कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का कारण बनती हैं लाइफस्टाइल से जुड़ी ये 7 खराब आदतें, जानें बचाव के उपाय

लाइफस्टाइल शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के कम होने का कारण बन सकता है। इसलिए सही लाइफस्टाइल अपनाना जरूरी है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Apr 12, 2022Updated at: Apr 12, 2022
कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का कारण बनती हैं लाइफस्टाइल से जुड़ी ये 7 खराब आदतें, जानें बचाव के उपाय

Cholesterol in Hindi: कोलेस्ट्रॉल खून में पाया जाने वाला मोम जैसा पदार्थ है। शरीर को स्वस्थ कोशिकाओं का निर्माण करने के लिए इसकी जरूरत पड़ती है। स्वस्थ रहने के लिए कोलेस्ट्रॉल का नियंत्रण में होना जरूरी होता है। बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल लेवल हृदय रोग के जोखिम को बढ़ा सकता है। हम लोग OMH के campaign  'focus of the month' में आपको रोजाना Healthy Living पर एक खास मुद्दे से रूबरू करवा रहे हैं। इस लेख में हम आपको लाइफस्टाइल से जुड़ी 7 ऐसी गलतियों के बारे में बता रहे हैं, जो कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ाने का कारण बनती हैं। 

1. फाइबर कम लेना

फाइबर हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है। शरीर में फाइबर की कमी कई रोगों का कारण बन सकता है। कम मात्रा में फाइबर लेना कोलेस्ट्रॉल को भी बढ़ा सकता है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखने के लिए आपको अपने डाइट में पर्याप्त मात्रा में फाइबर जरूर शामिल करना चाहिए। फाइबर अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को बांधता है और रक्त प्रवाह को भी ठीक रखता है। उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों को प्रतिदिन लगभग 25 से 30 ग्राम फाइबर का सेवन जरूर करना चाहिए। फाइबर लेने के लिए आप अपनी डाइट ब्लूबेरी, केला, चोकर अनाज, स्प्राउट्स और फलों को अधिक मात्रा में शामिल कर सकते हैं।

2. पैकेज्ड बंद फूड्स खाना

आजकल अधिकतर लोग स्नैक्स, नाश्ते में पैकेज्ड बंद फूड्स का सेवन करना पसंद करते हैं। लेकिन पैकेज्ड बंद फूड्स खाना आपकी सेहत के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है। यहां तक कि ये फूड्स हाई कोलेस्ट्रॉल का भी कारण बन सकते हैं। पैकेज्ड फूड्स में कैलोरी अधिक होती है, इससे वजन बढ़ सकता है। जो हृदय रोगों के जोखिम को बढ़ाता है। साथ ही इसकी सेल्फ लाइफ भी कम होती है। साथ ही इनमें कई प्रकार के सैचुरेटेड फैट भी होते हैं, जो हाई कोलेस्ट्रॉल का कारण बनते हैं। जिन लोगों का कोलेस्ट्रॉल लेवल पहले से ही हाई है, उन्हें इनका सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करती हैं ये 6 सब्जियां, हार्ट की बीमारियों का खतरा भी होता है कम

3. सोया से परहेज करना

कई लोग सोया प्रोडक्ट खाना पसंद नहीं करते हैं, जबकि ये हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। सोया में मौजूद तत्व हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए जरूरी होते हैं। सोया में मौजूद फाइटोएस्ट्रोजन कोलेस्ट्रोल के अवशोषण को रोकता है और एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इसलिए अगर आप सोया प्रोडक्ट्स नहीं खाते हैं, तो इसे अपनी डाइट में शामिल कर लें।  

4. मांस से अधिक कैलोरी लेना

जो लोग मांस से अधिक कैलोरी लेते हैं, उन्हें भी हाई कोलेस्ट्रॉल का सामना करना पड़ सकता है। पौधे आधारित भोजन आमतौर पर एलडीएल कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में सहायक होते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि आप नॉनवेज नहीं खा सकते हैं, आप खा सकते हैं लेकिन सीमित मात्रा में। प्रोसेस्ड मीट, रेड मीट कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का कारण हो सकता है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रण में रखने के लिए प्राकृतिक से प्राप्त चीजों का सेवन करना अधिक फायदेमंद होता है।

5. अधिक शराब पीना 

शराब पीना कई रोगों का कारण माना जाता है। अधिक मात्रा में शराब पीना कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी बढ़ा सकता है। अगर आपका पहले से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ा हुआ है, तो आपको शराब से पूरी तरह से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। शराब पीना हृदय स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है। इतना ही नहीं शराब पीने से लीवर पर भी असर पड़ता है।

6. डेयरी प्रोडक्ट्स का अधिक सेवन करना

डेयरी प्रोडक्ट्स हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए जरूरी होते हैं। इनसे शरीर को पर्याप्त कैल्शियम और प्रोटीन मिलता है। लेकिन हाई कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों को डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन करने से बचना चाहिए। पनीर में सैचुरेटेड फैट अधिक होता है, जो धमनियों को रोकता है और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है।

इसे भी पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए पिएं ये 5 ड्रिंक्स

7. तला हुआ भोजन खाना

अधिक तेल हृदय स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल सही नहीं होता है। तले हुए खाद्य पदार्थ बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल का सबसे मुख्य कारण माना जाता है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रण में रखने के लिए आपको तला, फ्राइड फूड्स से परहेज करना चाहिए। 

अपने हृदय को स्वस्थ रखने, कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में रखने के लिए आपको अपनी डाइट में फाइबर, विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स को अधिक मात्रा में शामिल करना चाहिए। ये सभी पोषक तत्व कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कंट्रोल में रखते हैं। 

Disclaimer