Doctor Verified

रोज 21 मिनट पैदल चलने से कम हो सकता है दिल की बीमारियों का खतरा: स्टडी

Walk for Heart Health: स्‍टडी के मुताब‍िक, केवल 21 म‍िनट यानी हफ्ते में करीब ढाई घंटे चलकर आप हार्ट की बीमार‍ियों से बच सकते हैं। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 23, 2022Updated at: Jul 23, 2022
रोज 21 मिनट पैदल चलने से कम हो सकता है दिल की बीमारियों का खतरा: स्टडी

पैदल चलना (walking) हमारी सेहत और शरीर के अंगों के ल‍िए फायदेमंद होता है। हार्वर्ड मेड‍िकल स्‍कूल की स्‍टडी के मुताब‍िक, द‍िल की सेहत (heart health) को बेहतर रखने के ल‍िए 21 म‍िनट पैदल चलना फायदेमंद होता है। 21 म‍िनट पैदल चलकर आप हार्ट की बीमार‍ियों का खतरा 30 प्रत‍िशत तक घटा सकते हैं। मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के सीनियर इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट Dr Tilak Suvarna ने बताया क‍ि कई मरीज कसरत या पैदल चलने के ल‍िए तैयार नहीं होते। समय और ऊर्जा की कमी के चलते उनके ल‍िए कसरत को समय देना एक मुश्‍क‍िल काम होता है। ऐसे लोगों के ल‍िए ये नई स्‍टडी फायदेमंद साब‍ित होगी। जरूरी नहीं है क‍ि कसरत को ज्‍यादा समय देने से ही आप स्‍वस्‍थ रह सकते हैं। अगर थोड़े समय के ल‍िए रोजाना पैदल चला जाए, तो भी द‍िल को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है। 

21 minutes walk benefits  

21 म‍िनट पैदल चलें, नहीं होगी हार्ट की बीमारी  

हार्वर्ड मेड‍िकल स्‍कूल का र‍िव्‍यू कहता है क‍ि एक द‍िन में 21 म‍िनट पैदल चलकर (21 minutes walk) आप हार्ट की बीमार‍ियों का खतरा 30 प्रत‍िशत तक घटा सकते हैं। द‍िन में 21 म‍िनट पैदल चलना हफ्ते में दो से ढाई घंटे चलने के बराबर है। पैदल चलने से आप कई तरह की हार्ट बीमार‍ियां जैसे हार्ट अटैक, स्‍ट्रोक, हाई बीपी और हाई कोलेस्‍ट्रॉल आद‍ि से बच सकते हैं। पैदल चलना एक तरह का कॉर्ड‍ियो वर्कआउट (cardio workout) है। कॉर्ड‍ियो कसरत के जर‍िए हार्ट को हेल्‍दी रखने में मदद म‍िलती है। 

इसे भी पढ़ें- हार्ट की सेहत में गड़बड़ होने पर दिखते हैं ये 11 लक्षण, बिल्कुल न करें नजरअंदाज

हार्ट ब्लॉकेज से बच सकते हैं 

डॉ त‍िलक ने बताया क‍ि पैदल चलना सबसे आसान कसरत है। पैदल चलकर आप हार्ट ब्‍लॉकेज (heart blockage) के खतरे से बच सकते हैं। आज के समय में हम देख रहे हैं क‍ि कम उम्र में हार्ट अटैक के केस बढ़ रहे हैं। हाल ही में हमने देखा क‍ि कई बड़े कलाकर जैसे गायक केके, स‍िद्धार्थ शुक्‍ला और सरोज खान आद‍ि की मौत के पीछे का कारण भी हार्ट ड‍िसीज बताया गया। अगर आप पैदल चलने की आदत को रूटीन में शाम‍िल कर लेंगे तो तनाव घटेगा, ब्‍लॉकेज का खतरा कम होगा, हार्ट अटैक (heart attack) का खतरा घटेगा और आप स्‍वस्‍थ जीवन जी पाएंगे।       

वॉक‍िंंग से हार्ट ड‍िसीज का खतरा घटता है? 

पैदल चलने से वजन कम होता है। वजन कम होने से बीपी कंट्रोल रखने में मदद म‍िलती है। कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर भी कंट्रोल रहता है ज‍िसके कारण हार्ट ड‍िसीज, डायब‍िटीज और कैंसर आद‍ि बीमार‍ियों से बचने में मदद म‍िलती है। हार्वर्ड मेड‍िकल स्‍कूल के र‍िव्‍यू के मुताबि‍क, कोव‍िड के दौरान हार्ट को स्‍वस्‍थ रखना और भी ज्‍यादा जरूरी हो गया है क्‍योंक‍ि कोव‍िड के लक्षण (covid symptoms) उन लोगों को ज्‍यादा परेशान कर सकते हैं ज‍िन्‍हें कभी हार्ट अटैक आया हो या हाइपरटेंशन और डायब‍िटीज आद‍ि बीमार‍ियां हुई हों। हार्ट पर कोव‍िड का बुरा असर देखते हुए आप हेल्‍दी जीवनशैली पर फोकस बढ़ाएं और रोजाना पैदल चलें।

लगातार काम करने से बचें 

स्‍टडी के मुताब‍िक, कई घंटे काम करते रहने के कारण, हार्ट की बीमार‍ियों (heart diseases in hindi) का खतरा 13 % बढ़ जाता है। लेक‍िन अगर आप पैदल चलेंगे तो, मानस‍िक स्‍वाथ्‍स्‍य भी बेहतर रहेगा। ऑफ‍िस जाने वाले लोग अक्‍सर तनाव से घ‍िरे हुए नजर आते हैं। अगर आप रोजाना वॉक करेंगे, तो ड‍िप्रेशन के लक्षण (depression symptoms) घटेंगे। आप ऑफ‍िस जाते हैं, तो काम के बीच कुछ देर का ब्रेक जरूर लें। ब्रेक के दौरान वॉक करें या स्‍ट्रेच‍िंग कर सकते हैं।      

एक्‍सपर्ट्स के मुताब‍िक, 21 म‍िनट से अध‍िक पैदल चलना भी फायदेमंद है पर जो लोग ब‍िल्‍कुल कसरत नहीं करते उनके ल‍िए 21 म‍िनट पैदल चलने से शुरुआत करना फायदेमंद साब‍ित होगा।     

Disclaimer