घर में रह-रह कर हो रहा बच्चों और बूढ़ों का पेट खराब? इन आयुर्वेदिक तरीकों से दे अपने पेट को राहत

घर में रहने वाले बच्चे और बूढ़े को को ज्यादा परेशानी सामने आ रहा है क्योंकि उनकी पाचन क्रिया प्रभावित हो रही है।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Apr 09, 2020Updated at: Apr 09, 2020
घर में रह-रह कर हो रहा बच्चों और बूढ़ों का पेट खराब? इन आयुर्वेदिक तरीकों से दे अपने पेट को राहत

देश भर में कोरोनावायरस के लगातार बढ़ते मामलों से जहां लोगों के मन में संक्रमण फैलने का डर बैठा हुआ है वहीं लॉकडाउन के कारण लोगों का घर से बाहर निकलना भी बेहद मुश्किल हो गया है। लॉकडाउन से ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है, जिसके ऊपर इसका असर न पड़ा हो। लॉकडाउन औक कोरोना ने लोगों को दो तरफा शिकार बनाया है। घर से बाहर निकलने पर जहां लोगों को संक्रमित होने का खतरा सताता है वहीं घर के अंदर बैठे रहने से मानसिक तनाव, पेट की समस्या और शारीरिक थकान ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है और वे खुद को बीमार महसूस करने लगे हैं।  घर में रहने वाले बच्चे और बूढ़े को को ज्यादा परेशानी सामने आ रहा है क्योंकि उनकी पाचन क्रिया प्रभावित हो रही है, जिसके कारण उन्हें पेट में दर्द रहने लगा है। इतना ही नहीं वे शारीरिक परिश्रम और वकर्आउट न कर पाने के कारण भी कम खाना खा रहे हैं। यही कारण है कि घरों में रहने वाले बच्चे और बुजर्ग पाचन समस्या का शिकार हो रहे हैं। अगर आपको भी पाचन से जुड़ी कोई समस्या है तो आप इन तरीकों से राहत पा सकते हैं।

stomach

घर में रहने से हो गया पेट दर्द तो ऐसे पाएं राहत 

  • आयुर्वेद की मानें तो जीवनशैली और रोजाना की दिनचर्या में बदलाव से लोगों में कब्ज होना एक आम समस्या है और इस स्थिति से बचने के लिए लोगों को निम्न बातों का ख्याल रखना चाहिए जैसेः  
  • ये जरूरी है कि लोगों को अपने समय पर उठने की आदत को नहीं छोड़ना चाहिए। इसके साथ ही ही समय पर नाश्ता करने से कभी भी कब्ज और पेट दर्द की समस्या नहीं रहती। 
  • अगर आप घर से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं तो घर के ड्राइंग रूम या फिर छत पर ही चलकर सुबह की सैर का आनंद लें। 
  • नियमित रूप से गर्म पानी पीने से आपके पेट में गैस की समस्या नहीं रहती और आपके पेट का स्वास्थ्य दुरुस्त रहता है। गर्म पानी पेट को साफ करता है और मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में मदद करता है। इतना ही नहीं ये शरीर से सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का भी काम करता है।

इसे भी पढ़ेंः Ayurvedic Treatment Of Constipation: पुरुषों में कब्ज की सम्स्या दूर करेंगे ये आयुर्वेदिक उपचार, पाएं राहत

    • आयुर्वेद के मुताबिक, भुनी सौंप, अजवाइन, काला नमक, अदरक और सोंठ का सेवन करने से कब्ज सहित पेट की समस्याओं में आराम मिलता है। 
    • कब्ज की समस्या होने पर हर किसी को हर एक घंटे में एक गिलास पानी पीना चाहिए । ऐसा करने से पेट में गैस की समस्या नहीं रहती है। 
    • आपको दिन में कम से कम 3 से 4 लीटर पानी पीना चाहिए ।
    • कब्ज या गैस की समस्या होने पर घर में ही पतली दाल बनाकर पीएं। मूंग की दाल भी पाचन और पेट के दर्द को दूर करने और कब्ज आदि से राहत पाने का अच्छा विकल्प है। दरअसल इसमें फाइबर होता है, जो पाचन क्रिया के लिए अच्छा होता है। 

Loading...

इसे भी पढ़ेंः Kidney Stone Treatment with Ayurveda: गुर्दे की पथरी कर रही परेशान तो घर पर इन 5 तरीकों से निकालें बाहर

  • नाश्ते में दलिया का सेवन आपको ऊर्जा देने के साथ-साथ पेट के स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने का एक कामयाब नुस्खा है। 
  • गर्म दूध में हल्दी या सौंठ पाउडर डालकर पीने से पेट को हल्का करने में मदद मिलती है। इससे भी पेट आसानी स
  • डायबिटीज के मरीजों को इस वक्त योगासन, प्राणायाम करना चाहिए। वहीं बच्चों को घर में ही हल्के-फुल्के गेम खेलने चाहिए और लाइट फूड व खिचड़ी का सेवन करना चाहिए। 
  • आयुर्वेद के मुताबिक, च्चो को दूध में किसमिस उबालकर पीना चाहिए, ऐसा करने से उन्हें पेट की समस्या नहीं रहती। यह पेट साफ करने में बहुत मदद करता है।
  • शहद के साथ आधा चम्मच अदरक या आधा चम्मच तुलसी पत्ते का रस खाने से कफ और खांसी में आराम मिलता है। 
  • हल्दी और सौंठ इम्यूनिटी बढाने का काम करते हैं और पेट को साफ रखने में मदद करते हैं। 

Read More Articles On Ayurveda in Hindi

Disclaimer