19 साल की लड़की ने दिया जुड़वां बच्चों को जन्म, दोनों के पिता अलग, जानें क्या कहता है मेडिकल साइंस

Heteropaternal Superfecundatio: पुर्तगाल में एक महिला ने जुड़वां बच्चों को जन्म दिया जिसमें दोनों के पिता अलग-अलग हैं, जानें इसके बारे में।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 09, 2022Updated at: Sep 09, 2022
19 साल की लड़की ने दिया जुड़वां बच्चों को जन्म, दोनों के पिता अलग, जानें क्या कहता है मेडिकल साइंस

Heteropaternal Superfecundatio: अजीबोगरीब रहस्यों से भरी दुनिया में कई बार कुछ ऐसे मामले सामने आते हैं, जिन्हें देख वैज्ञानिक और डॉक्टर भी हैरान हो जाते हैं। पुर्तगाल में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जिसे मेडिकल साइंस में बहुत दुर्लभ माना जाता है। दरअसल पुर्तगाल की एक 19 साल की महिला ने दो ऐसे जुड़वां बच्चों को जन्म दिया है, जिनके पिता अलग-अलग हैं। यह खबर सुनकर आप भी चौंक गए होंगे। इस घटना के बारे में सुनने के बाद लोगों के मन में यह सवाल आता है कि ऐसा कैसे संभव है? इस बारे में हम आपको विस्तार से बताएंगे, लेकिन पहले यह जान लीजिए कि पूरी घटना क्या है। दरअसल पुर्तगाल की इस 19 साल की महिला ने कुछ महीने पहले जुड़वां बच्चों को जन्म दिया था। जन्म के कुछ समय बाद जब एक पिता ने बच्चों का डीएनए टेस्ट कराया तो दूसरे बच्चे का डीएनए उससे अलग निकला। आइए विस्तार से जानते हैं इस स्थिति को मेडिकल साइंस कैसे देखता है?

Heteropaternal Superfecundation

पुर्तगाल में हुई इस घटना के पहले भी दुनिया में इस तरह के कुछ मामले सामने आए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुर्तगाल में सामने आया यह मामला दुनिया का 20वां मामला है। एक ही मां की कोख से एकसाथ दो बच्चों के जन्म लेने की इस घटना को सुनकर लोग अचंभित हैं। मेडिकल साइंस इस स्थिति को हेट्रोपैरेंटल सुपरफेक्यूंडेशन (Heteropaternal Superfecundation in Hindi) कहता है। दुनिया में ऐसे मामले बेहद कम सामने आते हैं। इस स्थिति में दो जुड़वां बच्चों में दोनों के पिता अलग-अलग हो सकते हैं।

हेट्रोपैटरनल सुपरफेक्यूंडेशन क्या है?- What is Heteropaternal Superfecundation?

इस स्थिति को लेकर हुई रिसर्च के मुताबिक हेट्रोपैटरनल सुपरफेक्यूंडेशन एक दुर्लभ स्थिति है। इस स्थिति में दोनों जुड़वां बच्चों के पिता का डीएनए अलग-अलग होता है। यह स्थिति तब होती है, जब कोई महिला दो अलग-अलग पुरुषों से फर्टिलाइज होती है। आसन भाषा में कहें तो जब कोई महिला दो पुरुषों से शारीरिक संबंध बनाती है और एक ही समय पर दोनों से गर्भवती होती है, तो यह स्थिति बनती है। एक ही समय पर दो पुरुषों के साथ शारीरिक संबंध बनाना और उनसे फर्टिलाइज होने पर पैदा होने दोनों बच्चों का डीएनए अलग-अलग हो सकता है। पुर्तगाल में मिले इस मामले भी महिला ने भी यह स्वीकार किया है, कि उसने एक ही समय पर दो अलग-अलग पुरुषों से शारीरिक संबंध बनाए थे।

इसे भी पढ़ें: आंध्र प्रदेश में अजीबोगरीब बीमारी ने मचाया तहलका, जानें इस रहस्‍यमयी बीमारी का कारण और लक्षण

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुर्तगाल में सामने आए इस मामले में महिला और उसके पति की पहचान सार्वजानिक नहीं की गयी है। इस घटना के बारे में बताया जा रहा है कि बच्चों के जन्म के बाद डॉक्टर के पैनल ने लड़की को बुलाकर पूछताछ की तब जाकर लड़की ने बताया कि 8 महीने पहले वह एक और लड़के के साथ रिलेशन में थी। जिसके बाद उस दूसरे लड़के से भी पूछताछ की गयी और डीएनए टेस्ट करने पर मामला सामने आया।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer