कई स्किन और हेयर केयर उत्पादों में होता है खतरनाक SLS केमिकल, बनता है बाल झड़ने और त्वचा की खराबी का कारण

एसएलएस एक खतरनाक कैम‍िकल है जो बहुत से प्रोडक्‍ट्स में पाया जाता है। इससे आपकी स्‍किन और बाल डैमेज हो सकते हैं। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Feb 11, 2021Updated at: Feb 11, 2021
कई स्किन और हेयर केयर उत्पादों में होता है खतरनाक SLS केमिकल, बनता है बाल झड़ने और त्वचा की खराबी का कारण

क्‍या आपके बाल भी रूखे और त्‍वचा बेजान होती जा रही है? अगर हां तो एक बार अपने प्रोडक्‍ट्स पर ध्‍यान दें। कहीं उनमें सोड‍ियम सल्‍फेट तो नहीं? डेली लाइफ के कई ऐसे प्रोडक्‍ट हैं जि‍नमें सोड‍ियम सल्‍फेट पाया जाता है। ये एक क्‍लीन‍िंग एजेंट कैम‍िकल है ज‍िस पर लंबे समय से चर्चा होती आई है। कई स्‍क‍िन, ब्‍यूटी, हेयर और ग्रूम‍िंग प्रोडक्‍ट्स में इनका इस्‍तेमाल होता है। इससे आपकी स्‍क‍िन में रैश, जलन, बालों का झड़ना जैसी समस्‍या हो सकती है। आज हम आपको ऐसे प्रोडक्‍ट्स के बारे में बताएंगे ज‍िनमें ये कैम‍िकल पाया जाता है और उसके नुकसान पर भी चर्चा करेंगे। इस पर बात करने के ल‍िए हमने ओम स्किन क्लीनिक, लखनऊ के वरिष्ठ कंसलटेंट डर्मेटोलॉज‍िस्‍ट डॉ देवेश मिश्रा से संपर्क क‍िया।

products with sls are not good for skin 

एसएलएस क्‍या है? SLS (sodium lauryl sulfate)

ये एक फोम‍िंग एजेंट है जो कॉस्‍मेट‍िक, स्‍किन या हेयर प्रोडक्‍ट्स में इस्‍तेमाल क‍िया जाता है। क्‍ल‍ीनिंग प्रॉपर्टी के ल‍िए इसका इस्‍तेमाल क‍िया जाता है इसल‍िए इसे स्‍किन की गंदगी हटाने के ल‍िए इस्‍तेमाल क‍िया जाता है पर ये स्‍क‍िन इर‍िटेशन का कारण भी हो सकता है। अगर आपकी स्‍क‍िन सेंसेट‍िव है तो ये कैम‍िकल आपकी स्‍क‍िन को ड्राय बना सकता है। 

क्‍या बालों को नुकसान पहुंचाता है सोड‍ियम सल्‍फेट? (Harmful effects of sodium sulphate on hairs)

अगर आपको अपने बाल रूखे या बेजान लगें तो शैम्‍पू या हेयर प्रोडक्‍ट को चेक करें उसमें एसएलएस तो नहीं। आपको इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि आप बालों को सोड‍ियम सल्‍फेट से दूर रखें। इसका इस्‍तेमाल बॉथ और हेयर प्रोडक्‍ट्स में क‍िया जाता है। ये आपके बालों का नैचुरल ऑयल खत्‍म कर सकता है। इससे बाल रूखे और कमजोर भी हो सकते हैं। ये एक तरह का क्‍ल‍ीनिंग एजेंट है तो ये आपके बाल की गंदगी को हटा देगा पर इससे ड्राय स्‍कैल्‍प की समस्‍या बढ़ सकती है। सोड‍ियम सल्‍फेट को रोजाना यूज करने से बालों की ग्रोथ रुक जाती है और बाल टूटने लगते हैं। इससे आपके बालों में डैंड्रफ और खुजली भी हो सकती है। जो लोग हेयर कलर करवाकर सल्‍फेट वाला शैम्‍पू कर लेते हैं उनके बालों को भी नुकसान पहुंचता है। इससे बाल डल और वॉश आउट लगते हैं।  

स्‍क‍िन को कैसे नुकसान पहुंचाता है ये कैम‍िकल? (Harmful effects of sodium sulphate on skin)

SLS is harmful for skin

ये कैम‍िकल लगभग सभी लोशन या क्रीम में लंबे समय से इस्‍तेमाल क‍िया जाता रहा है। इससे स्‍क‍िन से जुड़ी कई बीमार‍ियां आपको हो सकती हैं। इसल‍िए इनका इस्‍तेमाल अवॉइड करना चाह‍िए। ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट्स में भी इनकी अच्‍छी मात्रा होती है। इससे स्‍क‍िन में रेड पैच, ड्रायनेस या दाने भी हो सकते हैं। जर्मनी में क‍िए गए शोध में 1600 मरीजों पर एसएलएस का इफेक्‍ट देखा गया उनमें से 42 प्रत‍िशत को इस कैम‍िकल से समस्‍या हुई। हमारी स्‍क‍िन की आउटर लेयर इस तरह बनी है क‍ि हॉर्मफुल चीजें उस पर असर न डाल सकें पर सोड‍ियम सल्‍फेट के संपर्क में आते ही स्‍क‍िन अपनी ये प्रॉपर्टी लूज कर देती है और स्‍क‍िन में परेशानी शुरू हो जाती है। इससे स्‍क‍िन में मौजूद नैचुरल ऑयल खत्‍म होते हैं इसल‍िए इस कैम‍िकल के इस्‍तेमाल से बचना चाह‍िए। 

इसे भी पढ़ें- Face Care: नहाते समय क्या आप भी शॉवर के पानी से ही चेहरा भी धो लेते हैं? हो सकते हैं ये 5 नुकसान

क‍िन प्रोडक्‍ट्स में सोड‍ियम सल्‍फेट होता है? (Products containing sodium sulphate)

स्‍क‍िन केयर में ऐसे कई प्रोडक्‍ट्स हैं ज‍िनमें ये कैम‍िकल पाया जाता है। कई र‍िसर्च में यू प्रूफ हुआ है क‍ि इससे स्‍क‍िन इर‍िटेशन होती है। वहीं एक्‍ज‍िमा और सरोस‍िस जैसी बीमारी होने की आशंका बढ़ जाती है इसल‍िए हमें इनका इस्‍तेमाल नहीं करना है। सोड‍ियम सल्‍फेट पॉम ऑयल से भी बनता है और उस तेल की गुणवत्‍ता पर कोई कंपनी खुलकर कुछ नहीं बोलती। चल‍िए जानते हैं वो कॉमन प्रोडक्‍ट्स ज‍िनमें सोड‍ियम सल्‍फेट पाया जाता है। 

1. हेयर र‍िमूवल क्रीम (Hair removal creams)

अगर बात करें ग्रूम‍िंग प्रोडक्‍ट्स की तो ज‍िस क्रीम से आप हेयर र‍िमूव करती है उसमें ये कैमिकल पाया जाता है इसल‍िए कई लोगों को इसे लगाने पर जलन का अहसास होता है। आदम‍ियों की शेव‍िंग क्रीम में भी ये पाया जाता है। बाल हटाने के ल‍िए हेयर र‍िमूवल क्रीम की जगह आप रेजर या वैक्‍स का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

2. ल‍िप बॉम (Lip balm)

बहुत से लोगों को ल‍िप बॉम लगाने के बाद होठों में दर्द या जलन होने लगती है उसका है सोड‍ियम सल्‍फेट। ये कैम‍िकल ल‍िप बॉम में भी पाया जाता है। अक्‍सर बच्‍चे भी ल‍िप बॉम का इस्‍तेमाल करते देखे जाते हैं। आपको बच्‍चों को ल‍िप बॉम लगाने से मना करना चाह‍िए। उसकी जगह आप कोकोनट ऑयल लगा सकते हैं। 

3. हैंड सेनेटाइजर (Hand sanitizer)

बीते साल हमने हैंड सेनेटाइजर का सबसे ज्‍यादा इस्‍तेमाल क‍िया। कुछ लोगों को इससे हाथ में रैश या खुजली की समस्‍या भी हुई। उसका कारण था सोड‍ियम सल्‍फेट। ये हैंड सेनेटाइजर में पाया जाता है। लंबी बहस के बाद कई कंपनी ने इसके साइड इफेक्‍ट देखते हुए इसके इस्‍तेमाल को बंद क‍िया। आप भी हैंड सेनेटाइजर खरीदने से पहले उसके पीछे ल‍िखे कैम‍िकल पर नजर जरूर रखें। 

4. नेल ट्रीटमेंट प्रोडक्‍ट्स (Nail products)

कई ऐसे पैड‍िक्‍योर या मैनिक्‍योर प्रोडक्‍ट्स जैसे नेल इनेमल या नेल पेंट है ज‍िनमें एसएलएस पाया जाता है। ये नाखून की त्‍वचा को रूखी कर देते हैं। अगर आप पार्लर में नेल ट्रीटमेंट करवाएं तो देख लें क‍ि कहीं क‍िसी प्रोडक्‍ट में ये कैम‍िकल न हो। 

5. मेकअप र‍िमूवर (Makeup remover)

मेकअप न‍िकालने के ल‍िए आप बादाम के तेल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं क्‍योंक‍ि बाजार में म‍िलने वाले मेकअप र‍िमूवर में भी सोड‍ियम सल्‍फेट पाया जाता है। ये आपकी स्‍क‍िन के सेल्‍स को डैमेज कर सकता है इसल‍िए इसके इस्‍तेमाल से बचना चाहि‍ए। 

6. फाउंडेशन (Foundation)

स्‍क‍िन केयर ही नहीं बल्‍क‍ि ब्‍यूट‍ी प्रोडक्‍ट्स में भी एसएलएस पाया जाता है। कई कंपनियां फाउंडेशन में ये कैमिकल म‍िलाती हैं। कुछ लोगों को लगता है क‍ि उन्‍हें फाउंडेशन से एलर्जी है पर दरअसल वो इस कैम‍िकल के कारण लगता है। आप एसएलएस फ्री फाउंडेशन का ही इस्‍तेमाल करें। 

इसे भी पढ़ें- सर्दी-जुकाम वाले बाम से मिल सकते हैं स्किन को कई फायदे, एक्सपर्ट से जानें कब और कैसे करें प्रयोग 

7. शैम्‍पू और कंडीशनर (Hair shampoo conditioner)

shampoo contains sls

इन हेयर प्रोडक्‍ट्स में ये कैम‍िकल ज्‍यादा मात्रा में पाया जाता है। आपको नैचुरल शैम्‍पू या कंडीशनर खरीदना चाहि‍ए। एसएलएस कैम‍िकल आपके बालों की ग्रोथ को रोककर बालों को रूखा कर सकता है इसलि‍ए इससे बचें। 

8. हेयर डॉय और स्‍टाइल‍िंग जैल (Hair products)

इन हेयर प्रोडक्‍ट्स में भी सोड‍ियम सल्‍फेट पाया जाता है। आप हेयर डॉय की जगह नैचुरल हीना का इस्‍तेमाल करें। स्‍टाइल‍िंग जैल के इस्‍तेमाल से बचना चाह‍िए। ये वैसे भी बालों के लिए हेल्‍दी नहीं होता। 

9. डेंटल प्रोडक्‍ट्स (Dental products)

ओरल हेल्‍थ प्रोडक्‍ट्स जैसे टूथपेस्‍ट, माउथवॉश या दांतों को सफेद करने वाले प्रोडक्‍ट्स में भी ये कैम‍िकल पाया जाता है। आपको इसके इस्‍तेमाल से बचना चाहि‍ए। कोशिश करें क‍ि नैचुरल प्रोडक्‍ट्स को ही दांतों पर इस्‍तेमाल करें। दांतों का इनेमल बहुत नाजुक होता है। हॉर्श कैम‍िकल से दांत खराब हो सकते हैं। 

10. बॉथ प्रोडक्‍ट्स (Bathing products)

कई ऐसे बॉथिंग प्रोडक्‍ट्स हैं जैसे बॉथ ऑयल या सॉल्‍ट, बॉडी वॉश या बबल बॉथ इन सब में सोड‍ियम सल्‍फेट हो सकता है। आपको इन सब पर अपनी नजर रखनी होगी। अगर क‍िसी भी प्रोडक्‍ट्स पर आपको ये कैमिकल लिखा द‍िखे तो उसे न खरीदें। बॉथिंग प्रोडक्‍ट्स ज्‍यादातर पूरी बॉडी पर इस्‍तेमाल क‍िए जाते हैं इसल‍िए ये जरूरी है क‍ि आप हेल्‍दी बॉडी के ल‍िए हॉर्मफुल कैम‍िकल से दूर रहें। 

11. क्रीम्‍स और लोशन (Creams Lotion)

कई क्रीम और लोशन में भी ये कैम‍िकल डाला जाता है। इससे आपके पोर्स लॉक हो सकते हैं। आजकल मार्केट में कई तरह के ब्‍यूटी फेस मास्‍क म‍िल रहे हैं। इनमें भी ये कैम‍िकल डाला जाता है वहीं धूप से बचाने वाली सनस्‍क्रीन में भी ये कैम‍िकल होता है इसल‍िए सभी प्रोडक्‍ट्स के लेबल को ध्‍यान से पढ़ें। 

अगली बार आप भी इन प्रोडक्‍ट्स को खरीदने से पहले हॉर्मफुल कैम‍िकल्‍स की ल‍िस्‍ट को चेक कर लें। 

Read more on Skin Care in Hindi 

Disclaimer