कोरोनावायरस ट्रांसमिशन को कम करने में मददगार हो सकता है माउथवॉश से गरारे करना : शोध

नए अध्‍ययन में पाया गया है कि मेडिकल स्‍टोर में उपलब्‍ध्‍ा माउथवॉश से गरारे करने से मुंह और गले में वायरस के कणों की मात्रा कम हो सकती है।

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Aug 14, 2020Updated at: Aug 14, 2020
कोरोनावायरस ट्रांसमिशन को कम करने में मददगार हो सकता है माउथवॉश से गरारे करना : शोध

क्‍या आप भी माउथवॉश की मदद से अपने मुंह और गले की सफाई करते हैं? अगर हां, तो ये अच्‍छी बात है, क्‍योंकि हाल में हुए एक नए अध्‍ययन में पाया गया है कि मेडिकल स्‍टोर में उपलब्‍ध माउथवॉश से गरारे करना कोरोनावायरस संक्रमण के फैलने को कम कर सकता है। जी हां, ऐसा इस‍लिए संभव हो सकता है क्‍योंकि माउथवॉश से गरारे करने से मुंह और गले में मौजूद वायरस के कणों की मात्रा कम हो सकती है। जिससे कि कोरोनावायरस के अल्‍पकालिक संचरण यानि ट्रासमिशन को कम करने में मदद मिल सकती है। आइए इस बारे में अधिक जानने के लिए रिसर्च को आगे पढ़ें। 

क्‍या कहती है ये नई रिसर्च?

जर्नल ऑफ इनफेक्शियस डिजीज में प्रकाशित, इस अध्ययन में बड़े पैमाने पर उल्लेख किया गया है कि माउथवॉश कोरोनावायरस संक्रमण के इलाज के लिए उपयुक्त नहीं हैं और यह हमें वायरस या SARS-CoV-2 से नहीं बचाता, लेकिन हां, ये COVID-19 ट्रांसमिशन के जोखिम को कम कर सकता है।  

जर्मनी में रुहर विश्वविद्यालय बोचुम के शोधकर्ताओं सहित अन्‍य का मानना है कि COVID-19 रोगियों के ओरल कैविटी और गले में बड़ी मात्रा में वायरस के कणों का पता लगाया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: स्लीप पैरालिसिस के इलाज में मददगार हो सकती है मेडिटेशन रिलेक्सेशन थेरेपी, शोध ने किया खुलासा

Gargling With Mouthwash

अध्ययन में, उन्होंने उल्लेख किया कि वायरस के संचरण के मुख्य मार्ग में संक्रमित व्यक्तियों की सांस की बूंदों के साथ सीधा संपर्क शामिल है, जो छींकने, खांसने या बात करने के दौरान उत्पन्न होते हैं और स्वस्थ व्यक्तियों के नाक, मुंह या आंखों संबंधी श्लेष्मा के बाद के संपर्क में आते हैं। 

कोरोनावायरस ट्रांसमिशन को कम करता है माउथवॉश से गरारे करना 

शोधकर्ताओं ने कहा है कि इस अध्‍ययन के निष्कर्ष इस विचार का समर्थन करते हैं कि माउथवॉश से कुल्‍ला या गरारे करना लार में मॉजूद वायरस को कम कर सकता है और इस प्रकार SARS-CoV-2 के संचरण या ट्रांसमिशन को भी कम कर सकता है।

शोधकर्ताओं ने कहा है, "हमारे निष्कर्ष स्पष्ट रूप से नैदानिक रूप से रोगियों और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं में ओरल कैविटी और टिश्‍यू हेल्‍थ मूल्यांकन करने के लिए एक नैदानिक संदर्भ में चयनित योगों के मूल्यांकन को संभावित रूप से वायरस संचरण को रोकने की वकालत करते हैं"।  

इसे भी पढ़ें: बच्‍चे के मस्तिष्‍क विकास में बाधा डाल सकता है मां को मोटापा, शोधकर्ताओं ने किया खुलासा

विभिन्न प्रकार के माउथवॉश, विभिन्न सामग्रियों के साथ थे जो जर्मनी भर में फार्मेसियों में उपलब्ध थे, इस अध्ययन के नियत समय के तहत परीक्षण किए गए थे। वैज्ञानिकों ने लार प्रभाव को फिर से बनाने के लिए प्रत्येक माउथवॉश को वायरस के कणों और एक पदार्थ के साथ मिलाया। जिसमें वायरस के कणों की मात्रा निर्धारित करने के लिए, उन्होंने इसे हिलाकर गरारे करने के प्रभाव का अनुकरण किया और इसे वेरो ई 6 कोशिकाओं में परीक्षण किया, जो कि SARS-CoV-2 के लिए "विशेष रूप से है।

Mouthwash Can Help Reduce Coronavirus Transmission

रुहर विश्वविद्यालय बोचुम से अध्ययन के सह-लेखक टोनी मिस्टर ने बताया, “माउथवॉश के साथ गरारे करना कोशिकाओं में वायरस के उत्पादन को रोक नहीं सकता है, लेकिन अल्पावधि में वायरल की मात्रा को कम कर सकता है, जहां संक्रमण की सबसे बड़ी संभावना ओरल कैविटी यानि मुंह और गले में आती है। यह कुछ स्थितियों में उपयोगी हो सकता है। इस प्रकार यह COVID-19 ट्रांसमिशन के खतरे को कम कर सकता है।

Read More Article On Health News In Hindi 

Disclaimer