Peeing in the Shower: नहाते समय पेशाब करने में नहीं है कोई गंदी बात, होते हैं ये 4 फायदे

पेशाब में यूरिया होता है, इसलिए ऐसा माना जाता है कि पैरों पर पेशाब करने से एथलीट फुट के रूप में फंगल इंफेक्शन को रोकने में मदद मिल सकती है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 24, 2020Updated at: Apr 24, 2020
Peeing in the Shower: नहाते समय पेशाब करने में नहीं है कोई गंदी बात, होते हैं ये 4 फायदे

अगर आपसे कोई कहे कि वो कहीं भी नहाते वक्त पेशाब कर देता है तो आपको कैसा लगेगा? जाहिर है आप नाक भौं सिकोड़ेंगे लेकिन हकीकत में आप भी कई बार ऐसा करते हैं।आप मानें या ना मानें लेकिन ज्यादातर लोग नहाते समय बाथरूम में पेशाब करना पसंद करते हैं। दरअसल जब आपका पूरा शरीर ठंडे पानी में देर तक रहेगा तो मूत्राशय पर दबाव पडता है और इस वजह से मूत्र तंत्र सक्रिय हो उठता है। ऐसे में आप आलस के मारे कहीं और जाकर यूरिन करने की बजाय नहाते वक्त ही करना पसंद करते हैं। वहीं ऐसे में क्या होगा अगर हम आपको यह बताएं कि स्नान करते समय अपने आप को राहत देने के लिए पेशाब करना अच्छा है! दरअसल नहाते समय पेशाब करना पर्यावरण के साथ शरीर के लिए भी अच्छा है।

insidebathing

शॉवर में पेशाब करने के क्या फायदे हैं?

सुविधा के अलावा, कई लोग इसके पर्यावरणीय प्रभाव के लिए शावर-पीइंग करते हैं।ब्राजील के पर्यावरण संगठन 'एसओएस अटलांटिका फाउंडेशन' ने 2009 में एक वीडियो के साथ वैश्विक सुर्खियां बटोरीं, जिसमें लोगों से शावर में पेशाब करने का आग्रह किया गया। विज्ञापन के माध्यम से, उन्होंने सुझाव दिया कि एक दिन में एक शौचालय के फ्लश को बचाने से एक वर्ष में 1,100 गैलन से अधिक पानी की बचत होगी। 2014 में, 'इंग्लैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ ईस्ट एंग्लिया' में दो छात्रों ने शॉवर के समय पेशाब करके पानी बचाने के लिए #GoWithTheFlow अभियान शुरू किया।पानी बचाने के अलावा, आप अपने पानी के बिल और अपने टॉयलेट पेपर के खर्च पर भी थोड़ा बचत कर सकते हैं।

नहाते वक्त पेशाब करना क्यों बुरा नहीं है?

आपके मूत्र में कम मात्रा में बैक्टीरिया होते हैं

नहाते वक्त पेशाब करना सुनने में बुरा हो सकता है पर ये शरीर के लिए अच्छा है। दरअसल अगर आपको नहाते वक्त पेशाब लगी है और आपने वहीं कर दिया है तो इससे आपके ब्लैडर को राहत मिलती है। इसके अलावा एक मजबूत कारण ये भी है कि पेशाब में संक्रमण पैदा करने के लिए खतरनाक मात्रा में बैक्टीरिया नहीं होते हैं। इस तरह ये आपको नुकसान नहीं पहुंचाएगा। अगर आपके पैरों में कोई कट या घाव हो, तो भी पेशाब से आपको कोई भी इंफेक्शन नहीं होगा। मूत्र में यूरिया होता है, जो एक यौगिक है और कई त्वचा देखभाल उत्पादों में शामिल होता है। कुछ लोगों का मानना है कि पैरों पर पेशाब करने से एथलीट फुट के रूप में फंगल संक्रमण को रोकने या इलाज में मदद मिल सकती है।

insidepeeingduringshower

इसे भी पढ़ें : Fart Spreads covid 19 : क्या पादने से फैल सकता है कोरोनावायरस? जानें पादते वक्त किस सावधानी को बरतना है जरूरी

आपका मूत्र ज्यादातर पानी ही होता है

स्वस्थ लोगों में, मूत्र ज्यादातर पानी, इलेक्ट्रोलाइट्स और यूरिया से बना होता है, जो आपके शरीर के लिए नुकसानदेह नहीं है। साथ ही नहाते वक्ते पेशाब करने पर ये पानी के साथ बह जाएगा और आपको या किसी और कोई नुकसान नहीं पहुंचाएगा।

पीरियड्स में आरामदेह हो सकता है

हो सकता है कि आप नहाते समय पेशाब या शौच न कर रहे हों, लेकिन इस दौरान आपके निजि क्षेत्रों को सफाई हो जाती है। पीरियड्स में नहाते वक्त अगर आप नहाने के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल कर रहे हैं और आप महसूस करेंगी कि इस दौरान पेशाब करने से आपको क्रैंप या पीरियड्स के भयावह दर्द से राहत मिल सकती है। इसके साथ ये ब्लीडिंग को स्मूथ बना सकता है। वहीं सफाई के स्तर बात की जाए तो नहाने के साथ ये बेहतर तरीके से आपके पार्ट्स की सफाई करता है।

खुद को हेल्दी रखने के बारे में कितने जागरूक हैं आप? खेलें ये क्विज:

Loading...

इसे भी पढ़ें : ज्यादा देर नहीं रोक पाते हैं पेशाब तो ओवरएक्टिव हो सकता है ब्लैडर, ये हैं कारण और लक्षण

शॉवर में पेशाब करना पर्यावरण के लिए अच्छा है

अगर आप नहाने के दौरान पेशाब करने की आदत से चिंता में रहते हैं, तो इनता परेशान न हों। क्योंकि आप कोई गंदा काम नहीं कर रहे हैं। आपका पेशाब पानी के साथ बहुत तेजी से बह जाता है। फ्लश प्रणाली के आधार पर जो आप उपयोग कर रहे हैं, प्रत्येक फ्लश के साथ आप छह से 12 लीटर पानी के बीच कहीं भी बर्बाद करते हैं। अब, जब आप स्नान में पेशाब करते हैं, चाहे आप शॉवर-हेड का उपयोग करें या बाल्टी का तो आप अंत में उन कीमती पानी को बचाते हैं।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer