पिलेट्स से खुद को फिट रखती हैं सोनम कपूर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 06, 2017
Quick Bites

  • सोनम ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर एक विडियो अपलोड किया है।
  • जिसमें सोनम को राधिका पिलेट्स एक्सरसाइज़ की ट्रेनिंग दे रही हैं।
  • पिलेट्स एक्सरसाइज एक विशेष उपकारण के साथ किए जाते हैं।

रांझणा, प्रेम रतन धन पायो और नीरजा जैसी सफल फिल्मों में अपनी अदाकारी का लोहा मनवा चुकी 31 साल की सोनम कपूर अपनी फिटनेस को लेकर काफी सजग रहती हैं। खुद को फिट रखने के लिए वह नियमित रूप से एक्सरसाइज़ करती है। सोनम की फिटनेस के पीछे उनकी ट्रेनर राधिका का बहुत बड़ा रोल हैं। राधिका से सोनम का जुड़ाव काफी पुराना है। हाल ही में सोनम ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर एक विडियो अपलोड किया है, जिसमें सोनम को राधिका पिलेट्स एक्सरसाइज़ की ट्रेनिंग दे रही हैं। यह विडियो अपलोड होते ही वायरल हो गया है।

इसे भी पढ़ें: सुष्मिता सेन दे रही हैं आपको फिट रहने के ये बेहतरीन टिप्स!

एक पुराने इंटरव्यू में राधिका बता चुकी हैं कि "सोनम की ट्रेनिंग में कुछ इफेक्टिव पिलेट्स और कार्डियो रूटीन की शुरुआत की गई है। सप्ताह के सातों दिन, सुबह और शाम वह ये एक्सरसाइज करती हैं। रोजाना सुबह सोनम, 45 मिनट पिलेट्स करती हैं और शाम को एक घंटे कार्डियो में बिताती हैं।" आपको बता दें कि सोनम इन एक्सरसाइज़ को नियमित रूप से करती हैं, जिससे वह हमेशा फिट रहती हैं।

वि‍डियो देखने के लिए क्लिक करें-

Morning sess with my fav @radhikasbalancedbody ❤❤❤

A post shared by sonamkapoor (@sonamkapoor) on Mar 2, 2017 at 11:32pm PST

क्या  है पिलेट्स एक्सरसाइज

पिलेट्स एक्सरसाइज एक विशेष उपकारण के साथ किए जाते हैं जो स्प्रिंग वाले प्रतिरोध के विरूद्ध कार्य करता है। यह एक चलती-फिरती या आगे-पीछे होने वाली कैरिज होती है, जिसे इसके पथ पर खींचा जाता है या फिर पुश किया जाता है। आपको बता दें कि पिलेट्स एक्सरसाइज बिना उपकरण के भी किया जाता है। इसमें हम मैट का प्रयोग करते हैं। यह शरीरिक क्रिया पर निर्भर करती है। इन व्यायामों को करने से हमारे शरीर को कई तरह से लाभ मिलता है। विशेषज्ञों की मानें तो इस व्यायाम को 45 से 90 मिनट करने पर इसका संपूर्ण लाभ मिल पाता है।

इसे भी पढ़ें: सनी देओल की 60 की उम्र में 30 जैसी फिटनेस का क्या है राज! जानिए

पिलेट्स करने के फायदे

1- इससे शरीर के मध्या भाग की मांसपेशियां, उदर, पीठ, नितंबों, श्रोणी व आं‍तरिक जंघाओं की गहरी तथा आंतरिक मांसपेसशियां होती हैं। जब मध्य भाग शक्तिशाली होता है तो सारा शरीर अधिक संतुलित और शक्तिशाली हो जाता है।
 
2- ये व्यायाम शरीर के कुछ भागों या मांसपेशियां अत्यधिक विकसित नही करते तथा अन्यी भागों की उपेक्षा नहीं करते। सही मायने में पिलेट्स व्यायाम सारे शरीर को समान रूप से विकसित करते हैं।
 
3- पिलेट्स के बारे में एक तथ्य यह भी है कि, इसे आप जितना करते हैं उतनी ही आपको उर्जा मिलती है। वास्तव में पिलेट्स व्यायाम मेरूदंड व मांसपेशियों को उत्‍तेजित करते हैं साथ ही शरीर को अच्छी भावनाओं से ओत-प्रोत कर देता है।
 
4- पिलेट्स व्यायाम हमारे शरीर के साथ जोड़ने के लिए निर्मित की गई है ये व्यायाम मस्तिष्क को व्यस्त रखते हैं और शरीर की सजगता को बढ़ाते हैं।
 
5- पिलेट्स व्यायाम हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। वास्तव में स्किपिंग रोप नियमित अभ्यास ओस्टियोपोरोसिस से बचाव करने में सहायता करती है।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source: zoom4india

Read More Articles on Celebrity Fitness In Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES1449 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK