A2 घी के सेवन से बूस्‍ट होती है इम्‍यूनिटी, रोगों का हो जाता है नाश, जानिए क्‍या है 'ए2 घी'

बीमारियों को दूर करने के साथ इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है घी, जानें ए-2 घी को लेकर क्या कहता है आयुवर्दे और कैसे है ये हमारी सेहत के लिए फायदेमंद

Vishal Singh
स्वस्थ आहारWritten by: Vishal SinghPublished at: Aug 24, 2020Updated at: Aug 25, 2020
A2 घी के सेवन से बूस्‍ट होती है इम्‍यूनिटी, रोगों का हो जाता है नाश, जानिए क्‍या है 'ए2 घी'

आयुर्वेद जड़ी बूटियों और खाद्य पदार्थों के लिए सदियों से जाना जाता है जो प्रतिरक्षा को बढ़ाने में हमारी मदद करते हैं। ए-2 घी गायों के उच्चतम गुणवत्ता वाले ए-2 दूध से बनाया जाता है। परंपरागत रूप से, घी पोषक तत्व-संरक्षण बिलोना मंथन प्रक्रिया के साथ तैयार किया जाता है। इसलिए घी को हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद और हेल्दी माना जाता है। ये भारतीयों के लिए एक सुपरफूड के तौर पर देखा जाता है जो हमे कई गंभीर और मौसमी बीमारियों से बचाने का काम करता है साथ ही हमारी इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है। 

ghee

ए-2 घी पर क्या कहता है आयुर्वेद  

ये तो आप सभी जानते हैं कि आयुर्वेद, एक प्राचीन चिकित्सा विज्ञान है जो कई बीमारियों को दूर करने में हमारी मदद करता है। आयुर्वेद भी कहता है कि इस स्वस्थ भोजन के अद्भुत स्वास्थ्य लाभों का अनुभव करने के लिए आपको खाली पेट देसी घी का सेवन करना चाहिए, जो आपको कई तरह के फायदे पहुंचाता है। आपको बता दें कि आयुर्वेद में घी को लेकर माना जाता है कि इसका सेवन कर किसी के भी शरीर को फिर से जीवंत कर सकता है और किसी के भी स्वास्थ्य को बढ़ा सकता है। इसके साथ ही घी का नियमित रूप से सेवन करने से ये शरीर में मौजूद सभी कोशिकाओं को अच्छी तरह से स्वस्थ रखकर उन्हें सही मात्रा में पोषण देने का काम करता है। 

इसे भी पढ़ें: क्‍या देसी घी खाने से वजन बढ़ता है, जानिए किस उम्र में कितनी मात्रा में घी खाना है सही?

अमीनो एसिड से भरपूर है

ए-2 घी में काफी मात्रा में अमीनो एसिड पाया जाता है, ये स्वस्थ अमीनो एसिड का एक अच्छा स्रोत है। इसके साथ ही विटामिन जैसे बी 2, बी 12, बी 6, सी, ई और के की कमी को दूर करने के लिए आप घी का सेवन कर सकते हैं। ए-2 घी में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी-एसिड भी भारी मात्रा में होता है। आपको बता दें कि ओमेगा-3 और 6 आपके बढ़ते बच्चों में न्यूरोलॉजिकल समस्याओं को दूर करने के साथ एडीएचडी और दूसरे व्यवहार संबंधी समस्याओं के जोखिम को कम करने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा इसका सेवन आपके शरीर में रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को हमेशा नियंत्रित करने का काम करता है। इसलिए जिन लोगों को रक्तचाप और हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या होती है उन लोगों को रोजाना घी का सेवन करना चाहिए। 

इसमें सभी जरूरी मैक्रो और माइक्रोन्यूट्रिएंट्स हैं जो शरीर की दैनिक आहार की जरूरतों को पूरा करने का काम करता है। इसके साथ ही ये बेहतर संज्ञानात्मक और न्यूरोलॉजिकल कार्यों के लिए कायाकल्प आपकी सहायता करता है। 

इसे भी पढ़ें: त्वचा से जुड़ी हर छोटी-मोटी समस्या का रामबाण इलाज है नीम का घी, जानें इसे बनाने का तरीका और होने वाले फायदे

मानसिक रूप से स्वस्थ रखता है ए-2 घी

आमतौर पर लोग घी के सेवन को लेकर थोड़ा सतर्क रहते हैं। ऐसा देखा गया है कि कुछ बच्चे घी के स्वाद के प्रति प्रतिकूल हो सकते हैं। ए-2 घी मस्तिष्क के कार्यों को बढ़ाने में मदद करता है, शक्ति और सहनशक्ति में सुधार करता है, तंत्रिका तंत्र को पोषण देता है, आपकी आंखों के स्वास्थ्य में सुधार कर आपके हृदय स्वास्थ्य को हेल्दी बनाए रखता है। इसमें खासियत ये है कि ये सभी उम्र के लोगों के लिए फायदेमंद है, खासकर बच्चों के लिए इसे ज्यादा फायदेमंद माना गया है। 

With inputs from Ayurvedacharya Dr Partap Chauhan, Director of Jiva Ayurveda

Read More Articles On Healthy Diet In Hindi

Disclaimer