हैं। जिसके कारण एक समय पर कूल्हों में दर्द होने लगता है। कई लोगों के लिए ये समस्या इतनी गंभीर बन जाती है कि वो हमेशा उन्हें दर्द देती है। इससे छुटकारा पाने के लिए लोग अक्सर परेशान रहते हैं लेकिन फिर भी कोई खास असर देखने को नहीं मिलता। इसके लिए आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप आयुर्वेद के जरिए भी इस दर्द को दूर कर सकते हैं। जी हां, आपके पास आयुर्वेद में ऐसे विकल्प मौजूद है जिसकी मदद से आप आसानी से अपने दर्द को दूर कर सकते हैं और खुद को स्वस्थ रख सकते हैं। हमने इस विषय पर बात की है डॉ. अनार सिंह आयुर्वेदिक कॉलेज एवं अस्पताल के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष , शल्य तंत्र की डॉक्टर राखी मेहरा से। जिन्होंने बताया कि कैसे कूल्हे के दर्द को दूर किया जा सकता है। 

hip pain

कूल्हे के दर्द के लिए आयुर्वेदिक उपचार

निर्गुंडी 

निर्गुंडी आयुर्वेद में एक बेहतरीन जड़ी-बूटी के रूप में देखी जाती है जिसकी मदद से कई तरह की समस्या और दर्द को आसानी से दूर किया जा सकता है। इतना ही नहीं निर्गुंडी शरीर के किसी भी हिस्से में होने वाले दर्द और सूजन को कम करने के लिए जाना जाता है। निर्गुंडी में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-कनवल्जिंग और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भारी मात्रा में पाए जाते हैं। निर्गुंडी की पत्तियों की मदद से आप अपने दर्द और सूजन को आसानी से कम कर सकते हैं। इसके लिए आप निर्गुंडी पत्तियों को अच्छी तरह से पीसकर प्रभावित हिस्से पर लगा सकते हैं। नियमित रूप से ऐसा करने पर आपकी सूजन और दर्द कम होने लगेगी। ये आपकी मांसपेशियों को गर्म कर उन्हें राहत प्रदान करने का काम करती है। 

इसे भी पढ़ें: 5 प्रकार का होता है गर्दन का दर्द (Neck Pain), डॉक्टर से जानें इनका कारण और घरेलू उपाय

अजवाइन

अजवाइन में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो आपके कूल्हे के दर्द या सूजन को कुछ ही देर में कम कर सकते हैं। अजवाइन में एनेस्थेटिक तत्व पाए जाते जो तेजी से किसी भी शरीर के हिस्से में होने वाले दर्द को कम करने का काम करते हैं। अजवाइन का इस्तेमाल दर्द और सूजन में कई प्रकार से किया जाता है। इसके लिए आप गर्म तेल के साथ अजवाइन को रखें और अपने प्रभावित हिस्से पर इससे मालिश करें। इसके अलावा आप गर्म पानी में अजवाइन को डालें और फिर अपने दर्द वाले हिस्से को भी उसमें डाल दें। कुछ ही देर में आपको कूल्हे में होने वाले दर्द और सूजन को कम होती नजर आएगी। 

hip pain

अदरक

अदरक हमारे पूर्ण स्वास्थ्य के लिए कितनी फायदेमंद है ये तो आप सभी जानते हैं, ये हमे कई रोगों से दूर रखने के साथ कई गंभीर समस्याओं से निजात दिलाती है। ऐसे ही अदरक को आयुर्वेद में दर्द और सूजन को कम करने के लिए असरदार माना जाता है। अदरक में ऐसे खास गुण होते हैं जो आपके कूल्हे के दर्द और सूजन को भी शानी से दूर कर सकते हैं। इतना ही नहीं अदरक का नियमित रूप से सेवन करने पर ये आपके शरीर में रक्त के संचार में भी सुधार करता है। 

इसे भी पढ़ें: इन 3 तरीके से लोगों को परेशान करता है कोहनी का दर्द, एक्सपर्ट से जानें कोहनी में दर्द का कारण और घरेलू उपचार

शल्लकी

शल्लकी भी आयुर्वेद में एक बेहतरीन जोड़ों के दर्द और किसी भी हिस्से को दर्द को कम करने के लिए फायदेमंद मानी जाती है। शल्लकी में भी ऐसे खास तत्व पाए जाते हैं जो आपके शरीर में आई किसी भी सूजन और दर्द को आसानी से दूर कर सकता है। आप चाहें तो शल्लकी के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं या तेल से मसाज कर सकते हैं। शल्लकी का तेल बाजार में आसानी से उपलब्ध है। 

एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर आपके कूल्हे में बहुत दिनों तक दर्द रहता है और किसी भी तरीके से आराम नहीं मिल रहा तो इसके लिए आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और संबंधित इलाज कराएं।

 

Read More Articles on ayurveda in hindi

 

Disclaimer