महिलाओं की कई समस्याओं को दूर करेंगी ये 6 तरह की पत्तियां, रोजाना कर सकते हैं इस्तेमाल

महिलाओं की समस्याओं को दूर करने के लिए कई नैचुरल पत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इन पत्तियों में कई औषधीय गुण होते हैं। जानते हैं इसके बारे में-

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Apr 02, 2022Updated at: Apr 02, 2022
महिलाओं की कई समस्याओं को दूर करेंगी ये 6 तरह की पत्तियां, रोजाना कर सकते हैं इस्तेमाल

हमारे आसपास कई तरह की पत्तियां मौजूद हैं। इन पत्तियों में कई तरह के औषधीय गुण मौजूद होते हैं, जो शरीर की कई बीमारियों को दूर करने में कारगर हो सकते हैं। औषधीय गुणों से भरपूर इन पत्तियों से महिलाओं की परेशानियां जैसे- पीरियड्स में दर्द, मोटापा, थायराइड की समस्या, झड़ते बालों की परेशानी, स्ट्रेस, कमजोर प्रजनन क्षमता इत्यादि को दूर किया जा सकता है। शरीर की इन परेशानियों को दूर करने के लिए हम प्रकृति में मौजूद कई पत्तियां जैसे- नीम, तुलसी, सहजन की पत्ती, करी पत्ते इत्यादि का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइए विस्तार से जानते हैं ऐसी कुछ खास पत्तियों के बारे में जिससे महिलाओं की परेशानी हो सकती है दूर- 

महिलाओं की परेशानियां दूर कर सकती हैं ये पत्तियां

1. मोरिंगा की पत्तियां 

सहजन की पत्तियां या मोरिंगा की पत्तियां शरीर में हार्मोन को संतुलित करने में मददगार होती है। खासतौर पर महिलाओं को मोनोपॉज के दौरान होने वाली समस्याओं को दूर करने में सहजन की पत्तियां काफी लाभकारी मानी जाती हैं। इसकी पत्तियों से तैयार पाउडरका सेवन करने से मोनोपॉज के दौरान होने वाले तनाव को कम किया जा सकता है। साथ ही थायराइड से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के लिए भी मोरिंग की पत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इतना ही नहीं, सहजन की पत्तियों के इस्तेमाल से पीरियड्स में ऐंठन, दर्द, नींद न आने की परेशानी दूर हो सकती है।

इसे भी पढ़ें - पीरियड्स के दौरान दर्द और ऐंठन से हो जाती हैं परेशान तो ट्राई करें ये 5 एसेंशियल ऑयल्स, मिलेगा फायदा

2. करी पत्ते

करी पत्ता स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके सेवन से गर्भवती महिलाओं की परेशनी जैसे- मतली, उल्टी इत्यादि को दूर किया जा सकता है। इइसके अलावा पीरियड्स के दौरान करी पत्तियों से तैयार चाय का सेवन करने से पीरियड्स के दौरान होने वाली परेशानी दूर की जा सकती है। 

इसके अलावा कई महिलाएं करी पत्ते का इस्तेमाल बालों और स्किन की परेशानियों को दूर करने के लिए भी करती हैं। करी पत्ते के इस्तेमाल से झड़ते बालों की समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। साथ ही यह स्किन पर निखार लाने में प्रभावी है। 

3. गुलहड़ की पत्तियां

झड़ते बालों की परेशानी को दूर करने के लिए कई महिलाएं गुलहड़ की पत्तियों का इस्तेमाल करती हैं। वहीं, इसकी पत्तियों से तैयार चाय का सेवन करने से पीरियड्स में होने वाली परेशानी जैसे- पेट दर्द, ऐंठन, हैवी ब्लीडिंग इत्यादि को कम किया जा सकता है। 

4. तुलसी की पत्तियां

तुलसी की पत्तियां कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटी और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती हैं। इसकी पत्तियों का सेवन इम्यूनिटी बूस्ट करने के साथ-साथ महिलाओं के शरीर में होने वाली समस्याएं जैसे - पेट दर्द, उल्टी, ऐंठन इत्यादि को कम कर सकती हैं। इसके अलावा गर्भावस्था में तुलसी की पत्तियां खाने से शरीर को कई अन्य लाभ जैसे- स्ट्रेस रिलीज, मोटापा कंट्रोल, बैक्टीरियल समस्याओं से बचाव किया जा सकता है। 

5. नीम की पत्तियां

महिलाओं के लिए नीम की पत्तियां काफी लाभकारी होती हैं। नीम की पत्तियों में मौजूद औषधीय गुण शरीर की कई समस्याओं को दूर करने में प्रभावी होती  हैं। यह मोटापा से लेकर स्किन की समस्याओं को दूर कर सकती हैं। महिलाओं में होने वाली कई तरह की स्किन से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए नीम की पत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही यह मोनोपॉज और पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याओं को दूर कर सकता है।

इसे भी पढ़ें - पीरियड्स में हैवी ब्लीडिंग की समस्या दूर कर सकते हैं केले का फूल, जानें खाने का तरीका 

6. धनिया की पत्तियां

धनिये की पत्तियों का इस्तेमाल हम अधिकतर सब्जियों को सजाने के लिए करते हैं। वहीं, कुछ लोग चटनी तैयार करने के लिए भी धनिए की पत्तियों का इस्तेमाल करते हैं। यह स्किन से लेकर स्वास्थ्य संबंधी परेशानी दूर कर सकते हैं। इसके सेवन से महिलाओं में होने वाली थायराइड की परेशानी दूर होती है। साथ ही यह शरीर में हार्मोंस को बैलेंस कर सकता है।

महिलाओं के शरीर में होने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए इन पत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा प्रकृति में कई अन्य ऐसी पत्तियां हैं, जिसके इस्तेमाल से महिलाओं की परेशानी दूर होती है। इसके अलावा ध्यान रखें कि इन पत्तियों के इस्तेमाल से आपकी परेशानी कम हो सकती है, लेकिन अगर आप किसी गंभीर परिस्थिति से जूझ रहे हैं, तो डॉक्टर से परामर्श जरूर लें। 

 

Disclaimer