जानें यूरीन इंफेक्शन में कैसे फायदेमंद है आंवले का रस

अगर आपको यूरीन से जुड़ी किसी भी तरह की समस्या है तो आंवले का जूस पिएं। समस्या से निजात मिलेगा।

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Oct 29, 2020 19:29 IST
जानें यूरीन इंफेक्शन में कैसे फायदेमंद है आंवले का रस

महिलाओं में पेशाब से संबंधित समस्याएं और इंफेक्शन काफी आम है, ये स्थिति किसी को भी काफी परेशान कर सकती है। ये संक्रमण कई कारणों से हो सकता है, लेकिन इसमें अस्वच्छता, खराब इम्यून सिस्टम, किसी दवा का ज्यादा सेवन करना और संभोग के कारण ये समस्या आम है। इस स्थिति में जलन, दर्द और पेट के निचले हिस्से में आपको सूजन भी महसूस हो सकती है। इसके लिए आपको तुरंत राहत या इलाज की जरूरत होती है। लेकिन इन सबके अलावा आप घर पर भी इससे राहत पा सकते हैं और पेशाब से संबंधित संक्रमण को रोकने में कामयाब हो सकती है। आप आंवले के जूस की मदद से पेशाब में होने वाले इंफेक्शन को रोक सकते हैं। हम आपको इस लेख में बताते हैं कि आंवले का जूस आपकी इस खराब स्थिति के लिए कैसे फायदेमंद है। इसके साथ ही ये इसका सेवन आपको किस तरीके से करना चाहिए जिससे आप खुद को स्वस्थ रख सके।

amla

क्यों होती है यूरीन इन्फेक्शन की समस्या

  • बहुत अधिक समय तक पेशाब रोकने से।
  • मूत्र-मार्ग में संक्रमण होने से।
  • शौचालय अगर गंदा हो तो भी ये समस्या हो जाती है।

इसे भी पढ़ें- इन 5 तरीकों से जानें पेशाब का रंग कैसे बताता है आपका स्वास्थ्य, कई समस्याओं का हो सकता है संकेत

इसके लक्षण

महिलाओं को ही क्यों

  • महिलाओं को यूरीन इन्फेक्शन की समस्या अधिक होती है। क्योंकि महिलाएं सार्वजिनक जगहों और स्कूल-कॉलेज में टॉयलेट नहीं होने पर शरीर से यूरीन नहीं निकाल पातीं। जबकि पुरुषों के साथ ऐसा नहीं है।
  • अगर कहीं टॉयलेट होते भी हैं तो वो साफ नहीं होते। टॉयलेट की गंदगी के कारण भी यूरीन इंफेक्शन की समस्या होती है।
  • मीटिंग में रहने व बार-बार टॉयलेट जाने के शर्म के कारण महिलाएं टॉयलेट जाने से कतराती हैं।
  • शरीर में पानी की पर्याप्त मात्रा न होने के कारण।

इसे भी पढ़ें- बार-बार पेशाब आने को न करें नजरअंदाज, इन बीमारियों का भी हो सकता है संकेत

आंवले का इस्तेमाल

  • रोज सुबह खाली पेट एक गलास (10 ml) आंवले का जूस पिएं।
  • इससे शरीर में मौजूद सारे विषैले तत्व बाहर निकल जाएंगे।
  • जिससे की पेट और किडनी साफ हो जाएंगी।
  • और यूरीन इंफेक्शन की समस्या नहीं होगी। 

Read more articles on Women's Health in Hindi.

Disclaimer