रिश्तों में तल्खी को बॉयफ्रेंड के साथ बातचीत से करें दूर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 19, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • समस्‍या के समाधान के लिए खुद से पहल कीजिए।
  • दोनों के बीच की समस्‍या की प्रमुख वजह को जानें।
  • यदि आपकी गलती है स्‍वीकारने में हिचकिचायें नहीं।
  • कमियों को दूर करें और एक-दूसरे पर विश्‍वास रखें।

रिश्‍तों में दरार आना कोई बड़ी बात नहीं, आप जिसके साथ ज्‍यादा से ज्‍यादा वक्‍त गुजारते हैं उसकी कुछ बातें और आदतें अच्‍छी न लगने के कारण यह समस्‍या होती है। इसमें यह बात कोई मायने नहीं रखती कि आपका रिश्‍ता कितना पुराना और मजबूत है, सब प्रकार के रिश्‍तों में तल्‍खी हो सकती है।

Talk About Relationship Problems रिश्‍तों में उतार-चढ़ाव आना आम बात है। लेकिन, बातचीत के जरिये परेशानियों को दूर किया जा सकता है। यदि आपके ब्‍वॉयफ्रेंड से किसी बात को लेकर अनबन हो गई है तो इसे सुलझाने के लिए एक-दूसरे से बातचीत बहुत जरूरी है। आइए हम आपको बताते हैं कि कैसे बातचीत के जरिये अपनी तल्‍खी को दूर कर सकते हैं।

 

पहले पहल करें

समस्‍या को सुलझाने के लिए खुद पहल करें। इस बात का इंतजार न करें कि आपका ब्‍वॉयफ्रेंड आपको मनायेगा तभी आप उससे बात करेंगी, इससे मामला सुलझने की बजाय और भी उलझ सकता है। याद रखिये पहल करना आपका बड़प्‍पन दिखाता है। हो सकता है आपकी बात से मामला सुलझ जाये और सब पहले जैसा हो जाये।

 

समस्‍या का कारण जानें

आमतौर पर हर तरह के रिश्तों में दिक्‍कत आती ही है। और ज्‍यादातर मामलों में हम संवादहीनता के कारण इसे और बढ़ा लेते हैं। यदि ऐसा हुआ है तो समस्‍या की जड़ तक जाने की कोशिश कीजिए। उस मामले को समझने की कोशिश कीजिए जो आप दोनों के बीच दूरी का कारण बना है। आप समस्‍या को जानने के बाद उसका हल करने में आसानी होती है।

गलती स्‍वीकारें

गलती मानने से कोई छोटा नहीं हो जाता। यदि आपकी गलती है तो उसे स्वीकारने में कभी हिचकिचाएं नहीं। गलती स्‍वीकार करने के बाद काफी हद तक समस्‍या सुलझ जाती है। गलती स्‍वीकारने से अहम की भावना का ह्रास होता है। इससे आपके रिश्‍ते और मजबूत होते हैं, यदि आपने आगे आकर अपनी गलती को स्‍वीकार किया है तो इससे आपका प्‍यार और भी गहरा होगा।

 

कमियों को दूर करें

हो सकता है कि आपकी कोई बुरी आदत आपके साथी को पसंद न हो। अगर ऐसा है तो उसे दूर करने की कोशिश कीजिए। दोनों के बीच की तल्‍खी के लिए जिम्‍मेदार कमियों को दूर करना बड़ी बात नहीं है। दोनों के बीच दरार के लिए जिम्‍मेदार कितनी भी बड़ी कमी हो उसे दूर किया जा सकता है। आप पुरानी बातों को भूलकर फिर से पहले जैसी जिंदगी जी सकते हैं।

विश्‍वास रखें

आप अपने ब्‍वॉयफ्रेंड से बातचीत के जरिये सभी मुश्किलों को दूर कर सकते हैं, इस बात का विश्‍वास रखें। इसके अलावा एक-दूसरे पर विश्‍वास रखें। क्‍योंकि विश्‍वास ही रिश्‍ते की सबसे मजबूत कड़ी है, यदि एक-दूजे में विश्‍वास की कमी है तो रिश्‍ता टूटने में देर नहीं लगती। लेकिन यदि आपको अपने ब्‍वॉयफ्रेंड पर विश्‍वास है तो समस्‍या को सुलझाने में अधिक दिक्‍कतें नहीं आयेंगी।

आराम से बात करें

जब आप किसी समस्‍या को सुलझाने की कोशिश कर रहीं हैं तो इस दौरान आपका व्‍यवहार बहुत मायने रखता है। यदि बातचीत के दौरान आपका व्‍यवहार आक्रामक है तो समस्‍या सुलझने की बजाय उलझ सकती है। इसलिए बातचीत के दौरान शांत रहें, आराम से बात करें और अपने ब्‍वॉयफ्रेंड को मनायें।



अगर आप अपने रिश्तों में आई दरारों पर बात करते हैं, तो इससे अच्छी कोई बात नहीं हो सकती। इससे रिश्ते और भी मजबूत होते हैं। यह महत्वपूर्ण नहीं कि रिश्तों में खटास पैदा होने के बाद बातचीत की शुरुआत कौन करता है। महत्वपूर्ण यह है कि आप एक स्वस्थ बातचीत के जरिए मामले को सुलझा सकते हैं।

 

 

Read More Articles On Relationship Help in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES5 Votes 1289 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर