दोस्त के मोटिवेशन के बाद दीप्ति ने घटाया 42 किलो वजन, जानें फैट से फिट बनने का उनका तरीका

Fat to Fit Journey: डिलीवरी के बाद दीप्ति का वजन 102 किलो हो गया था, जिसके बाद उन्‍हें खुद को देखने में भी हिचकिचाहट महसूस होती थी। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Aug 08, 2022Updated at: Aug 12, 2022
दोस्त के मोटिवेशन के बाद  दीप्ति ने घटाया 42 किलो वजन, जानें फैट से फिट बनने का उनका तरीका

प्रेगनेंसी और डिलीवरी के बाद अक्सर महिलाएं बढ़ते हुए वजन से परेशान रहती हैं। मां बनने के बाद शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं, जिसकी वजह से वजन और फैट का बढ़ना लाजमी है। मां बनने के बाद एक महिला पर दो लोगों की जिम्मेदारी हो जाती है। ऐसे में नन्हे शिशु की देखभाल के साथ अपने लिए वक्त निकाल पाना काफी मुश्किल होता है। यही कारण है कि इस दौरान महिलाएं खुद पर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाती हैं। एक्सरसाइज और डाइट पर ध्यान न दे पाने की वजह से वजन और मोटापा बढ़ना लाजमी है। कुछ ऐसी ही कहानी है दीप्ति माहेश्वरी (Dipti Maheshwari) की। डिलीवरी के बाद दीप्ति का वजन 102 किलो हो गया था, जिसके बाद उन्‍हें खुद को देखने में भी हिचकिचाहट महसूस होती थी। लेकिन आज वो दोबारा फिट हो चुकी हैं और लोगों को फिटनेस ज्ञान भी देती हैं। ओनलीमायहेल्थ की स्पेशल सीरीज ‘फैट टु फिट’ में आज हम जानते हैं दीप्ति माहेश्वरी की पूरी कहानी, जिससे हमारे पाठक भी वजन कम करने के तरीके सीख पाएंगे।

दीप्ति ने बताया, “मेरा वजन 100 किलोग्राम से ज्यादा हो गया था। मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि मैं दोबारा से पतली हो पाउंगी, लेकिन एक करीबी दोस्त और पति से मोटिवेशन मिलने के बाद मैंने फिटनेस जर्नी की शुरुआत की। शुरुआत में अपने और परिवार के लिए अलग-अलग खाना बनाना मेरे लिए किसी चैलेंज से कम नहीं था। लेकिन मेरे पति ने साथ दिया और धीरे-धीरे मेरे पूरे परिवार ने भी वही सब खाना शुरू कर दिया, जो मैं खाती थी।” दीप्ति ने बताया कि वो अपने खाने में ऐसी चीजों को शामिल करती थीं, जिसमें पोषण पर्याप्त मात्रा में हों। वो तला, भुना और मसालेदार खाने से परहेज करती थीं।

 Fat_to_Fit_journey_of_dipti

चोट की वजह से नहीं कर पाती थीं एक्सरसाइज

दीप्ति ने कहा, “वजन घटाने की प्रक्रिया में मेरे सामने कई चैलेंज आए। मेरे घुटनों में चोट लग गई, जिसकी वजह से मैं एक्सरसाइज कर पाने में असमर्थ थी। घुटनों में लगी चोट के दौरान भी मेरा वजन घटे इसके लिए फिटर के डाइटिशियन ने मुझे कुछ खास सुझाव दिए। उन्होंने मेरे खाने के पोर्शन को संतुलित करने के लिए कहा। घुटनों में चोट होने के बावजूद मैं हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करती रही, ताकि बॉडी मूवमेंट जारी रहे।”

1 साल में घटाया 42 किलो वजन

दीप्ति ने बताया कि उन्होंने 1 साल में 42 किलोग्राम वजन घटाया है। उन्होंने कहा, “आज मैं 42 साल की हूं और मेरा वजन 60 किलो के करीब है। वजन घटाने के बाद मैं पहले से ज्यादा कॉन्फिडेंट और पावरफुल महसूस करती हूं। मैंने एक साल में 42 किलोग्राम वजन डाइट और एक्सरसाइज के जरिए घटाया है।”

इसे भी पढ़ेंः होने वाली दुल्हन डाइट में शामिल करें ये 5 चीजें, बॉडी होगी स्लिम और स्किन दिखेगी ग्लोइंग

Fat_to_Fit_journey_of_dipti

डाइट में किया बड़ा बदलाव

दीप्ति ने कहा,  “मैंने अपना वजन और मोटापा घटाने के लिए डाइट में बड़ा बदलाव किया। वजन और फैट को मैनेज करने के लिए मैं सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ एप्पल साइडर विनेगर पीती हूं। मैं सुबह उठकर नाश्ते में ज्यादातर चाय, आमलेट, पोहा, उपमा या वेजिटेबल ओट्स खाती हूं। दोपहर के खाने में मैं सलाद, फल, छाछ, दाल, सब्जियां, चावल, सोया- गेहूं की चपाती, पनीर जैसी चीजों का सेवन करना पसंद करती हूं। शाम को मैं चाय पनीर सैंडविच, सोया भेल, भुना हुआ मखाना आदि खाती हूं। वहीं, रात के डिनर में मैं दाल, चावल, सब्जियां, सोया - गेहूं की चपाती खाती हूं, ताकि प्रोटीन और काब्र्स कार्ब्स का संतुलन शरीर में बना रहे।” दीप्ति ने कहा, “आज सिर्फ मैं नहीं बल्कि मेरा पूरा परिवार पोषण से भरपूर भोजन करता है। खासकर मेरे बच्चों के लिए ये चीजें काफी अहमियत रखती हैं। उन्हें शुरुआत से ही ऐसा भोजन खाने की आदत हो गई है, जिसमें प्रोटीन और कार्ब्स का संतुलन रहता है।”

आप भी वजन कम करने की चाहत रखती हैं, तो इसके बारे में अपने परिवार और दोस्तों को जरूर बताएं। ध्‍यान रखें कि कभी भी वजन कम करने की शुरुआत कर सकते हैं। स्वस्थ जीवनशैली से शुरुआत करें। 

 
Disclaimer