चमेली की पत्तियों में होते हैं कई गुण, सिरदर्द से लेकर मुंह के छालों तक, कई परेशानियां करेंगी दूर

चमेली के फूलों की तरह इसकी पत्तियां भी स्वास्थ्य के लिए काफी हेल्दी होती हैं। आइए विस्तार से जानते हैं इसके फायदों और इस्तेमाल के तरीकों के बारे में-

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jun 24, 2022Updated at: Jun 24, 2022
चमेली की पत्तियों में होते हैं कई गुण, सिरदर्द से लेकर मुंह के छालों तक, कई परेशानियां करेंगी दूर

Jasmine Leaves benefits : चमेली के फूलों की खुशबू मनमोहक होती है। इसलिए कई लोग अपने घरों के आसपास चमेली के फूलों की बेल लगाते हैं। स्वास्थ्य के लिए भी चमेली के फूल काफी फायदेमंद होते हैं। इसके साथ ही इसकी पत्तियां भी आपको कई तरह की समस्याओं से दूर रख सकती हैं। चमेली के पत्तों से आप मुंह में छाले से लेकर सिरदर्द की परेशानियों तक, कई समस्याएं दूर कर सकते हैं। इस विषय की जानकारी के लिए हमने गाजियाबाद स्वर्ण जयंती के आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर राहुल चतुर्वेदी से बात की। आयुर्वेदाचार्य का कहना है कि चमेली के फूलों की तरह इसकी पत्तियों में कई औषधीय गुण होते हैं। इसकी पत्तियों से तैयार अर्क (Jasmine Leaves for Skin) का चेहरे पर इस्तेमाल करने से स्किन को स्वस्थ रखा जा सकता है। यह मुंह के छालों, कान दर्द, जैसी कई अन्य समस्याओं से राहत दिला सकती हैं। 

चमेली के पत्तों के फायदे और इस्तेमाल करने का तरीका (Jasmine Leaves Benefits And Uses in Hindi)

चमेली की पत्तियों का इस्तेमाल करने से सिरदर्द, मुंह के छाले, कान दर्द जैसी परेशानियां (Jasmine Leaves Benefits) दूर हो सकती हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से-

इसे भी पढ़ें - बालों के लिए फायदेमंद होता है चमेली के तेल, दूर करता है डैंड्रफ और हेयर फॉल जैसी कई समस्याएं

सिरदर्द से दिलाए राहत (Headaches)

चमेली के फूलों की तरह इसकी पत्तियां भी सिरदर्द से राहत दिलाने में असरदार हो सकती हैं। सिरदर्द की परेशानी में इसकी पत्तियों को पीस लें। अब इसे अपने सिर और नाक के आसपास लगाएं। इससे आपके सिर को ठंडक मिलेगी, जो सिरदर्द से आराम दिलाने में प्रभावी हो सकती है।

चमेली की पत्तियां मुंह के छालों से दिलाती हैं आराम (Mouth Ulcers)

आयुर्वेदाचार्य का कहना है कि चमेली की पत्तियों के इस्तेमाल से आप मुंह के छालों को कम कर सकते हैं। मुंह के छालों की परेशानी को दूर करने के लिए 50 ग्राम के करीब चमेली की पत्तियां लें। इसके बाद इसमें 1 गिलास पानी डालकर इसे अच्छे से उबाल लें। इस काढ़े से दिन में दो बार गरारे करें। इससे मुंह के छालों की परेशानी दूर हो सकती है।

पेट में कीड़े की परेशानी करे दूर (Stomach Worms)

वयस्कों की तुलना में बच्चों को पेट में कीड़े की परेशानी अधिक होती है। अगर आपको या आपके बच्चों को इस तरह की समस्या हो रही है, तो चमेली की पत्तियां आपके लिए काफी प्रभावी हो सकती हैं। इसका इस्तेमाल करने के लिए 10 ग्राम करीब चमेली के पत्ते लें। अब इन पत्तों को 1 गिलास पानी में डालकर काढ़ा तैयार करें। इस काढ़े को चाय की तरह पिएं। इससे पेट में कीड़े की परेशानी दूर हो सकती है। 

कान दर्द से दिलाए राहत (Ear Pain)

चमेली  की पत्तियां कान दर्द की परेशानी को दूर करने के लिए भी फायदेमंद होती हैं। कान दर्द से राहत पाने के लिए 100 ग्राम तिल के तेल में 20 ग्राम चमेली की पत्तियों को डालकर अच्छे से गर्म करें। अब इस तेल को एक शीशी में भरकर रख दें। अब जरूरत पड़ने पर दोनों कानों में 1-1 बूंद इस तेल को डालें। इससे कान में दर्द की परेशानी दूर होगी। आप चाहें, तो इस तेल में एलोवेरा जेल भी एड कर सकते हैं। हालांकि, यह ऑप्शनल है। इससे कान दर्द से तुरंत आराम मिलेगा।

स्किन की बढ़ाए चमक (Skin Care)

स्किन की चमक को बढ़ाने के लिए चमेली की पत्तियां लाभकारी हो सकती हैं। स्किन की परेशानियों को दूर करने के लिए चमेली की पत्तियों को पीस लें। अब इन पत्तियों में 1 चम्मच एलोवेरा जेल और शहद की कुछ बूंदें मिक्स करें। इसके बाद इस लेप को अपने चेहरे पर लगाएं। करीब 20 मिनट बाद चेहरे को धो लें। इससे स्किन की चमक बढ़ेगी। साथ ही स्किन से जुड़ी समस्याएं दूर होंगी।

फटी एड़ियों की समस्या से दिलाए छुटकारा (Cracked Heels)

फटी एड़ियों की परेशानियों को दूर करने के लिए भी चमेली की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए चमेली की पत्तियों को पीस लें। अब इस पेस्ट में 1 से 2 बूंद बादाम तेल मिक्स कर लें। तैयार पेस्ट को अपनी एड़ियों पर लगाएं। इससे फटी एड़ियों की परेशानी दूर हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें - दर्द दूर करने के ल‍िए फायदेमंद हैं चमेली के फूल और पत्‍ते, जानें इस्‍तेमाल का तरीका

स्वास्थ्य के लिए चमेली की पत्तियां काफी फायदेमंद हो सकती हैं। हालांकि, ध्यान रखें कि अगर आप पहली बार इसकी पत्तियों का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें।

Disclaimer