Doctor Verified

क्या हार्ट के मरीज भी कर सकते हैं योगासन? दिल की बीमारी में कौन से योगासन नहीं करने चाहिए

इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर हार्ट के डॉक्टर से जानें कि योगासन दिल के लिए कितने फायदेमंद होते हैं और क्या हार्ट के मरीज भी सभी योगासन कर सकते हैं।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jun 20, 2022Updated at: Jun 20, 2022
क्या हार्ट के मरीज भी कर सकते हैं योगासन? दिल की बीमारी में कौन से योगासन नहीं करने चाहिए

Yoga For Heart: योगासन हजारों सालों से भारतीय संस्कृति और जीवनशैली का हिस्सा रहे हैं। हिंदू शास्त्रों में अष्टांग योग मार्ग को आत्म जागृति का मार्ग बताया गया है। आजकल के जीवनशैली से जुड़ी तमाम बीमारियों और समस्याओं को कंट्रोल करने के लिए योगासन बहुत कारगर पाए गए हैं। यही कारण है कि योग के महत्व को देखते हुए  पिछले कुछ सालों से भारत के आह्वान पर पूरा विश्व 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) के रूप में मनाता है। योगासन हृदय यानी दिल के लिए (Yoga Benefits for Heart) भी बहुत फायदेमंद होते हैं। लेकिन क्या हार्ट के मरीज भी योगासन कर सकते हैं? और क्या सभी योगासन दिल के लिए फायदेमंद होते हैं? इन सवालों का जवाब जानने के लिए ओनलीमायहेल्थ ने बात की मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के सीनियर इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर तिलक सुवर्ण (Dr. Tilak Suvarna) से। आइए आपको बताते हैं उन्होंने इस बारे में क्या कहा।

क्या योगासन हार्ट के लिए फायदेमंद होते हैं? (Yoga Benefits for Heart Health)

डॉ. सुवर्ण बताते हैं, "जी हां, योग हार्ट के लिए बहुत फायदेमंद होता है। जब हम हार्ट की बीमारियों से बचाव के बारे में बात करते हैं, तो हमेशा एक्सरसाइज करने, वजन कम करने, डाइट कंट्रोल की बातें करते हैं। लेकिन हार्ट की बीमारियों का खतरा एक और कारण से बढ़ता है, और वो है स्ट्रेस यानी तनाव। स्ट्रेस शरीर में एक केमिकल रिलीज करता है, जिसे एड्रेनेलिन (थकान और आलस बढ़ाने वाला हार्मोन) कहते हैं। ये केमिकल हार्ट की आर्टरीज को डैमेज करता है और ब्लड प्रेशर को बढ़ाता है। योगासन और ध्यान तनाव कम करने के लिए कारगर माने जाते हैं। देखा गया है कि योग करने से ये स्ट्रेस हार्मोन कम रिलीज होता है इसलिए अगर कोई व्यक्ति नियमित योगासन करता है, तो उसे हार्ट की बीमारियां होने का खतरा कम होता है। हालांकि इस बारे में कोई बड़ी स्टडी नहीं हुई है, लेकिन छोटी-छोटी स्टडी बताती हैं कि योगासन सेहत और हार्ट के लिए फायदेमंद हैं।"

इसे भी पढ़ें- हृदय रोगियों के लिए फायदेमंद है ये 5 योगासन, रोग से छुटकारा दिलाने में करेंगे मदद

क्या हार्ट के मरीज भी योगासन कर सकते हैं? (Is It Safe to Practice Yoga After Heart Attack?)

डॉ. सुवर्ण के अनुसार अगर किसी व्यक्ति को हाल में ही हार्ट अटैक आया है, तो 3-4 हफ्ते उसे योगासन नहीं करना चाहिए। लेकिन इस समय के बाद दिल के मरीज भी योगासन कर सकते हैं। हां, अगर किसी व्यक्ति को एक बार अटैक आ चुका है, तो योगासन शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लेना चाहिए क्योंकि अगर व्यक्ति का हार्ट पंपिंग रेट स्लो है, तो योगासन से उसे परेशानी हो सकती है। हालांकि ऐसे लोग ध्यान यानी मेडिटेशन कर सकते हैं।

 yoga for heart

क्या हार्ट की सर्जरी करा चुके मरीज भी योगासन कर सकते हैं? (Is it Safe to Practice Yoga After Heart Surgery?)

इस सवाल के जवाब में डॉ. सुवर्ण ने कहा, "हां अगर किसी ने हार्ट की सर्जरी करवाई है, तो वो भी 4-6 सप्ताह बाद हल्के-फुल्के योगासनों से रूटीन की शुरुआत कर सकते हैं। हां लेकिन ऐसे लोगों को कुछ खास योगासनों से परहेज करना चाहिए, जैसे- शीर्षासन (सिर नीचे, पैर ऊपर) या कपालभांति आदि। इसका कारण यह है कि ये योगासन ब्लड प्रेशर बढ़ा सकते हैं और हार्ट तक ब्लड की सप्लाई को प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए हार्ट की सर्जरी करवा चुके लोगों या हार्ट के मरीजों को इन योगासनों को करने से बचना चाहिए।"

इसे भी पढ़ें- हार्ट अटैक का खतरा कम करने के लिए रोज करें इन 4 योगासनों का अभ्यास, हृदय रहेगा स्वस्थ

हार्ट के लिए कौन से योगासन फायदेमंद होते हैं? (Best Yoga Poses for Heart)

डॉ. सुवर्ण ने बताया, वैसे तो हार्ट के लिए सभी योगासन फायदेमंद होते हैं। इसलिए जो लोग स्वस्थ हैं लेकिन हार्ट की बीमारियों से बचाव चाहते हैं, वो कोई भी योगासन कर सकते हैं। लेकिन जिन लोगों को हार्ट की बीमारी है उन्हें कपालभांति नहीं करना चाहिए। आप अनुलोम-विलोम, प्राणायाम, सूर्य नमस्कार, वृक्षासन, ताड़ासन, धनुरासन,पश्चिमोत्तासन, शवासन आदि कर सकते हैं। लेकिन बेहतर होगा कि अगर आपको हार्ट की बीमारी है, तो अपने डॉक्टर से एक बार सलाह ले लें।

तो इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आप भी संकल्प लें कि योगासन को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाएंगे और रोज थोड़ा समय निकालकर योगासन जरूर करेंगे। योग आपको शारीरिक-मानसिक रूप से फिट रखेंगे और भविष्य में होने वाली गंभीर बीमारियों खासकर हार्ट अटैक, हार्ट फेल्योर आदि से भी बचाएंगे।

Disclaimer