Pet Allergy: क्यों होती है पालतू जानवरों से एलर्जी? जानें पेट एलर्जी के लक्षण, कारण और बचाव के तरीके

क्या आपके घर में कोई पालतू जानवर है? क्या आप जानते हैं कि आपके घर में पलने वाला यह जानवर भी एलर्जी का कारण हो सकता है? यदि नहीं तो जानें विस्तार से।

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: Feb 24, 2021Updated at: Feb 24, 2021
Pet Allergy: क्यों होती है पालतू जानवरों से एलर्जी? जानें पेट एलर्जी के लक्षण, कारण और बचाव के तरीके

हो सकता है आपने भी कोई जानवर पाल रखा हो। तो ऐसे में और भी जरूरी हो जाता है कि आप अपने पालतू जानवर से जुड़ी सभी बातों की जानकारी रखें। कभी-कभी इन पालतू जानवरों की वजह से भी एलर्जी (Pet allergy) हो सकती है।असल में पालतू जानवरों से होने वाली एलर्जी उन के पेशाब, स्किन सेल्स व सलाइवा में पाए जाने वाले प्रोटीन के द्वारा होती है। इसके कुछ मुख्य लक्षणों में तेज बुखार होना, छींकें आना व नाक बहना शामिल है। कुछ लोगों को अस्थमा के लक्षण (Asthma problem) जैसे सांस फूलने आदि भी महसूस होते हैं। यह एलर्जी कुछ पालतू पशुओं के बाल झड़ने के समय, सम्पर्क में आने से और अधिक गम्भीर हो जाती है। इस एलर्जी (Pet allergy) का स्रोत कोई भी पशु जिसका फर होता है उसके कारण हो सकती है। इसे ठीक करने के लिए आपको दवाइयों का प्रयोग करना होगा।

पालतू जानवरों से एलर्जी के लक्षण (Symptoms of Pet allergy)

  • छींक आना
  • नाक बहना
  • आंखें लाल होना व उनमें से पानी आना
  • खांसी होना
  • बार बार नींद से उठ जाना
  • बच्चों का अपने नाक को बार बार मसलना
  • आंखों के नीचे सूजन आना और वहां की स्किन नीली पड़ जाना
  • नाक, गले व गरदन पर खुजली होना
pet allergy

पालतू जानवर के कारण अस्थमा (Asthma Symptoms Due to Pet Allergy)

यदि पालतू जानवरों से एलर्जी के कारण आपको अस्थमा होता है तो उस दौरान आपको निम्न लक्षण देखने को मिल सकते हैं।

  • सांस लेने में परेशानी होना
  • सांस बाहर छोड़ते समय एक अजीब आवाज होना
  • छाती में दर्द होना
  • सांस फूलने के कारण नींद न आना

स्किन में होने वाले लक्षण (Signs of Pet Allergy on Skin)

कुछ लोगों की स्किन में भी कुछ एलर्जिक लक्षण देखने को मिलते हैं जो निम्न हैं।

  • स्किन पर लाल रंग के पैच हो जाना।
  • स्किन में खुजली होना।
  • एक्जिमा।

आपको डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए? (When to Consult a Doctor)

वैसे तो इसके कुछ लक्षण बिल्कुल ठंड लगने के जैसे ही हैं इसलिए आप इन दोनों में कंफ्यूज हो सकते हैं। लेकिन यदि आपके लक्षण एक या दो हफ्ते से ज्यादा रहते हैं तो आपको समझ जाना चाहिए कि यह आपको एलर्जी (Pet Allergy) हुई है। यदि आपको कुछ ज्यादा अलग लक्षण दिखते हैं जैसे सांस फूलने जैसे या नाक ब्लॉक होना तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए।

जानवरों से होने वाली एलर्जी का कारण (Causes For Pet Allergies)

एलर्जी आपको तब होती है जब आपका इम्यून सिस्टम किसी बाहर के तत्त्व जैसे पॉलन या मोल्ड आदि के सम्पर्क में आता है। आपका इम्यून सिस्टम आपके शरीर में एंटी बॉडीज बनाता है जो आपको बीमारियों व इंफेक्शन होने से बचाती है। जब कोई एलर्जिक सब्सटेंस आपके इम्यून सिस्टम के सम्पर्क में आते हैं तो वह आपके नेस़ल पैसेज या फेफड़ों के माध्यम से रिएक्ट करता है। यदि आपको लंबे समय तक एलर्जी रहती है तो इससे सूजन भी हो सकती है।

