Weight Loss Story: 60 की उम्र में महिला ने किया कमाल, 90 दिन में घटाया 19 किलो वजन

Weight Loss Story: डाइटिशियन और न्यूट्रिशनिस्ट मीता कौर मधोक का कहना है कि पूनम जुनेजा का वजन 75 किलोग्राम था। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Sep 23, 2022Updated at: Sep 23, 2022
Weight Loss Story: 60 की उम्र में महिला ने किया कमाल, 90 दिन में घटाया 19 किलो वजन

Real Weight Loss Story: उम्र चाहे 15 की हो या फिर 60 साल की, अपने शरीर का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। अगर शरीर और सेहत पर ध्यान न दिया जाए तो ये हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, स्किन प्रॉब्लम और भी कई लाइलाज बीमारियों का कारण बन सकता है। 60 साल की पूनम जुनेजा भी कुछ ऐसे ही दौर से गुजरी हैं। अपने लाइफ के एक्सपीरियंस के बारे में बात करते हुए पूनम जुनेजा बताती हैं क‍ि कैसे उनके पुराने दर्द और मुश्क‍िलें सिर्फ उनकी उम्र के कारण नहीं थे, बल्कि इसके पीछे अहम वजह था उनका बढ़ता वजन।

बढ़ते वजन की वजह से पूनम जुनेजा को जोड़ों का दर्द, लो एनर्जी, हाई कोलेस्ट्रॉल, हाई ब्लड शुगर जैसे कई स्वास्थ्य समस्या हो गई थीं। स्वास्थ्य समस्याओं से राहत पाने के लिए उन्होंने वजन कम करने की ठानी और उनकी वेट लॉस जर्नी में उनकी मदद की डाइटिशियन और न्यूट्रीशनिस्ट मीता कौर मधोक ने।

75 से 56 किलोग्राम तक का सफर

डाइटिशियन और न्यूट्रिशनिस्ट मीता कौर मधोक का कहना है कि पूनम जुनेजा का वजन 75 किलोग्राम था। उन्होंने 3 महीनों में लगभग 56 किलोग्राम तक का सफर सिर्फ हेल्दी डाइट प्लान, जूस और इंडियन फूड्स के साथ तय किया है। पूनम जुनेजा ने 90 दिनों में 19 किलोग्राम (Punam Juneja Weight Loss Journey) वजन कम कर मिसाल कायम की है। पूनम ने बताया कि वजन कम करने के लिए अपने  इंटरमिटेंट फास्टिंग की प्लानिंग की, लेकिन कुछ वक्त बाद वो फेल हो गई। इसके बाद उन्होंने मीता कौर मदोक ने वजन घटाने के लिए मदद मांगी।

इसे भी पढ़ेंः नारियल का फूल है हड्डियों के लिए वरदान, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे

पूनम के बताया कि वजन कम करने के लिए खाना कम खाने की बजाय सही खाना जरूरी है। हमारे साथ खास बातचीत के दौरान पूनम ने कहा कि वो सुबह उठने के 2 घंटे के भीतर अपना ब्रेकफास्ट कर लेती हैं। वो शाकाहारी खाना ही पसंद करती हैं, उन्हें दूध और डेयरी प्रोडक्ट से काफी प्यार है। मीता अपने नाश्ते में दूध, इडली, डोसा और किसी भी तरह की लो कैलोरी वाले फूड्स का सेवन करती हैं। इतना ही नहीं ब्रेकफास्ट को करते वक्त वो ध्यान देती हैं कि उसमें हाई प्रोटीन वाली चीजें ज्यादा हो। दरअसल हाई प्रोटीन फूड पेट को लंबा समय तक भरा हुआ महसूस करवाते हैं। पेट के लंबे समय तक भरे हुए रहने से ओवर ईटिंग और एक्सट्रा खाने से बच जाते हैं, जिसकी वजह से वेट को मैनेज करना आसान हो जाता है। पूनम ने बताया कि ब्रेकफास्ट के बाद वो लंच में भी हाई प्रोटीन युक्त चीजें ही खाना पसंद करती हैं। इसके बाद उन्हें भूख लगती है या कुछ खाने का मन करता है तो वो नट्स या ड्राई फ्रूट्स का सेवन करती हैं।

डिनर का रखती हैं खास ध्यान

पूनम ने बताया कि वजन घटाने के लिए कई लोग रात को भूखे रहते हैं, लेकिन वो ऐसा नहीं करती हैं। वो डिनर शाम को 6 से 8 के बीच खा लेती हैं। रात को वो जीरो काब्र्स वाले फूड्स का सेवन करना पसंद करती हैं। वो रात में चावल, सब्जी, दाल खाना पसंद करती हैं। ताकि वजन को कंट्रोल करने में मदद मिल सके। पूनम की कहानी उन सभी लोगों के लिए एक प्रेरणा है जो बढ़ती उम्र में वजन घटाना चाहते हैं, लेकिन उन्हें ऐसा लगता है कि अब ये नामुमकिन है।

 

Disclaimer