Expert

चुकंदर गर्म होता है या ठंडा? जानें चुकंदर कब नहीं खाना चाहिए?

Who Should Avoid Beetroot: कुछ स्वास्थ्य समस्याओं में चुकंदर का सेवन नुकसानदायक साबित हो सकता है, जानें किन लोगों को चुकंदर नहीं खानी चाहिए।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Aug 19, 2022Updated at: Aug 19, 2022
चुकंदर गर्म होता है या ठंडा? जानें चुकंदर कब नहीं खाना चाहिए?

चुकंदर का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। यह पोषक तत्वों से भरपूर होती है और स्वास्थ्य सबंधी अनेक लाभ प्रदान करती है। चुकंदर में आयरन, विटामिन बी6, पोटेशियम, मैग्नीशियम जैसे जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। शरीर में खून की कमी को दूर करने के लिए चुकंदर का सेवन बहुत प्रभावी माना जाता है। लेकिन क्या सभी के लिए चुकंदर का सेवन करना फायदेमंद होता है? बहुत से लोग अक्सर पूछते हैं कि चुकंदर ठंडी होती है या गर्म? या चुकंदर का सेवन किन लोगों को नहीं करना चाहिए? इसके बारे में जानने के लिए हमने आयुर्वेदिक चिकित्सक और आयुर्वेदिक मेडिकल ऑफिसर, पंजाब डॉ. भुवनेश्वरी (BAMS Ayurveda) से बात की। आइए जानते हैं चुकंदर कब नहीं खाना चाहिए

आइए पहले जानते हैं चुकंदर ठंडा होता है या गर्म- Beetroot Is Cold Or Hot In Hindi

डॉ. भुवनेश्वरी के अनुसार, चुकंदर की तासीर ठंडी होती है। इसलिए चुकंदर का सेवन करते समय कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत होती है। इसलिए चुकंदर का सेवन सुबह और शाम के समय कम करना चाहिए, क्योंकि इस दौरान आपकी पाचन अग्नि कमजोर होती है। अगर आप इस समय चुकंदर का सेवन करते हैं, तो यह आपकी पाचन अग्नि को धीमा करती है, जिससे शरीर में कफ की अधिकता हो सकती है। साथ ही इससे पाचन संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं।

Who Should Avoid Beetroot in hindi

इसे भी पढें: क्या थायराइड में दूध पीना चाहिए? जानें एक्सपर्ट की राय

किन लोगों को चुकंदर नहीं खानी चाहिए- Who Should Avoid Beetroot In Hindi

1.सर्दी-खांसी की समस्या में न खाएं: तासीर में ठंडी होने के कारण चुकंदर खाने से कफ बढ़ सकता है, इसलिए इसे खाने से बचना चाहिए।

2.लो ब्लड प्रेशर वाले लोग: अगर लो ब्लड प्रेशर के मरीज चुकंदर का सेवन करते हैं, तो इससे ब्लड प्रेशर और भी कम हो सकता है।

3. एलर्जी होने पर: अगर किसी व्यक्ति को चुकंदर से एलर्जी है, तो चुकंदर का सेवन करने से त्वचा पर चकत्ते, एलर्जी की समस्या हो सकती है।

4. डायबिटीज वाले लोग: चुकंदर का ग्लाइसेमिक इंडेक्स हाई होता है, जिससे यह ब्लड शुगर में स्पाइक का कारण बन सकती है। डायबिटीज रोगियों को डॉक्टर से परामर्श के बिना चुकंदर का सेवन नहीं करना चाहिए।

5. किडनी स्टोन वाले लोग: चुकंदर में ऑक्सालेट की ज्यादा मात्रा होती है। अगर पथरी के रोगी इसका अधिक सेवन करते हैं तो उनकी स्थिति अधिक गंभीर हो सकती है।

इसे भी पढें: हार्मोन्स को संतुलित रखने के लिए जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्व, जानें इनके स्रोत

एक्सपर्ट क्या सलाह देते हैं

चुकंदर का सेवन शरीर में खून की कमी और कब्ज के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। बस आपको चुकंदर का सेवन करते समय थोड़ा सावधानी बरतने की जरूरत है। उन लोगों को चुकंदर का सेवन नहीं करना चाहिए, जिनकी पाचन अग्नि कमजोर है। अगर आप सेवन कर भी रहे हैं तो आपको कच्ची चुकंदर या सलाद में सेवन करने के बजाए, पकाकर, स्टीम करके या उबालकर खाना चाहिए। अगर किसी व्यक्ति की पाचन अग्नि कमजोर है और पाचन अग्नि भी कमजोर है तो वह स्टीम करके चुकंदर का सेवन कर सकते हैं। साथ ही चुकंदर खाने के बाद कुछ लोगों का गला खराब हो जाता है, इस स्थित में भी आपको चुकंदर स्टीम करके खानी चाहिए।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer