बार-बार बोर होने से हो आप सकते हैं इन मानसिक समस्याओं का शिकार, जानें कैसे रहें खुश

Side Effects of Boredom: बार-बार बोर होने वाले लोगों में मानसिक और शारीरिक समस्याएं जन्म लेने लगती हैं, जानें इससे बचने के टिप्स।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 27, 2022 19:03 IST
बार-बार बोर होने से हो आप सकते हैं इन मानसिक समस्याओं का शिकार, जानें कैसे रहें खुश

Side Effects of Boredom: आपने लोगों को कई बार यह कहते हुए सुना होगा कि मैं बोर हो चुका हूं। बोरियत महसूस करना या बोर होना या किसी चीज में रूचि न लेना आपके मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर डालता है। इसकी वजह से आप गंभीर मानसिक समस्याओं का शिकार भी हो सकते हैं। बोर होने पर आप नीरस हो जाते हैं और आपका मन किसी भी चीज में नहीं लगता है। वैसे तो किसी नापसंद चीज या गतिविधि में रूचि न लेना या बोर होना आम है, लेकिन अगर आप बार-बार बोर हो जाते हैं तो यह एक गंभीर समस्या है। बार-बार बोना आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए खतरा है। बार-बार या अक्सर बोर होने वाले लोगों में कई तरह की मानसिक और शारीरिक बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

बोर होने के नुकसान-  Side Effects of Boredom in Hindi

बोर होना या बोरियत महसूस करना एक ऐसी स्थिति है जिसमें आपके मन में खालीपन और निराशा भर जाती है। कुछ स्थितियां या गतिविधि जिसकी वजह से आप ऊब जाते हैं, तो उन चीजों में आपकी रूचि खत्म होने लगती है। इसकी वजह से आप नर्वस, चिड़चिड़े या थका हुआ महसूस कर सकते हैं। लंबे समय तक बोरियत की समस्या से जूझने वाले लोगों में कई तरह के मानसिक विकार जन्म लेने लगते हैं और आगे चलकर उनकी परेशानियां बढ़ जाती हैं।

Side Effects of Boredom

इसे भी पढ़ें: कहीं आपके मूड स्विंग्स का कारण इन 4 पोषक तत्वों की कमी तो नहीं? जानें कैसे करें आपूर्ति

बार-बार होने की वजह से आपके सेहत पर ये नकारात्मक प्रभाव पड़ सकते हैं-

1. बार-बार या अक्सर बोर हो जाने वाले लोगों के जीवन में नीरसता बढ़ जाती है। इसकी वजह से आपके कामकाज और फोकस पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

2. लंबे समय तक बोरियत की वजह से इंसान मानसिक अवसाद या डिप्रेशन का शिकार हो सकता है।

3. बार-बार या अक्सर बोर होने वाले लोगों में चिड़चिड़ापन की समस्या बहुत तेजी से जन्म ले लेती है। ऐसे लोग जो बार-बार बोर होते हैं वे चिड़चिड़ापन का शिकार जल्दी होते हैं।

4. बोर होने वाले लोगों का मेंटल लेवल भी कमजोर होने लगता है और इसकी वजह से उनके शारीरिक स्वास्थ्य पर भी गंभीर प्रभाव पड़ता है।

5. बोर होने वाले व्यक्ति के शरीर की सक्रियता खत्म हो जाती है और इसकी वजह से उसका शरीर कमजोर होने लगता है।

बोर होने से बचने के तरीके

बोरियत की समस्या को अनदेखा करना आपकी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक माना जाता है। अगर आप भी बोरियत का शिकार हैं, तो सबसे पहले खुद के लिए समय निकालें और जो काम आपको सबसे ज्यादा पसंद हो उसमें ध्यान लगाएं। अगर आपको संगीत सुनना अच्छा लगता है तो अपना पसंदीदा संगीत सुनें। इसके अलावा नियमित रूप से युग और ध्यान का अभ्यास करने से आप बोरियत या बार-बार बोर होने की समस्या से बच सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: बच्चों के साथ बहस करते हुए पेरेंट्स को ध्यान रखनी चाहिए ये 5 बातें

लंबे समय तक इस समस्या का शिकार होने पर आप ऊपर बताई गयी समस्याओं का शिकार हो सकते हैं। अगर यह समस्या लंबे समय तक बनी रहती है, तो किसी मनोचिकित्सक या पेशेवर से सलाह लें।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer