World contraception Day: अब पुरुष भी ले सकेंगे गर्भनिरोधक गोलियां, साइड इफेक्ट रहित गोली हुई टेस्ट में पास

World contraception Day: गर्भनिरोधक गोलियां अब तक सिर्फ महिलाओं के लिए ही उपलब्ध हैं, लेकिन जल्द ही ये पुरुषों के लिए भी उपलब्ध हो सकेंगी। तेजी से बढ़ती हुई जनसंख्या दर पूरी दुनिया के लिए एक बड़ी समस्या है। ऐसे में ये पुरुष गर्भनिरोधक गोलियां एक ब

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 27, 2019Updated at: Sep 26, 2019
World contraception Day: अब पुरुष भी ले सकेंगे गर्भनिरोधक गोलियां, साइड इफेक्ट रहित गोली हुई टेस्ट में पास

World contraception Day: गर्भनिरोधक गोलियां अब तक सिर्फ महिलाओं के लिए ही उपलब्ध हैं, लेकिन जल्द ही ये पुरुषों के लिए भी उपलब्ध हो सकेंगी। तेजी से बढ़ती हुई जनसंख्या दर पूरी दुनिया के लिए एक बड़ी समस्या है। ऐसे में ये पुरुष गर्भनिरोधक गोलियां एक बड़ी खोज के रूप में देखी जा रही हैं। अब तक पुरुषों के लिए गर्भनिरोधक के रूप में कंडोम का ही इस्तेमाल लोगों में प्रचलित रहा है। लेकिन वैज्ञानिकों ने पुरुषों के लिए भी गर्भनिरोधक गोलियों का विकास कर लिया है। हाल में ये गोलियां 'ह्यूमन सेफ्टी टेस्ट' में पास हो गई हैं।

शोध में मिली सफलता

ये शोध वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ मेडिसिन और लॉस एंजल्स बायोमेड रिसर्च इंस्टीट्यूट में किया गया है। फेज-1 के ट्रायल में अभी यह शोध सिर्फ 40 सेहतमंद पुरुषों पर किया गया है। ये गोली या कैप्सूल स्पर्म की एक्टिविटी को कम कर देता है। खास बात यह है कि इसके साइड इफेक्ट्स बेहद कम देखे गए हैं।

इसे भी पढ़ें:- दिल संबंधी रोगों से होती है 58% डायबिटीज मरीजों की मौतों, जानें इसके कारण

कैसे किया गया शोध

शोध के लिए वैज्ञानिकों ने एक खास कैप्सूल बनाया और यह देखना चाहा कि इस कैप्सूल के सेवन के बाद पुरुषों के टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन और स्पर्म की क्वालिटी पर क्या प्रभाव पड़ता है। इस नई गर्भनिरोधक गोली का नाम 11-बीटा-मिथाइल-19-नॉरटेस्टोस्टेरॉन डोडिसाइलकार्बोनेट ( 11-Beta-MNTDC) है। इसके लिए सभी 40 पुरुषों को इस कैप्सूल की रोजाना 28 दिनों तक डोज दी गई। जिनमें से 14 पुरुषों को 200 मिलीग्राम और 16 पुरुषों को 400 मिलीग्राम दवा की डोज दी गई। इसके अलावा 10 पुरुष ऐसे भी थे जिन्हें बिना एक्टिव इंग्रीडिंएट्स के 'प्लेसबो पिल्स' दी गई हैं।

बेहद कम हैं साइड इफेक्ट्स

शोध में यह पाया गया है कि लगातार 28 दिनों तक ये गर्भनिरोधक गोलियां खाने के बाद पुरषों में इसके बेहद कम साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं। कुछ लोगों में थकान, सिरदर्द और मुंहासों जैसे लक्षण दिखे हैं। मगर ज्यादातर लोगों में ये गोलियां 'ह्यूमन सेफ्टी टेस्ट' में पास हो गई हैं।

इसे भी पढ़ें:- लगातार गर्म चाय पीने से होता है एसोफेगल कैंसर का खतरा, पुरुष होते हैं जल्दी प्रभावित

पुरुष गर्भनिरोधक गोलियों पर शोधकर्ताओं की राय

शोधकर्ताओं ने इस गर्भनिरोधक गोली को एक बड़ी कामयाबी की तरह देखा है। शोधकर्ता प्रोफेसर स्टेफनी पेज ने कहा, 'हमारा मकसद है कि जिस तरह महिलाओं के लिए कई सारे गर्भनिरोधक विकल्प हैं, उसी तरह पुरुषों के लिए भी गर्भनिरोधक के विकल्प मौजूद हों। फिलहाल काफी कम विकल्प मौजूद हैं और इस वजह से हम जनसंख्या के एक बड़े हिस्से को नजरअंदाज कर रहे हैं।'

Read More Articles On Health News in Hindi

Disclaimer