कोलन इंफेक्‍शन (आंत का संक्रमण) से बचाएंगे ये 7 फूड, दूर हो जाएंगे पेट के सारे रोग

हमारे पेट का संबंध कहीं न कहीं पूरे पाचन क्रिया का है, जिसके अंतर्गत आंतें और कई अन्‍य ऑर्गन होते हैं। इन्‍हें स्‍वस्‍थ रखना जरूरी होता है।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: May 01, 2020
कोलन इंफेक्‍शन (आंत का संक्रमण) से बचाएंगे ये 7 फूड, दूर हो जाएंगे पेट के सारे रोग

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान दो गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे जिसके बाद बुधवार को उनका निधन हो गया। उन्हें न्यूरो-एंडोक्राइन ट्यूमर का लंबे समय तक इलाज चला था, जिसके बाद हाल ही में उनके कोलन यानि आतों में संक्रमण होने की बात सामने आई थी। जिसके कारण उन्‍हें आईसीयू में भर्ती कराया गया था, जहां उन्‍होंने दम तोड़ दिया।

कोलन इंफेक्‍शन (बृहदान्त्र संक्रमण) एक बहुत ही आम संक्रमण है और हर साल हजारों लोगों की जान ले लेता है। यहां कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में बताया गया है, जिनके सेवन से आप ऐसे संक्रमणों से छुटकारा पा सकते हैं। इससे आपका पेट भी स्वस्थ रख रहेगा।

आंतों को हेल्‍दी रखने वाले फूड

colon-infection

पपीता

अगर आप समय-समय पर पेट की समस्याओं से पीड़ित हैं तो पपीता एक अद्भुत फल है। यह उन लोगों के लिए सलाह दी जाती है जिन्हें कब्ज है या उनके भोजन को पचाने में समस्या है। पपीते में विशेष स्नेहक और एंजाइम होते हैं जो बृहदान्त्र को साफ करने में मदद करता है और इसे स्वस्थ रखता है।

आम

फलों के राजा के रूप में भी जाना जाता है, आम आपके शरीर द्वारा आवश्यक इष्टतम फाइबर प्रदान करने में मदद करता है। उच्च फाइबर सामग्री के कारण, आम पाचन प्रक्रिया को बढ़ाता है और बृहदान्त्र को साफ रखने में भी मदद करता है।

अलसी का बीज

पोषक तत्वों और आहार फाइबर के साथ भरी हुई, एक स्वस्थ बृहदान्त्र के लिए फ्लैक्स सीड्स को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। यह आपके आंतों के वनस्पतियों को बनाए रखने में मदद करता है जिसके कारण पाचन प्रक्रिया सुचारू रूप से चलती है। यह आपके बृहदान्त्र में किसी भी विषाक्त तत्वों से छुटकारा पाने में मदद करता है और आपके निजी भागों में संक्रमण से भी बचाता है।

alovera

सेब

आपको भी शायद किसी डॉक्‍टर ने एक सेब रोजाना खाने की सलाह दी होगी। यह बिल्‍कुल सही है और एक स्वस्थ शरीर के लिए सेब का सेवन किया जाना चाहिए। सेब के उच्च फाइबर सामग्री के साथ कैंसर रोधी गुण आपको बृहदान्त्र संक्रमण से बचाएंगे और सक्रिय रूप से विषहरण में भी मदद करेंगे।

लौंग

लौंग न केवल एंटीऑक्सिडेंट से युक्‍त है, बल्कि बैक्टीरिया को मारने और कैंसर से बचाने के गुण भी होते हैं। इसे अपने आहार में शामिल करने से आपके कोलन से टॉक्सिन्स दूर होंगे और पेट के अल्सर को विकसित होने से भी रोकेंगे।

इसे भी पढ़ें: इन 3 तरीकों से दूर करें पेट और आंत में जमा गंदगी, शरीर हमेशा रहेगा स्वस्थ

एलोवेरा

एलोवेरा को हमेशा एक बेहतरीन detoxifier के रूप में पहचाना जाता है, यही कारण है कि यह आपके बृहदान्त्र के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए अनुशंसित किया जाता है। इसमें स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक तत्‍व होते हैं जो आंतों के अस्तर को शांत कर सकते हैं और बृहदान्त्र में जमा होने वाली गंदगी को बाहर निकाल सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: छोटी आंत को काफी प्रभावित करता है ग्लूटन, इंफेक्शन से बचने के लिए करें ये काम

कद्दू के बीज

औषधीय गुणों से भरपूर कद्दू के बीज भी बृहदान्त्र संक्रमण को अधिकतम सीमा तक रोकने में मदद कर सकते हैं। यह मूत्राशय के स्वास्थ्य को भी बढ़ावा देता है और एंटीऑक्सिडेंट में उच्च होता है, यही कारण है कि यह आंत को साफ और स्वस्थ रख सकता है।

Read More Articles On Healthy Diet In Hindi

Disclaimer