ब्लड प्रेशर घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो न करें ये 5 गलतियां, सेहत को हो सकता है नुकसान

Mistakes To Avoid In Blood Pressure: हाई ब्लड प्रेशर को कम करते समय कुछ गलतियां सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है, यहां जानें ऐसी 5 गलतियां।

 
Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jun 14, 2022Updated at: Jun 14, 2022
ब्लड प्रेशर घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो न करें ये 5 गलतियां, सेहत को हो सकता है नुकसान

शरीर में ब्लड प्रेशर का बढ़ना या हाई ब्लड प्रेशर की समस्या इन दिनों लोगों में बहुत आम है। लेकिन यह एक गंभीर समस्या है जो अपने साथ कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं को भी लेकर आती है। ब्लड प्रेशर का स्तर अधिक होना हृदय रोग और स्ट्रोक जैसी समस्याओं के प्रमुख कारणों में से एक है। साथ ही हाई बीपी के कारण सांस लेने में तकलीफ, किडनी फेलियर, सिरदर्द, सूजन, उल्टी आना जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखें। लेकिन अक्सर लोग ब्लड प्रेशर को कम करने या कंट्रोल करते समय कुछ ऐसी गलतियां करते हैं, जिससे यह काबू में आने के बजाए नियंत्रण से बाहर हो जाता है। इस लेख में हम आपको ऐसी 5 गलतियों के बारे में बता रहे हैं, जिनसे आपको ब्लड प्रेशर कम करते समय बचने की जरूरत है (Which Mistakes To Avoid While Trying To Lower Blood Pressure In Hindi)।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के दौरान न करें ये गलतियां (Mistakes To Avoid While Trying To Lower Blood Pressure In Hindi)

1.  पर्याप्त पानी नहीं पीते हैं

बहुत अधिक पानी पीने से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है, लेकिन यह भी सही है कि शरीर में पानी की कमी होने पर भी ब्लड प्रेशर नियंत्रण से बाहर हो सकता है। यह अक्सर देखा जाता है कि डिहाइड्रेशन वाले लोगों में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या भी होती है। शरीर में पानी की कमी के चलते खून गाढ़ा होने लगता है, जिससे ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। इसलिए आपको पर्याप्त मात्रा में पानी जरूर पीना चाहिए। आपको पानी के सेवन के बीच संतुलन बनाना चाहिए। आपको न बहुत अधिक पानी पीना चाहिए न ही बहुत कम। दिन में 2-3 लीटर पानी जरूर पिएं और हाइड्रेट रहें। साथ ही तरल पदार्थों का सेवन भी करें। यहां आपको एक चीज का ध्यान रखने की जरूरत है कि अगर आपको पेशाब आता है तो उसे रोके नहीं। क्योंकि अगर आप पेशाब को ज्यादा समय तक रोक कर रखते हैं तो इससे भी ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है।

Mistakes To Avoid In BP

2. देर रात भोजन करते हैं

देर रात भोजन करना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। रात के समय आपकी पाचन क्रिया धीमी हो जाती है, और भोजन ठीक से पच नहीं पाता है। इससे पेट संबंधी समस्याएं और मोटापे का जोखिम बढ़ता है, जो कि ब्लड प्रेशर के जोखिम कारकों में से एक है। अध्ययन में भी यह पाया गया है कि रात में कैलोरी का अधिक सेवन करने से ब्लड प्रेशर में वृद्धि होती है। इसलिए कोशिश करें कि आप शाम 7 बजे तक अपना डिनर कर लें। साथ ही पूरा दिन ऐसा फूड्स का सेवन करें जो प्रोटीन, हेल्दी फैट्स, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर हों। जिससे आप रात के समय ज्यादा भूखा महसूस न करें और कम खाएं।

इसे भी पढे: माता-पिता से बच्चों को होती है खून से जुड़ी गंभीर बीमारी थैलेसीमिया, जानें इसके प्रकार और लक्षण

3. शराब का सेवन करते हैं

अगर आप ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे हैं और ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखना चाहते हैं, तो अल्कोहल का सेवन आपके लिए जहर के समान हो सकता है। शराब का सेवन करने से ब्लड प्रेशर में स्पाइक होती है। अक्सर देखा जाता है कि लोग तनाव कम करने के लिए शराब का सेवन करते हैं। अधिक मात्रा में शराब पीने से हाई ब्लड प्रेशर का जोखिम काफी बढ़ जाता है। आपको नियमित एक्सरसाइज करने, पैदल चलने और दोस्तों के साथ कुछ समय बितान से भी तनाव को कम करने में मदद मिल सकती है। साथ इससे ब्लड प्रेशर भी कम होगा।

यह भी देखें:

4. नमक का अधिक सेवन करते हैं

नमक का अधिक सेवन ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए बहुत नुकसानदायक होता है। नमक में सोडियम होता है और सोडियम का अधिक सेवन ब्लड प्रेशर में स्पाइक का कारण बनता है। आपको ऐसे फूड्स के सेवन से बचने की जरूरत है जिनमें नमक की मात्रा अधिक होती है। जंक और प्रोसेस्ड फूड्स में नमक बहुत अधिक होता है। साथ ही नमकीन, चिप्स आदि जैसे पैकेज्ड फूड्स में खूब नमक होता है। तो कोशिश करें कि सिर्फ घर पर बना खाना खाएं, और स्नैक्स के हेल्दी विकल्प चुनें। भोजन में नमक का सेवन कम से कम करें।

इसे भी पढे: क्या है शिगेला बैक्टीरिया, जिससे संक्रमित शवरमा खाकर हुई केरल की लड़की की मौत? जानें इसके लक्षण और कारण

5. आप धूप में समय नहीं बिताते हैं

हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों के लिए धूप में समय बिताना अच्छा होता है। इससे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है। सूरज की यूवी किरणों के संपर्क में समय बिताने से सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर कम होता है। गर्मियों में दिन में धूप में 10-30 मिनट पर्याप्त हो सकते हैं। धूप में पैदल चलने या दौड़ने से भी ब्लड प्रेश कंट्रोल करने में बहुत लाभ मिल सकता है। लेकिन दिन के समय धूप लेने से बचें क्योंकि यह आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती है और डिहाइड्रेशन की भी कारण बन सकती है। धूप में समय बिताने के लिए सुबह 9 बजे से पहले और शाम 5 बजे के बाद का समय ठीक होता है।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer

Tags