सिर दर्द, खांसी, दस्त जैसी इन 6 समस्याओं में फायदेमंद है कनक चंपा, जानें अन्य औषधीय लाभ

कनक चंपा औषधीय गुणों से भरपूर एक पेड़ है ज‍िसके पत्‍ते, फूल, जड़ आद‍ि का इस्‍तेमाल कई तरह की बीमार‍ियों को ठीक करने के ल‍िए क‍िया जाता है

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jul 29, 2021 10:15 IST
सिर दर्द, खांसी, दस्त जैसी इन 6 समस्याओं में फायदेमंद है कनक चंपा, जानें अन्य औषधीय लाभ

कनक चंपा का पेड़ दिखने में जि‍तना सुंदर लगता है उतने ही औषधीय गुणों से भरपूर होता है। कनक चंपा का इस्‍तेमाल कई बीमार‍ियों को ठीक करने के ल‍िए औषधी के रूप में क‍िया जाता है। कनक चंपा पेड़ की छाल, पत्‍ते, फूल आद‍ि बीमार‍ियों के इलाज में काम आते हैं। कनक चंपा के फूल सफेद होते हैं और भूरे व लाल रंग के फल इस पेड़ पर लगते हैं। कनक चंपा को मराठी में मुचकुंद भी कहा जाता है। कनक चंपा का इस्‍तेमाल दस्‍त की समस्‍या, स‍िर दर्द, खांसी आद‍ि को दूर करने के ल‍िए क‍िया जाता है। इस लेख में हम कनक चंपा के अन्‍य फायदों और इस्‍तेमाल करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

kanak champa

1. स‍िर का दर्द दूर करता है कनक चंपा (Headache)

कई लोगों को स‍िर का दर्द होने पर बाम लगाना या दवा खाना पसंद नहीं होता और फि‍र घंटों काम करने वाले लोगों के ल‍िए स‍िर का दर्द एक आम समस्‍या है, लेक‍िन आप नैचुरल चीजों का इस्‍तेमाल करेंगे तो नुकसान नहीं होगा हालांक‍ि आपको नैचुरल चीजों की मात्रा को भी कम ही रखना है। स‍िर दर्द होने पर आप कनक चंपा के फूल को धोकर पीस लें और म‍िश्रण में नीलग‍िरी का तेल म‍िला लें और स‍िर पर लगा लें, इससे स‍िर का दर्द दूर हो जाएगा। 

इसे भी पढ़ें- बुखार, सूजन, अल्सर जैसी इन 5 समस्याओं को दूर करती है 'धमासा' औषधी, जानें इसके अन्य लाभ

2. दर्द और चोट को ठीक करता है कनक चंपा (Pain)

कनक चंपा का स्‍वाद भले ही कड़वा होता है लेक‍िन इसमें कमाल के गुण हैं। कनक चंपा के फूलों में एक प्रकार का तेल होता है ज‍िसको इस्‍तेमाल करने से दर्द दूर होता है। अगर आपको कहीं चोट लगी और खून बह रहा है तो कनक चंपा का फूल खून को रोकने में मदद करता है। आपको स‍िर्फ फूल को पीसकर चोट पर लगाना है। 

3. खांसी की समस्‍या दूर करता है कनक चंपा (Cough)

kanak champa benefits

मौसम बदलने से अक्‍सर लोगों को खांसी की समस्‍या हो जाती है या ज्‍यादा ठंडा पीने से भी खांसी हो सकती है, खांसी दूर करने के ल‍िए कनक चंपा की छाल का चूरण म‍िलाएं और उसमें काली म‍िर्च कूटकर म‍िलाएं और इसे गरम पानी के साथ खा लें, इससे खांसी की समस्‍या दूर हो जाएगी। आप इस म‍िश्रण में शहद भी म‍िला सकते हैं। कई लोगों को गला खराब होने के साथ सूजन की भी श‍िकायत होती है, कनक चंपा के इस्‍तेमाल से गले की समस्‍या दूर होगी। आप कनक चंपा के पत्‍ते का काढ़ा बनाकर गरारे भी कर सकते हैं, इस तरीके से भी गले की सूजन ठीक हो जाती है। 

4. डायर‍िया को भी ठीक करता है कनक चंपा (Diarrhoea)

kanak champa uses

कनक चंपा के सेवन से आप डायर‍िया की समस्‍या से भी छुटकारा पा सकते हैं। इसका तरीका बेहद आसान है। कनक चंपा के पत्‍तों को धोकर पीस लें और दो ग‍िलास पानी गरम कर लें। गरम पानी में म‍िश्रण म‍िलाएं और जब तक पानी आधा न हो जाए उसे उबलने दें। इसके बाद पानी को ग‍िलास में न‍िकालकर उसका सेवन करें। आप इस म‍िश्रण में भुना जीरा भी म‍िला सकते हैं तो पेट में दर्द की समस्‍या भी दूर हो जाएगी। 

5. सूजन को कम करता है कनक चंपा (Swelling)

कनक चंपा के पत्‍तों को पीसकर लगाने से सूजन कम होती है। सूजन के अलावा अगर क‍िसी कीड़े ने काट ल‍िया है तो भी आप दर्द और सूजन को कम करने के ल‍िए कनक चंपा के पत्‍तों को पीसकर घाव पर लगाएं तो दर्द और सूजन से न‍िजात म‍िलेगा। 

इसे भी पढ़ें- 'मैदा लकड़ी' के इस्तेमाल से पाएं सूजन, दर्द, चोट जैसी इन 5 समस्याओं में तुरंत आराम, जानें प्रयोग का तरीका

6. सफेद पानी आने की समस्‍या को भी दूर करता है कनक चंपा (White Discharge)

कनक चंपा के पत्‍तों को पीसकर गरम पानी के साथ उसका सेवन करने से मह‍िलाओं में सफेद पानी आने की समस्‍या से भी छुटकारा म‍िलता है। कुछ आयुर्वेद के डॉक्‍टर इस उपाय को सही मानते हैं वहीं कुछ के मुताब‍िक ये नुस्‍खा उतना कारगर नहीं है। 

आप क‍िसी भी घरेलू उपाय में कनक चंपा का इस्‍तेमाल कर रहे हैं तो अपने डॉक्‍टर से इस पर सलाह जरूर लें, तभी इन नुस्‍खों का इस्‍तेमाल करें। 

Read more on Ayurveda in Hindi 

Disclaimer