क्या अब एक की जगह डबल मास्क लगाना हो गया है जरूरी? डॉक्टर से जानें मास्क पहनने का सही तरीका

कोरोना वायरस हवा में फैल रहा है इसलिए अब एक की जगह दो मास्क लगाना कितना जरूरी है और क्यों जरूरी है, बता रहे हैं डॉक्टर।

Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: Apr 27, 2021Updated at: Apr 27, 2021
क्या अब एक की जगह डबल मास्क लगाना हो गया है जरूरी? डॉक्टर से जानें मास्क पहनने का सही तरीका

देशभर में कोरोना वायरस (Corona Virus) के आंकड़ों में लगातार तेजी हो रही है। इससे होने वाली मौत के आंकड़े थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। ऐसे में लोग कोरोना के बचाव से जुड़े सभी नियमों का बखूबी पालन कर रहे हैं। कोरोना की दूसरी लहर ने सभी के मन में चिंता पैदा कर दी है। संक्रमण से बचने के लिए लोग लगभग एक साल से मास्क पहन रहे हैं, लेकिन ऐसे में अब डबल मास्क पहनने की बात सामने आ रही है। हेल्थ केयर वर्कर्स और चिकित्सक अब डबल मास्क (Double Mask) पहनने की सलाह दे रहे हैं। इस लेख के माध्यम से आज हम आपको बताएंगे मास्क डबल मास्क के पीछे का लॉजिक। विशेषज्ञों की मानें तो ठीक तरह से डबल मास्किंग (Double Masking) करने से संक्रमण का खतरा कम हो जाता है। इसी विषय पर आज हमने दिल्ली के अपोलो हॉस्पिटल के सीनियर कंसलटेंट डॉक्टर तरुण साहनी से बात की। आइये जानते हैं डबल मास्क लगाना कितना कारगर है। 

doublemask

हवा में फैल सकता है वायरस (Virus can Spread in Air)

डॉ. साहनी के मुताबिक पहले की अपेक्षा कोरोना वायरस की दूसरी लहर में वायरस तीव्रता के साथ हवा में फैलने लगा है (Spreading in Air) , जिसके लिए डबल मास्क लगाना बहुत जरूरी है। पहले यह वायरस आपके घर में पड़ी वस्तुओं पर रह जाता है, लेकिन अब दूसरी लहर में यह वायरस हवा के जरिए आपको अपनी गिरफ्त में ले रहा है। इसलिए अब ऐसा माना जा रहा है कि संक्रमण से बचाव के लिए घर में भी मास्क लगाना चाहिए ताकि हवा में मौजूद वायरस आपतक न पहुंच सके। 

इसे भी पढें- कोरोना टाइम में घर पर जरूर रखें ये 5 मेडिकल डिवाइस, ताकि सेहत पर रहे नजर और इमरजेंसी में भागना न पड़े हॉस्पिटल 

क्यों जरूरी है डबल मास्क (Why Double Mask is Important)

डॉ. साहनी के अनुसार वायरस अब केवल हवा में फैल ही नहीं रहा है बल्कि स्थिरता के साथ रुका भी है। उदाहरण के तौर पर समझें तो किसी कमरे में यदि हवा के जरिए कीटाणु आ जाते हैं तो यह अपने आप खत्म होने की बजाय कमरे में प्रवेश करने वाले दूसरे लोगों को भी संक्रमण (Infection) के घेरे में ला सकते है। कमरे में मौजूद कीटाणु यानि वायरस के संपर्क में आते ही व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) हो सकता है। इसलिए ऐसे में यह बेहद जरूरी है कि कपड़े का डबल मास्क पहनकर इस संक्रमण से बचाव किया जाए। किसी व्यक्ति के खांसने या छींकने पर वायरस उस जगह पर फैल जाता है काफी देर तक स्थिर भी रह सकता है। इसलिए ऐसे में चिकित्सकों द्वारा लगातार डबल मास्क लगाने की सलाह दी जा रही है। 

कैसे लगाएं मास्क (How to wear mask) 

डबल मास्किंग के बाद से ही लोगों के मन में मास्क को लेकर कई सवाल आने लगे हैं कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कौन सा मास्क ज्यादा कारगर है। पिछले साल कोरोना की शुरूआत होने के साथ ही बाजारों में एन 95 की बिक्री तेजी से बढ़ गई थी। लेकिन इस बार डबल मास्किंग में कपड़े का मास्क भी काफी लाभकारी माना जा रहा है। थ्री प्लाई मास्क लगाकर भी इससे बचा जा सकता है। साथ ही कपड़े का मास्क आपके लिए सर्जिकल मास्क (Surgical Mask) की अपेक्षा थोड़ा ज्यादा कारगर साबित होगा। लेकिन ऐसे में ध्यान रहे कि मास्क को नाक के नीचे नहीं नाक के उपर चढ़ाकर पहनना है, जिससे आपका मुंह पूरी तरह से एयर टाइट रहे। हमेशा नाक और मुंह को ढ़ककर सही तरीके से मास्क लगाना चाहिए। आप चाहें तो ऐसे में गमछे व किसी कपड़े का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस तरह से आप कोरोना के संक्रमण को मैनेज कर सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें - कोरोना टाइम में घर पर जरूर रखें ये 5 मेडिकल डिवाइस, ताकि सेहत पर रहे नजर और इमरजेंसी में भागना न पड़े हॉस्पिटल

घर में मास्क पहनना कितना जरूरी (How important to Wear mask at Home)

संक्रमण से बचने के लिए पहले डबल मास्क के बाद अब सरकार ने कोरोना के नियमों पर जोर देते हुए अब घरों में मास्क पहनकर रहने की सलाह दी है। सरकार के मुताबिक एक व्यक्ति 30 दिनों में 406 लोगों को बीमार कर सकता है। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नीति आयोग द्वारा हवा में फैल रहे संक्रमण को देखते हुए लोगों से घर के भीतर बिना मास्क के न रहने का आग्रह किया है। कहा कि यह ऐसा समय है, जिसमें हमें अपने घर में भी मास्क पहनने की जरूरत है। 

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए डबल मास्क पहनना बेहद जरूरी है। कोशिश करें कि कपड़े के मास्क के साथ एन 95 मास्क का प्रयोग करें। हवा में फैलते संक्रमण को रोकने के लिए ऐसा करना बेहद जरूरी है। 

Read more Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer