बच्चों को किस उम्र के बाद और कैसे खिलाना चाहिए आइसक्रीम, जानें जरूरी सावधानियां

अक्सर लोग अनजाने में कम उम्र के बच्चों को आइसक्रीम खिला देते हैं, बच्चों को आइसक्रीम खिलाने से पहले एक्सपर्ट से जाने जरूरी सावधानियों के बारे में।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Oct 01, 2021
बच्चों को किस उम्र के बाद और कैसे खिलाना चाहिए आइसक्रीम, जानें जरूरी सावधानियां

बच्चों की अच्छी सेहत के लिए उन्हें सही पोषण और आहार की जरूरत होती है। माता-पिता को हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उनके बच्चे को किस उम्र में कौन सी चीजें खिलाई जा सकती हैं। कई बार जानकारी के अभाव में पेरेंट्स उन्हें गलत चीजें खिला देते हैं जिसका असर उनकी सेहत पर भी पड़ता है। जैसा कि सभी जानते हैं बच्चे को जन्म के बाद छह माह तक सिर्फ मां के दूध का सेवन करना चाहिए। छह महीने के बाद बच्चों को ऊपरी आहार दिया जाता है। इस दौरान भी जरूरी सावधानियों का ध्यान रखा जाना चाहिए। बच्चों का पोषण सही तरीके से न होने के कारण उनके विकास में तो दिक्कतें होती ही हैं इसके साथ ही कई तरह की समस्याएं भी हो जाती हैं। कई बार माता-पिता छोटे बच्चों को कम उम्र में ही आइसक्रीम खिलाने लग जाते हैं या बच्चे के जिद करने पर उन्हें आइसक्रीम खाने को दे देते हैं। इससे पहले कि आप अपने बच्चे को आइसक्रीम खिलाएं आपको यह जान लेना चाहिए कि किस उम्र में बच्चे को आइसक्रीम खिलाना सुरक्षित माना जाता है और इस विषय पर एक्सपर्ट्स की राय क्या है?

किस उम्र में दें बच्चों को आइसक्रीम? (When Can Babies Eat Ice Cream?)

Can-Babies-Eat-Ice-Cream

(image source - freepik.com)

बच्चों को आइसक्रीम खिलाने से पहले इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि इससे उनकी सेहत को नुकसान न पहुंचे। हैदराबाद स्थित अपोलो हॉस्पिटल की क्लिनिकल डायटीशियन डॉ दीपिका रानी कहती हैं कि बच्चों को एक साल की उम्र के बाद ही आइसक्रीम खिलाना चाहिए। इससे पहले उन्हें आइसक्रीम देने से नुकसान हो सकता है। इस दौरान यह भी ध्यान रखना चाहिए कि आइसक्रीम खाने से बच्चों को कोई नुकसान न पहुंचे। आमतौर पर बच्चों को एक साल के बाद ही डेयरी प्रोडक्ट्स खिलाना चाहिए। एक साल के बच्चे को अगर आप आइसक्रीम खिला रहे हैं तो इस दौरान ध्यान रहे कि आइसक्रीम का तापमान बहुत अधिक ठंडा न हो और फल या कच्चे दूध से बनी आइसक्रीम ही खिलाएं। बर्फ या अन्य चीजों से बनी आइसक्रीम बच्चों को देने से उनकी सेहत को कोई फायदा नहीं मिलता है और इसकी वजह से उन्हें दिक्कत भी हो सकती है। 

बच्चों को आइसक्रीम खिलाने से पहले जरूर रखें इन बातों का ध्यान (Important Things You Must Know When Giving Ice Cream To Babies)

एक्सपर्ट्स के मुताबिक एक साल की उम्र से पहले बच्चों को आइसक्रीम खिलाने के कोई फायदे नहीं होते बल्कि इससे उनकी सेहत को नुकसान पहुंच सकता है। बाजार में मिलने वाली आइसक्रीम में प्रिजर्वेटिव, फैट, शुगर, आर्टिफिशियल चीजें और तमाम प्रकार के फूड कलर भी मिलाए जाते हैं। इसलिए चिकित्सक हमेशा यह सलाह देते हैं कि इन चीजों को बच्चों को न दें। अगर एक साल की उम्र के बाद आप अपने बच्चे को आइसक्रीम खिलाना चाहते हैं तो इन बातों का ध्यान जरूर रखें।

इसे भी पढ़ें : बच्चों के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है साबूदाना, पाचन क्रिया सुधरने के साथ हड्डियां भी होंगी मजबूत

Can-Babies-Eat-Ice-Cream

(image source - freepik.com)

  • बाजार में मिलने वाली आइसक्रीम की जगह घर बनी आइसक्रीम बच्चे को दें।
  • फ्रूट्स और दूध से बनी आइसक्रीम ही बच्चों को दें।
  • आइसक्रीम बनाने में किसी तरह के प्रिजर्वेटिव या आर्टिफिशियल चीजों का इस्तेमाल न करें।
  • ऐसी चीजों का इस्तेमाल न करें जो पचने में ज्यादा समय लेती हैं।
  • अधिक फैट व क्रीम वाली आइसक्रीम बच्चों को न खिलाएं।
  • बच्चों को आइसक्रीम खिलाने से पहले लैक्टोज असहिष्णुता का ध्यान रखें।
  • एक साल से अधिक उम्र वाले बच्चों को आइसक्रीम खिलाने से पहले आइसक्रीम में मौजूद तत्वों के बारे में पढ़ें।
  • नट्स, मूंगफली, स्ट्रॉबेरी और कलरिंग एजेंट आदि से युक्त आइसक्रीम बच्चों को न खिलाएं।

एक साल से कम उम्र के बच्चों को तो घर पर बनी हुई आइसक्रीम नहीं देनी चाहिए। एक साल से अधिक उम्र वाले बच्चों को आप अपने हाथों से बिना किसी हानिकारक पदार्थों के इस्तेमाल से बनी आइसक्रीम खिला सकते हैं। इसके आलावा आप बच्चों को आइसक्रीम खिलाने की जगह कुछ फ्रूट्स आदि को ब्लेंड करने के बाद फ्रीज करके खिला सकते हैं। बच्चों को कभी भी बहुत अधिक ठंडी आइसक्रीम नहीं खिलानी चाहिए। बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए आप ताजे फलों की स्मूदी दे सकते हैं। बाजार से आइसक्रीम खरीदकर बच्चों को खिलाने की जगह आप उसे घर में तैयार कर दें। अगर आप ऊपर बताई गयी इन बातों का ध्यान रखेंगे तो आपके बच्चों कोई परेशानी नहीं होगी।

(main image source - freepik.com)

 
Disclaimer