Doctor Verified

Heart Failure: हार्ट फेलियर किन विटामिन की कमी से होता है? जानें इनके स्रोत

Vitamin Deficiency Causes Heart Failure: हृदय संबंधी रोग और हार्ट फेलियर शरीर में कई विटामिन की कमी से हो सकते हैं, जानें इनके स्रोत।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarUpdated at: Sep 25, 2022 19:41 IST
Heart Failure: हार्ट फेलियर किन विटामिन की कमी से होता है? जानें इनके स्रोत

Vitamin Deficiency Causes Heart Failure: शरीर में पोषक तत्वों की कमी से कई गंभीर रोग पैदा होते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं शरीर में कुछ पोषक तत्वों की कमी के कारण हार्ट फेलियर जैसे गंभीर रोग भी हो सकते हैं? हार्ट फेलियर दिल से जुड़ी एक गंभीर समस्या है, जिसके कारण व्यक्ति की मौके पर ही मृत्यु हो सकती है। यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें हमारा दिल मांसपेशियां रक्त पंप उतना नहीं करता है, जितना जरूरत होती है। साथ ही दिल जो रक्त पंप करता है वह वापस हृदय में आने लगता है। ऐसा होने की वजह से फेफड़ों में तरल पदार्थों निर्माण होना शुरू हो जाता है, जिससे लोगों सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कोरोनरी धमनी रोग या हाई बीपी जैसी समस्याएं स्थिति को अधिक बदतर बना सकती हैं और हार्ट फेलियर के जोखिम को बढ़ा सकती हैं।

NIH नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन में प्रकाशित जर्नल के अनुसार पश्चिमी देशों में हार्ट फेलियर मृत्यु का एक बड़ा कारण हैं। साथ हार्ट फेलियर के कई शरीर में कई पोषक तत्वों की जिम्मेदार हो सकती है। हार्ट फेलियर किन विटामिन या पोषक तत्वों की कमी से होता है और इनकी कमी को पूरा करने के लिए क्या खाएं, इसके बारे अधिक जानकारी के लिए हमने क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल से बात की। आइए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

किस विटामिन की कमी से हार्ट फेलियर होता है- Vitamin Deficiency Causes Heart Failure

विटामिन डी (Vitamin D)

WebMD के अनुसार विटामिन डी की कमी और कमजोर हड्डियों और मांसपेशियों के बीच सीधा संबंध है। इसका हाई बीपी और हार्ट फेलियर जैसी गंभीर समस्याओं से का कारण बन सकता है। कोशिश करें कि सुबह या शाम धूप में 10-15 मिनट जरूर बैठें। इसके अलावा दूध और दूध से बने उत्पाद, अंडा आदि में विटामिन डी की अच्छी मात्रा होती है।

Vitamin Deficiency Causes Heart Failure

इसे भी पढें: हार्ट फेलियर से पहले शरीर में दिखते हैं ये 10 संकेत, न करें नजरअंदाज

कोएन्ज़ाइम क्यू-10 (Coenzyme Q10)

कोएन्ज़ाइम क्यू-10 एक नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट है, साथ ही यह एक विटामिन की तरह एन्जाइम के रूप में भी काम करता है। कई अध्ययनों में इस एंजाइम की कमी को हार्ट फेलियर के साथ जोड़ा है। मूंगफली, सोयाबीन, ब्रोकली, संतरा, फैटी फिश जैसे सैल्मन आदि में यह प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है।

आयरन (Iron)

शरीर में हीमोग्लोबिन के सामान्य स्तर और ब्लड सर्कुलेशन के लिए आयरन बहुत जरूरी है। अध्ययन में पाया गया है कि हार्ट फेलियर लगभग 50% रोगियों में आयरन की कमी प्रमुख कारण थी। हरी पत्तेदार सब्जियां, अनार, चुकंदर, गाजर, पालक, किशमिश, मुनक्का, खजूर, रेड मीट, अंकुरित अनाज और अमरूद आदि में आयरन प्रचुर मात्रा में होता है।

विटामिन बी1 थायमिन (Vitamin B1 Thiamine)

विटामिन बी नसों में रक्त के संचार को बेहतर बनाने और ब्लॉकेज की समस्या को रोकने के लिए जरूरी है। यह नसों में सूजन को रोकने के लिए भी जरूरी है। दूध और दूध से बने उत्पाद,  दालें, बादाम, रंग-बिरंगे फल और सब्जियां, मछली, मीट, अंडा आदि में विटामिन बी1 प्रचुर मात्रा में होता है।

क्रिएटिन (Creatine)

शोध में पाया गया है कि हार्ट फेलियर वाले रोगियों में क्रिएटिन कीनेज की कमी देखी गई। दूध, मीट, रेड मीट, फल और सब्जियां, क्रेनबेरी और मछली आदि में यह प्रचुर मात्रा में होता है।

इसे भी पढें: एचडीएल (गुड) कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में मदद करेंगी ये 5 जड़ी बूटियां, जानें इस्तेमाल का तरीका

अमीनो एसिड्स (Amino Acids)

हार्ट फेलियर के जोखिम वाले रोगियों में अमीनो एसिड की कमी देखी जाती है। क्विनोआ, अंडे, टर्की, पनीर, मशरूम, मछली, दाल और फलियों में अमिनो एसिड भरपूर मात्रा में होते हैं।

All Image Source: Freepik

Disclaimer