सिरदर्द के लिए अजवायन तो तुलसी है गले की खराश में लाभदायक, रसोई में छिपा हर दर्द का इलाज

शरीर के कुछ अंगों में उठते दर्द के लिए अक्सर हम डॉक्टर की सलाह या एक पेन किलर ले लेते हैं। ऐसे में हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बता रहे हैं..

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 07, 2020
सिरदर्द के लिए अजवायन तो तुलसी है गले की खराश में लाभदायक, रसोई में छिपा हर दर्द का इलाज

जोड़ों का दर्द हो या सिर का, आपको बेचैन कर देता है। यहां तक कि इसका असर आपके जीवन, आपके डेली रूटीन और आपकी रोजमर्रा के कार्यों पर भी पड़ता है। इसलिए दर्द से जल्दी निजात पाना बेहद जरूरी होता है लोगों को दर्द से निजात पाने का सबसे आसान तरीका पेन किलर लगता है। लेकिन आप दवाइयों का सहारा लेने के बजाय यहां दिए गए घरेलू उपाय की मदद से अपने दर्द को कम कर सकते हैं। वो भी बिना किसी साइड इफेक्ट के। जाने कैसे....

home remedies for pain

अदरक से सर दर्द हो जाए छूमंतर

अदरक का इस्तेमाल सब्जी, चाय आदि के रूप में किया जाता है। पर क्या आप जानते हैं यह सिरदर्द को पलों में दूर कर देता है। इसके लिए आपको सूखी अदरक को पानी के साथ पीसकर पेस्ट बनाना होगा। और अपने माथे पर लगाना होगा। आपको इसे लगाने पर हल्की जलन या छरछराहट महसूस हो सकती है लेकिन यह दर्द दूर करने में बेहद सहायक है। कुछ लोग सिरदर्द होने पर इस पेस्ट को कान के पीछे भी लगाते हैं। इससे भी दर्द में राहत मिलती  है। 

पेट के दर्द को दूर करें खाने वाला सोडा

अगर आपके पेट में दर्द है तो आप खाने का सोडा इस्तेमाल कर सकते हैं। एक कप में एक चुटकी खाने वाला सोडा डालकर पीएं, इससे पेट दर्द में राहत मिलेगी। बता दें कि लड़कियों को पीरियड्स के दौरान पेट के निचले हिस्से में दर्द की शिकायत होती है ऐसे में वे सोडा पानी से शिकायत को दूर कर सकती हैं। एसिडिटी की समस्या होने पर पेट दर्द में एक गिलास पानी में एक चुटकी सोडा, 1/2 चम्मच भुना और पिसा हुआ जीरा, स्वादानुसार नमक 8 से 10 बूंदे नींबू का रस मिलाएं और उसे पी जाएं एसिडिटी दूर हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें- इन 3 कारणों से प्री मेंस्ट्रुएशन सिंड्रोम (PMS)से निपटने में मददगार है अदरक की चाय 

डायबिटीज के मरीजों के लिए मेथी है असरदार

अगर आप एक चम्मच मेथी दाने में चुटकी भर पिसी हुई हींग मिला दें तो इससे पेट दर्द की समस्या तो दूर होती ही है साथ ही यह डायबिटीज मैं भी लाभदायक है। अगर आपको जोड़ों के दर्द की शिकायत है तो मेथी को भूनकर उसके लड्डू प्रतिदिन खाने से भी लाभ मिलता है।

हींग दूर करें छाती और पेट दर्द

आयुर्वेद की मानें तो हींग दर्द निवारक और पित्तवर्धक होती है। खाने में स्वाद को बढ़ाने वाली हींग छाती और पेट दर्द में बेहद लाभकारी है। छोटे बच्चों के पेट में दर्द होने पर एकदम थोड़ी सी हींग को एक चम्मच पानी में घोलकर पका लें। फिर बच्चे की नाभि के चारो तरफ लगा दें। कुछ देर बाद दर्द खुद दूर हो जाएगा।

इसे भी पढ़ें- Homemade Herbal Tonics: दर्द से लेकर सूजन को दूर करने का रामबाण है इन 3 हर्बल टॉनिक का सेवन 

गले की समस्या के लिए तुलसी से बेहतर कुछ नहीं

तुलसी में गुणों का भंडार छिपा है। इसमें बहुत से औषधीय तत्व मौजूद हैं। अगर आप तुलसी के पत्तों को पीसकर चंदन पाउडर में मिला लें तो यह दर्द निवारक औषधि बन जाती है। कहीं भी दर्द होने पर इसका लेप उस जगह पर लगाएं तो आराम मिलता है। वहीं अगर आपके गले में दिक्कत है तो एक चम्मच तुलसी के रस को शहद में मिलाकर हल्का गुनगुना पानी के साथ पीएं। इससे गले की खराश दूर हो जाती है। यह खांसी में भी फायदेमंद होता है।

Read More Articles on Home remedies in hindi

Disclaimer