Doctor Verified

मेनोपॉज के दौरान कैसी होनी चाहिए डाइट? जानें मेनोपॉज में क्या खाना है फायदेमंद

मेनोपॉज के दौरान महिलाओं में होने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए हेल्दी डाइट लेना बहुत जरूरी है, जानें मेनोपॉज के दौरान डाइट कैसी होनी चाहिए?

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: May 13, 2022Updated at: May 13, 2022
मेनोपॉज के दौरान कैसी होनी चाहिए डाइट? जानें मेनोपॉज में क्या खाना है फायदेमंद

हर महिला को 45 से 55 साल के बीच में मेनोपॉज का सामना करना पड़ता है। महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ी यह स्थिति बहुत मुश्किल होती है। मेनोपॉज के दौरान महिलाओं को हॉट फ्लश, अत्यधिक पसीना आना और नींद से जुड़ी समस्याएं होती हैं। मेनोपॉज दरअसल एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिलाओं को पीरियड्स आना बंद हो जाते हैं। मेनोपॉज को हिंदी में रजोनिवृत्ति कहा जाता है। मेनोपॉज के दौरान होने वाली समस्याओं से बचने के लिए अच्छी डाइट लेना बहुत जरूरी होता है। इस दौरान शरीर में एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टेरोन हॉर्मोन का उत्पादन अनियंत्रित होता है जिसकी वजह से कई गंभीर समस्याएं होती हैं। मेनोपॉज दरअसल एक शारीरिक प्रक्रिया है जिससे हर महिला को 45 साल से लेकर 55 साल की उम्र के बीच में गुजरना पड़ता है। इस दौरान महिलओं को कई तरह की शारीरिक और मानसिक समस्याएं होती हैं। मेनोपॉज के दौरान हेल्दी डाइट (Menopause Diet in Hindi) और शारीरिक व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल कर आप इन गंभीर समस्याओं से बच सकती हैं। आइये जानते हैं मेनोपॉज के दौरान समस्याओं से बचने के लिए आपको डाइट से जुड़ी किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और इस दौरान किन चीजों का सेवन सेहत के लिए फायदेमंद होता है।

मेनोपॉज के दौरान कैसी होनी चाहिए डाइट? (Menopause Diet Plan in Hindi)

मेनोपॉज एक ऐसी शारीरिक स्थिति है जिसमें महिलाओं को पीरियड्स आना बंद हो जाते हैं। इस दौरान शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव की वजह से रात में पसीना आना, अत्यधिक थकान, मूड स्विंग, चिड़चिड़ापन और कई अन्य समस्याएं हो सकती हैं। कई बार महिलाएं जानकारी के अभाव में इन स्थिति को सही से हैंडल नहीं कर पाती हैं जिसके चलते उन्हें कई मानसिक परेशानियों से भी गुजरना पड़ता है। मेनोपॉज के दौरान अच्छी डाइट लेने से आप इन समस्याओं को कंट्रोल कर सकती हैं। स्टार मैटरनिटी हॉस्पिटल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ साधना कहती हैं कि हेल्दी और बैलेंस डाइट मेनोपॉज के दौरान होने वाली समस्याओं को कम करने का काम करती है। आइये जानते हैं मेनोपॉज के दौरान आपकी डाइट कैसी होनी चाहिए।

Menopause-Diet-in-Hindi

इसे भी पढ़ें : Women's Day: मेनोपॉज से जुड़े 5 पॉपुलर मिथक (भ्रामक बातें) और उनकी सच्चाई

1. मेनोपॉज के दौरान मिल्क प्रोडक्ट्स को करें डाइट में शामिल 

मेनोपॉज के दौरान शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन का स्तर कम होने लगता है। जिसकी वजह से आपकी सेहत पर गंभीर असर होता है। इसकी वजह से आपको ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी का खतरा रहता है। एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी के कारण आपकी हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। ऐसे में इस दौरान मिल्क और मिल्क प्रोडक्ट्स को डाइट में शामिल करना बहुत जरूरी होता है। कई अध्ययन भी इस बात की पुष्टि करते हैं कि मेनोपॉज के दौरान दूध और दूध से बने उत्पाद का सेवन आपकी हड्डियों को मजबूत करता है और इस दौरान होने वाली समस्याओं से बचाने का काम करता है। मिल्क प्रोडक्ट्स में कैल्शियम, विटामिन डी और फोस्फोरस की पर्याप्त मात्रा होती है जो हड्डियों के लिए बहुत जरूरी है। इसका सेवन आपको नींद से जुड़ी समस्याओं से उबरने में भी मदद करता है।

2. फाइबर रिच फूड्स हैं जरूरी

मेनोपॉज के दौरान ज्यादातर महिलाओं का वजन तेजी से बढ़ता है और इसकी वजह से कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। मेनोपॉज के दौरान फाइबर युक्त फूड्स को डाइट में शामिल करने से वजन बढ़ने पर नियंत्रण किया जा सकता है। फाइबर से भरपूर आहार जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां, साबुत फल, अनाज आदि को डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। इसका सेवन करने से आपका पाचन तंत्र ठीक रहेगा और वजन नियंत्रण में रहेगा।

इसे भी पढ़ें : मेनोपॉज के बाद होने वाली इन 6 आम समस्याओं से ऐसे निपटें, बता रही हैं एक्सपर्ट

Menopause-Diet-in-Hindi

3. कैफीन और अल्कोहल का सेवन करने से बचें

मेनोपॉज के दौरान महिलाओं को कैफीन और अल्कोहल का सेवन करने से बचना चाहिए। मेनोपॉज के दौरान अधिक मात्रा में अल्कोहल और कैफीन का सेवन करने से आपके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। इसकी वजह से आपका हार्ट रेट बढ़ सकता है और आपको तनाव समेत दूसरी अन्य मानसिक समस्याएं हो सकती हैं। 

4. डार्क चॉकलेट का करें सेवन

मेनोपॉज के दौरान शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव की वजह से महिलाओं को मूड स्विंग, चिड़चिड़ापन जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इस दौरान आपको स्ट्रेस से भी जूझना पड़ सकता है। ऐसे में इन समस्याओं से बचने के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। डार्क चॉकलेट में मैग्नीशियम की पर्याप्त मात्रा होती है और यह नींद और मूड ठीक रखने के लिए बहुत उपयोगी होता है।

5. सोडियम का सेवन संतुलित करें

मेनोपॉज के दौरान महिलाओं को हार्मोनल बदलाव के कारण कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसकी वजह से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और वजन भी तेजी से बढ़ता है। इसलिए मेनोपॉज के दौरान सोडियम का सेवन नियंत्रित करने की सलाह दी जाती है। डाइट में सोडियम की मात्रा नियंत्रित रखने से आपकी समस्याएं कम होती हैं। 

6. पर्याप्त मात्रा में पानी जरूर पिएं

मेनोपॉज के दौरान पानी पर्याप्त मात्रा में जरूर पीना चाहिए। पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से आपका पेट साफ रहता है और कब्ज की समस्या में फायदा मिलता है। इसके अलावा आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होती है। मेनोपॉज के दौरान महिलाओं में हॉट फ्लैश की समस्या सबसे ज्यादा देखने को मिलती है। इस समस्या को कम करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें : मेनोपॉज और प्री-मेनोपॉज क्या है? जानें दोनों के लक्षणों में अंतर और बचाव के उपाय

मेनोपॉज के दौरान डाइट से जुड़ी जरूरी बातों का ध्यान रखने से आपकी समस्याएं कम हो सकती हैं। इसके अलावा आपको मेनोपॉज के दौरान हाई कैलोरी ड्रिंक, मसालेदार खाना और संतृप्त वासा का सेवन कम करना चाहिए। इस दौरान शराब और स्मोकिंग से दूरी बनाना फायदेमंद होता है। हेल्दी डाइट के अलावा नियमित रूप से ध्यान और व्यायाम करने से आपको बहुत फायदा मिलता है।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer