Expert

Gut Health: पाचन संबंधी सभी परेशानियों का हल हैं डाइटिशियन रुजुता दिवेकर के ये 4 नुस्खे

मानसून का मौसम मन को तो अच्छा लगता है, लेकिन ये तन के लिए कई तरह की समस्याएं लेकर आता है। इस मौसम में पाचन संबंधी समस्याएं होना आम बात है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jul 06, 2022Updated at: Jul 07, 2022
Gut Health: पाचन  संबंधी सभी परेशानियों का हल हैं डाइटिशियन रुजुता दिवेकर के ये 4 नुस्खे

मानसून के मौसम में कई लोगों को खाना पचाने में दिक्कत होती है। इसकी वजह से पेट में दर्द, कब्ज, खट्टी डकार और पेट फूलने जैसी समस्याएं हो सकती हैं। कमजोर पाचन क्रिया (Gut Health) सिर्फ शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाती,  बल्कि यह मानसिक तनाव का कारण भी बन सकती है। पाचन क्रिया कमजोर होने की वजह से सोरायसिस, मुंहासे, एक्जिमा, बालों का झड़ना और आंतों में दर्द जैसी समस्याएं शरीर को घेर सकती हैं। इतना ही नहीं गट हेल्थ कमजोर होने की वजह से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का खतरा भी बढ़ सकता है।

अब सवाल उठता है कि गट हेल्थ को बूस्ट कैसे किया जाए? इसके लिए सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट और डाइटिशियन रुजुता दिवेकर ने कुछ खास टिप्स शेयर किए हैं। रुजुता दिवेकर ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वो गट हेल्थ को नैचुरल तरीके से बूस्ट करने के तरीके बता रही हैं।

गट हेल्थ को कैसे बूस्ट कर सकते हैं? - How boost gut health?

How boost gut health?

शरीर को एक्टिव रखें

रुजुता दिवेकर के अनुसार, किसी भी शारीरिक समस्या को सुलझाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है शरीर को एक्टिव रखा जाए। नियमित तौर पर एक्सरसाइज, योग और रनिंग करने से पेट में गैस की समस्या न के बराबर हो जाती है। अगर आप दिन भर ऑफिस में काम करते हैं, तो डाइटिशियन हर 3 घंटे पर आपको खड़े होने और टहलने की सलाह देती हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या सैंडविच वाकई हेल्दी होते हैं?

खाने में शामिल करें ये चीजें

रुजुता दिवेकर ने बताया है कि चावल खाने से गट हेल्थ में सुधार आता है। चावल में प्रीबायोटिक गुण होते  हैं, जो पेट के अच्छे बैक्टीरिया को बनाए रखने में मदद करते हैं। आप अपनी डेली डाइट में कम से कम 1 कटोरी चावल को जरूर शामिल करें।

Natural Remedies for Healthy Gut

पर्याप्त नींद लें

डाइटिशियन का कहना है कि आंतों को हेल्दी रखने के लिए पर्याप्त नींद लेना बहुत जरूरी है। अगर आप नींद से जुड़ी किसी परेशानी से जूझ रहे हैं तो आपको पेट से जुड़ी समस्याएं हमेशा परेशान करेंगी।

इसे भी पढ़ेंः 15 दिन में घट सकता है शुगर लेवल, एक्सपर्ट ने बताए 4 स्टेप्स

कद्दू या लौकी का रायता

मानसून के मौसम में कद्दू और लौकी बाजारों में  आसानी से उपलब्ध  होते हैं। रुजुता के मुताबिक इन सब्जियों में पानी और एंटीऑक्सीडेंट्स अधिक मात्रा में  पाए जाते हैं। आप  चाहें तो इसे सब्जी के तौर पर खा सकते हैं, या रायता में ट्राई कर सकते हैं। कद्दू या लौकी का रायता खाने से गट हेल्थ में सुधार होता है। ध्यान रहे कि हर इंसान का शरीर अलग होता है, इसलिए अपनी डाइट में किसी भी चीज को जोड़ने या घटाने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Disclaimer