कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी में बर्फ खाने का मन क्यों करता है?

कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान बर्फ, चॉक, मिट्टी, टूथपेस्ट जैसी चीजें खाने का मन करता है। जानें इसके क्या कारण हो सकते हैं।

Monika Agarwal
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 11, 2022Updated at: Aug 11, 2022
कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी में बर्फ खाने का मन क्यों करता है?

बहुत सी महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान बर्फ खाना पसंद करती हैं। इस समय काफी सारी ऐसी चीजों को खाने का मन करता है, जिन्हें खाने का आपका पहले कभी मन नहीं हुआ था। फोर्टिस हॉस्पिटल नोएडा के ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजी विभाग की डॉ. मोनिका वाधवान के मुताबिक गर्भावस्था में कुछ ऐसी चीजों को खाने का मन करना जो आमतौर पर खाई नहीं जातीं, जैसे टूथपेस्ट,मिट्टी, चॉक आदि को खाने की क्रेविंग को पिका या पैगोफैगिया कहा जाता है। प्रेग्नेंसी काफी रिस्की समय होता है क्योंकि इस समय आपको अपना ही नहीं, बल्कि अपने बच्चे का भी ख्याल रखना होता है। इसलिए आपको हर चीज का सेवन करने से पहले यह जरूर जान लेना चाहिए कि यह आपके और आपके बच्चे के लिए सुरक्षित है या नहीं। कभी-कभार इस समय बर्फ चबाना रिफ्रेशिंग लग सकता है और इससे मूड भी काफी अच्छा हो सकता है। लेकिन ठंडी चीजों का ज्यादा सेवन करना आपके और बच्चे के लिए हानिकारक भी हो सकता है। इसलिए बर्फ का ज्यादा बार सेवन न करना ही बेहतर विकल्प है। आइए जानते हैं इस दौरान बर्फ का सेवन करना सुरक्षित है या फिर नहीं।

क्या प्रेग्नेंसी में बर्फ खाना सुरक्षित है?

वैसे तो बहुत सारी महिलाएं प्रेग्नेंसी में बर्फ खाना पसंद करती हैं और इसमें कोई जोखिम भी नहीं जुड़ा हुआ है। यह शरीर के लिए कभी-कभार खाने में सुरक्षित हो सकती है लेकिन आपको अपने डॉक्टर से इस बारे में जरूर बात कर लेनी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी में हो रही है जंक फूड खाने की क्रेविंग तो खाएं ये 8 हेल्दी फूड्स, क्रेविंग से तुरंत मिलेगा छुटकारा

क्या बर्फ का सेवन करने से कोई लाभ भी देखने को मिल सकता है?

अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान बर्फ का सेवन करती हैं, तो शरीर को एक राहत मिलती है खास कर गर्मियों के मौसम में। इसका सेवन करने से बॉडी सूद होती है और शरीर का तापमान भी सामान्य बना रहता है। यह शरीर को हाइड्रेट करने में भी मदद करता है। बर्फ खाने से शरीर को हाइड्रेशन मिलता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि इसको पानी की जगह प्रयोग किया जा सकता है।

प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं का बर्फ खाने का मन क्यों करता है? 

प्रेग्नेंसी के दौरान बर्फ खाने का कारण पूरी तरह से अज्ञात है। हो सकता है प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में हो रही किसी पोषण की कमी के कारण भी बर्फ खाने का मन करता हो। एक स्टडी में आइस क्रेविंग जिन महिलाओं को होती थी उनके पीछे का कारण एनीमिया पाया गया। इसलिए इस तरह की चीजों का सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से फुल बॉडी चेक अप भी करवा लेना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी में क्‍यों होती है 'फूड क्रेविंग', जानिए इसके होने के नुकसान क्‍या हैं और बचाव कैसे करें

प्रेग्नेंसी में ज्यादा बर्फ खाने से होने वाले कुछ साइड इफेक्ट्स

  • अगर इस समय ज्यादा मात्रा में बर्फ का सेवन कर लिया जाता है, तो दांत और एनेमल को नुकसान पहुंच सकता है। 
  • इसका सेवन करते रहने से मसूड़ों में इंफेक्शन का खतरा बढ़ता है और कैविटी भी हो सकती है। 
  • जबड़े में भी कुछ तरह के बदलाव देखने को मिल सकते हैं।
  • इसका सेवन करने से शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स में असंतुलन पैदा हो सकता है, जिस कारण सीजर जैसे साइड एफेक्ट्स भी देखने को मिल सकते हैं।
  • गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल समस्याओं का रिस्क भी बर्फ का सेवन करने से काफी ज्यादा बढ़ सकता है।

अगर आप अपनी बर्फ खाने की इच्छा को नियंत्रित करना चाहती हैं तो सबसे पहले पौष्टिक जरूरतें पूरी हैं या नहीं इस बात को चेक करवाएं। इसके बाद अपने डॉक्टर से भी इस बारे में बात कर सकती हैं और वह आपकी काफी मदद कर सकते हैं। आयरन की कमी या एनीमिया जैसी स्थिति से, तो नहीं जूझ रही हैं इस बात का भी जरूर ध्यान रखें और डाक्टर से सलाह लें।

Disclaimer