दशमूलारिष्ट क्या है? जानें महिलाओं के लिए क्यों फायदेमंद है ये आयुर्वेदिक औषधि

दशमूलारिष्ट 10 आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों के मेल से बनी खास औषधि है, जो महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद हो सकती है।

Written by: Updated at: Nov 12, 2022 13:30 IST
दशमूलारिष्ट क्या है? जानें महिलाओं के लिए क्यों फायदेमंद है ये आयुर्वेदिक औषधि

लगभग 5000 साल से ही आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति ने मानव जाति के संपूर्ण शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक विकास के लिए बहुत काम किया है। बता दें सभी जड़ी-बूटियां अपने आप में तो फायदेमंद होती ही हैं,पर जब इन्हें अन्य जड़ी-बूटियों के साथ मिला दिया जाता है, तो ये सेहत के लिए और भी ज्यादा फायदेमंद हो जाती हैं। ऐसे ही औषधीय गुणों से भरपूर है दशमूलारिष्ट। इसे दशमूल क्वाथ भी कहते हैं। आयुर्वेद एक्सपर्ट डॉक्टर चंचल शर्मा बताती हैं कि दशमूलारिष्ट पीरियड हो या प्रेगनेंसी या फिर मेनोपॉज की स्थिति, महिलाओं की हर स्वास्थ्य समस्या में कारगर है। इस जड़ी-बूटी के इस्तेमाल से काफी लक्षणों को दूर किया जा सकता है। अगर हम दशमूलारिष्ट के फायदे के बारे में बात करें, तो दशमूलारिष्ट में बहुत से औषधीय गुण पाए जाते हैं। आइए जानते हैं पीसीओएस से लेकर मेनोपॉज के लिए दशमूलारिष्ट के फायदे।

दशमूलारिष्ट क्या है?

दशमूलारिष्ट एक आयुर्वेदिक औषधि है, जो दस सूखी जड़ी-बूटियों को मिलाकर तैयार की जाती है। दशमूल में वे गुण होते हैं, जो कई स्वास्थ्य स्थितियों, विशेष रूप से नसों, मांसपेशियों, हड्डियों, जोड़ों आदि को स्वस्थ रखते हैं। ये महिलाओं की स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याओं को दूर कर सकते हैं। दशमूल संस्कृत शब्द से मिलकर बना है, जहां 'दश' का अर्थ है दस और 'मूल' का अर्थ जड़ है। दशमूल, सूजन और दर्द जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज के लिए जादुई रूप से काम करता है। यह शरीर को शक्ति प्रदान करता है। साथ ही शरीर की सूजन को कम कर एनर्जेटिक बनाता है। 

इसे भी पढ़ें- महिलाओं के लिए शतावरी है फायदेमंद, पीरियड्स और यौन परेशानियों से दिलाता है राहत

दशमूलारिष्ट लाभ के फायदे

  • दशमूलारिष्ट एक नैचुरल पेन रिलीवर की तरह काम करता है इसलिए डिलीवरी के बाद महिलाओं को इसका सेवन जरूर करना चाहिए। साथ ही शरीर में होने वाली कमजोरी दूर करता है और स्तनपान कराने वाली महिला के दूध में वृद्धि करता है।  
  • आजकल अधिकतर लोगों का हाजमा खराब रहता है और पाचन संबंधी समस्याएं रहती हैं। लेकिन दशमूल इन सबसे राहत दिलाने में मदद करता है। आपको बता दें ये फूड एलर्जी का सबसे अच्‍छा घरेलू उपचार है। 
dashmularisht
  • हार्मोन असंतुलन के कारण PCOS होता है। पीसीओएस हो या पीसीओडी की स्थिति, दशमूलारिष्ट इसे मैनेज करने में मदद करता है। यह हार्मोन लेवल को बैलेंस कर इन्फर्टिलिटी को ठीक करता है। साथ ही ये पीसीओएस के कारण होने वाले अनियमित पीरियड को भी सही करता है। 
  • दशमूलारिष्ट महिलाओं के सेक्स हार्मोन जैसे एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन को बढ़ाने में मदद करता हैं। 
  • अगर आपको अनियमित पीरियड्स या माहवारी के दौरान बहुत अधिक ब्लीडिंग होती है, ब्लड क्लॉट्स आते हैं या फिर बहुत अधिक दर्द होता है, तो ऐसे में आपके लिए दशमूलारिष्ट का सेवन करना फायदेमंद है।
  • मेनोपॉज की समस्या को दूर करने में दशमूलारिष्ट बेहद ही लाभकारी माना गया है। 
  • वजन बढ़ने के कारण ज्वाइंट्स प्रभावित होने लगते हैं। ऐसे समय में दशमूलारिष्ट का सेवन करना चाहिये।

नोट: दशमूलारिष्ट को ज्यादा मात्रा में लेने से विषाक्तता या गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। आपको इस दवा की निर्धारित खुराक ही लेनी चाहिए। इसके लिए इसके पैकेट पर लिखे निर्देश का पालन करें या आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह लें।

Disclaimer