कुत्ते व बिल्ली से एलर्जी (Allergy from Dog and Cat)

कुत्तों व बिल्लियों की जो स्किन शेड होते हैं, उससे आपको एलर्जी हो सकती है। इन पशुओं के सलाइवा व यूरिन से भी आपको एलर्जी हो सकती है। इनका सलाइवा कार्पैट या किसी भी फर्नीचर से चिपक सकता है और यह हवा के द्वारा भी आपके सम्पर्क में आ सकता है। इस प्रकार आप कुत्ते व बिल्लियों के द्वारा एलर्जिक हो सकते हैं।

pet allergy signs and symptoms

चूहे व खरगोश से एलर्जी (Allergy from Rodents)

इस प्रकार के पशुओं के बालों, सलाइवा व यूरिन आदि भी एलर्जी का कारण बन सकते हैं। जहां ये पशु रहते हैं उस जगह की धूल मिट्टी से यह एलर्जी हवा के माध्यम से भी फैल सकती है।

कुछ अन्य पशुओं से एलर्जी (Allergy from Other Pets)

यह एलर्जी जिन पशुओं के पास फर नहीं होते उनके माध्यम से भी फैल सकती है,जैसे मछलियों व रेंग कर चलने वाले जानवरों द्वारा।

जानवरों से फैलने वाली एलर्जी के खतरे (Allergy Risk Factors)

यह एलर्जी वैसे तो बहुत आम होती है लेकिन यदि आपको पहले से ही अस्थमा है या एलर्जी है तो यह आपको अधिक हो सकती है। यदि आप शुरुआत से ही किसी पालतू पशु के साथ रहते हैं तो इससे आपका यह एलर्जी होने का खतरा बिल्कुल कम होता है।

साइनस इंफेक्शन (Sinus Infection)

इस एलर्जी के कारण आपको साइनस इंफेक्शन हो सकता है। साइनस एक प्रकार का बैक्टेरिया है जो आपके शरीर में इंफेक्शन पैदा करता है।

asthma symptoms due to pet allergy

अस्थमा (Asthma Problem)

इस प्रकार की एलर्जी से यदि आपको पहले से अस्थमा है तो उसके लक्षण और अधिक गंभीर हो सकते हैं और यदि आप पहले से ठीक भी हैं तो भी यह एलर्जी आपको कुछ अस्थमा के लक्षणों से नवाज सकती है।

इसे भी पढ़ें: जानवरों को पालने का शौक है तो रखें सावधानी, हो सकती हैं ये 5 बीमारियां

पेट्स एलर्जी से कैसे बचें (Precautions)

यदि आप कोई नया पालतू पशु (Pets)खरीदने की सोच रहे हैं और आप पहले से ही एलर्जिक हैं तो आपको एक बार फिर सोच लेना चाहिए क्योंकि इससे आपका पेट एलर्जी होने का रिस्क बढ़ सकता है।

इम्यूनोथेरेपी (Immunotherapy)

इम्यून सिस्टम को किसी भी प्रकार की पॉलन एलर्जी (Pollen Allergy) से बचाने के लिए डॉ के द्वारा इम्यूनोथेरेपी शॉट्स दिए जाते हैं। शुरुआत में हल्की डोज दी जाती है बाद में धीरे-धीरे बढ़ाया जाता है और तीन से पांच साल तक हर चार सप्ताह में  शॉट्स की आवश्यकता होती है। इसके अलावा निम्न बातों का रखें ध्यान।

  • पालतू जानवरों को बेडरूम से बाहर रखें।
  • नियमित रूप से पालतू जानवरों को नहलायें।
  • यदि आपके कमरे में आपका पालतू जानवर रहता है तो वहां कारपैट नहीं बिछाए।
  • सप्ताह में एक बार वैक्यूम का प्रयोग करें और इसके लिए एच इ पी  ए (HPEA) वैक्यूम का प्रयोग करें।
  • एसी वेंट्स को बारीक कपड़े से ढक दें ताकि वह एलर्जी को सोख लें और पूरे कमरे में एलर्जी कीटाणु ना फैल पाएं।
  • समय-समय पर जानवरों के डॉक्टर से सलाह लेते रहें और उनका नियमित चेकअप करवाएं।

यदि हमारे बताए हुए टिप्स को फॉलो करते हैं तो आप घर में पल रहे पालतू जानवर से होने वाली किसी भी प्रकार की एलर्जी से बचे रहेंगे।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer