फेफड़ो में पानी भरने पर दिखते हैं ये 10 शुरुआती लक्षण, जानें बचाव के उपाय

Water in Lungs Symptoms in Hindi: फेफड़ों में पानी भरना एक गंभीर और जानलेवा समस्या है, जानें फेफड़ों में पानी भरने के शुरुआती लक्षण और बचाव।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 25, 2022 16:34 IST
फेफड़ो में पानी भरने पर दिखते हैं ये 10 शुरुआती लक्षण, जानें बचाव के उपाय

Water in Lungs Symptoms: फेफड़ों में पानी भर जाना एक गंभीर समस्या है। मेडिकल की भाषा में फेफड़ों में पानी भरने को पल्मोनरी एडिमा (Pulmonary Edema in Hindi) कहते हैं। डॉक्टर इस समस्या को इमरजेंसी मानते हैं, सही समय पर इलाज न लेने से इस समस्या में मरीज की मौत भी हो सकती है। फेफड़ों में पानी भरने के लिए कई कारण जिम्मेदार होते हैं। दरअसल फेफड़ों में मौजूद छोटी-छोटी थैलियों में लिक्विड भरने लगता है और इसके बाद आपको सांस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। आमतौर पर हार्ट फेलियर की वजह से आपको फेफड़ों में पानी भर जाने की समस्या होती है, लेकिन इसके अलावा ब्लड प्रेशर, निमोनिया और किडनी व लिवर से जुड़ी परेशानियां भी इसका कारण बन सकती हैं। सही समय पर फेफड़ों में पानी भरने के लक्षणों को पहचानकर इलाज लेने से मरीज इस समस्या का शिकार होने से बच जाता है। आइए विस्तार से जानते है इस समस्या के शुरूआती लक्षणों के बारे में।

फेफड़ों में पानी भरने के लक्षण- Water in Lungs Symptoms in Hindi

फेफड़ों में पानी भरने पर मरीज को कई गंभीर परेशानियों का सामना करना पड़ता है। मेयोक्लिनिक के मुताबिक फेफड़ो में पानी भरने के लिए निमोनिया, हार्ट डिजीज, दवाओं के साइड इफेक्ट, बहुत ज्यादा ऊंचाई पर रहना और चोट लगना आदि जिम्मेदार होते हैं। इस समस्या में सही समय पर इलाज लेना बहुत जरूरी है। 

Water in Lungs Symptoms

इसे भी पढ़ें: फेफड़ों में पानी क्यों भर जाता है? जानें 4 कारण

फेफड़ों में पानी भरने के कुछ शुरूआती लक्षण इस तरह से हैं-

  • सांस लेने में परेशानी
  • खांसी और बलगम
  • स्किन का पीला पड़ना
  • सांस लेते समय घबराहट
  • चिंता और बेचैनी का अनुभव
  • बहुत ज्यादा पसीना आना
  • सीने या छाती में दर्द
  • रात के समय अचानक सांस फूलना
  • सीधे लेटने पर परेशानी
  • हाथ-पैर में सूजन

फेफड़ों में पानी भरने का इलाज और बचाव-  Water in Lungs Treatment And Prevention

फेफड़ों में पानी भरने की समस्या के सटीक कारण अभी तक पता नहीं चले हैं। लेकिन यह समस्या ज्यादातर मामलों में हार्ट से जुड़ी बीमारियों के कारण होती है। मरीज के फेफड़ों में पानी जमा होने पर डॉक्टर जरूरी जांच के बाद इलाज करते हैं। इस समस्या से बचाव के लिए आपको डॉक्टर की सलाह का पालन जरूर करना चाहिए। इस समस्या में ताजी हरी सब्जियां और फल, अंडे, चिकन, मछली और विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा वाले फूड्स का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा स्मोकिंग व शराब के सेवन से दूरी बनाने पर भी आपको बहुत फायदा मिलता है। 

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer