क्या आपको भी छुट्टी के दिन होती है सिरदर्द की समस्या? जानें Weekend Headache के 5 बड़े कारण

बहुत सारे लोगों को छुट्टी के दिन सिर दर्द की समस्या होती है। आप इसे सामान्य समझकर नजरअंदाज कर सकते हैं मगर इसका कारण आपकी ही कुछ गलत आदतें हो सकती है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Dec 01, 2019
क्या आपको भी छुट्टी के दिन होती है सिरदर्द की समस्या? जानें Weekend Headache के 5 बड़े कारण

क्या आपको भी छुट्टियों के दिन सिर दर्द की समस्या होती है? अगर ऐसा है तो आप इस समस्या से जूझने वाले अकेले नहीं हैं। वीकेंड हेडेक (Weekend Headache) कोई कोरी कल्पना की चीज नहीं, बल्कि सच्चाई है। दुनियाभर में लाखों लोग वीकेंड हेडेक से हर हफ्ते गुजरते हैं। आमतौर पर हमें लगता है कि सप्ताह में वो एक-दो दिन जिनमें हमें काम नहीं करना है, हमें सुकून देंगे। मगर कई लोगों के साथ उल्टा होता है और छुट्टियों के दिन अक्सर शाम के समय या सुबह उठने के बाद उन्हें सिर दर्द की समस्या हो जाती है।

आमतौर पर ऐसे में लोग पेन किलर खा लेते हैं और दर्द को खत्म कर लेते हैं। मगर क्या आपने कभी सोचा है कि वींकेड पर ऐसा क्या होता है, जो आपके सिर दर्द का कारण बनता है? तो आज हम आपको बताते हैं ऐसी ही 5 बातें, जो वीकेंड हेडेक का कारण बनती हैं।

छुट्टी से पहली वाली रात देर तक जागना

आमतौर पर जो लोग एक बंधे-बंधाए शेड्यूल में काम करते हैं, उनके लिए छुट्टी का दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है। छुट्टी के दिन का एंजॉयमेंट छुट्टी के पहले वाली शाम से ही शुरू कर दिया जाता है, जिसके कारण आप रात में देर तक जागते हैं, मूवीज देखते हैं, पार्टी करते हैं, अपनी मनपसंद वेब सीरीज देखते हैं या लोगों से फोन पर घंटों बात करते हैं। इस तरह आप सामान्य दिनों से ज्यादा देर तक जागते हैं और सुबह देर तक सोते हैं। रोजाना की आदत मे होने वाला ये छोटा सा बदलाव शरीर के लिए अच्छा नहीं है, इसलिए आपको अगले दिन सिरदर्द की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में सिरदर्द, आलस और थकान को दूर करेंगी ये 3 आयुर्वेदिक चाय, जानें कैसे बनाएं

पानी बहुत कम पीते हैं

आमतौर पर ऐसा देखा गया है कि लोग जब ऑफिस में होते हैं, तो खाना कम खाते हैं मगर पानी ज्यादा पीते हैं। इसके पीछे सीधा का कॉन्सेप्ट ये है कि जब आप काम में बिजी रहते हैं, तो आपका ध्यान इधर-उधर जाने के बजाय काम पर रहता है। जबकि वीकेंड पर अक्सर लोग खाते ज्यादा हैं और पानी कम पीते हैं। पानी की कमी माइग्रेन और सिरदर्द का एक बहुत बड़ा कारण है। इसलिए अगर आप भी छुट्टी के दिन कम पानी पीते हैं, तो अपनी आदत को सुधारें और रोजाना कम से कम 2-3 लीटर पानी पीने की आदत डालें।

स्क्रीन वाले गैजेट्स का इस्तेमाल

ग्लोबल डाटा बताते हैं कि वीकेंड्स पर लोगों में इंटरनेट का इस्तेमाल बाकी दिनों की अपेक्षा कई गुना बढ़ जाता है। आमतौर पर छुट्टी के दिन बहुत सारे लोग घंटों एक ही जगह पर बैठकर मूवीज, वेब सीरीज और टीवी देखते हैं या गेम्स खेलते हैं और चैटिंग करते हैं। लंबे समय तक एक ही जगह पर बैठे या लेटे रहना और लगातार स्क्रीन पर लाइट के फ्लक्चुएशन्स के कारण आपको वींकेड पर सिरदर्द की समस्या हो सकती है।

चाय, कॉफी और एल्कोहल

आमतौर पर वीकेंड्स पर लोग चाय-कॉफी, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स, सोडा, कोल्ड ड्रिंक, एल्कोहल आदि का सेवन सामान्य दिनों की अपेक्षा बहुत ज्यादा करते हैं। इन सभी ड्रिंक्स का आपके शरीर पर बहुत बुरा असर पड़ता है। चाय-कॉफी में कैफीन होने के कारण अगर आप इन्हें ज्यादा पीते हैं, तो आपको सिरदर्द की समस्या हो सकती है। इसके अलावा जो लोग वीकेंड पार्टी में जमकर एल्कोहल का सेवन करते हैं, उन्हें हैंग ओवर के कारण भी सिर दर्द की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: लंबे समय से सिरदर्द (माइग्रेन) है, तो अपने खान-पान में रखें इन 5 बातों का ख्याल

अगले दिन का तनाव

यह भी देखा गया है कि लोगों को वीकेंड हेडेक की समस्या उस शाम या रात को ज्यादा होती है, जिसके अगले दिन उन्हें दोबारा काम पर जाना हो। इसका कारण यह है कि ज्यादातर लोगों को अगले दिन काम का तनाव रहता है। यही तनाव उनमें सिर दर्द का कारण बनता है।

Read more articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer