आपके न्यूबॉर्न बेबी की है ये पहली दिवाली? इस तरह करें उसकी केयर

दिवाली के सेलिब्रेशन के बीच आपको अपने नवजात शिशु की देखभाल के लिए कुछ बातों का खास ख्याल रखना चाहिए।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Oct 19, 2022 16:03 IST
आपके न्यूबॉर्न बेबी की है ये पहली दिवाली? इस तरह करें उसकी केयर

दिवाली खुशियों और प्यार का त्योहार है। दिवाली में चारों तरफ रोशनी, मिठाइयां, स्वादिष्ट व्यंजन और पटाखों की आवाज से मन उत्साह से भर उठता है। ऐसे में, अगर आप अभी-अभी मां बनी हैं और ये आपके बेबी की पहली दिवाली है तो यह मौका और भी ज्यादा खास बन जाता है। हालांकि, दिवाली के सेलिब्रेशन के बीच आपको अपने नवजात शिशु की देखभाल के लिए कुछ बातों का खास ख्याल रखना चाहिए। अकसर नए पेरेंट्स दिवाली की सेलिब्रेशन के दौरान अपने शिशु की देखभाल में कुछ गलतियां कर बैठते हैं, जिससे उसकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। अगर आप अपने बेबी को दिवाली के दौरान खुश और स्वस्थ रखना चाहते हैं तो ये बेबी केयर टिप्स जरूर फॉलो करें (Diwali Safety Tips For Newborn Babies In Hindi)

बच्चे के आस-पास ही रहें

दिवाली में लोग एक-दूसरे से मिलते हैं। ऐसे में, घर में मेहमानों का आना-जाना लगा रहता है। इतने सारे नए लोगों को आसपास देखकर बच्चा बेचैन और चिड़चिड़ा हो सकता है, इसलिए बच्चे के आस-पास ही रहें। इसके अलावा, बच्चे को संक्रमण से बचाने के लिए नए लोगों से दूर रखें। छोटे बच्चों की इम्युनिटी काफी कमजोर होती है, जिसके कारण वे जल्दी बीमार पड़ जाते हैं। सुनिश्चित करें कि आपके बच्चे को छूने वाले हर व्यक्ति के हाथ साफ हों। आप भी बच्चे को छूने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह से धोएं और उसकी साफ-सफाई का भी ध्यान रखें।  

इसे भी पढ़ें: नवजात शिशु के टीके की डोज छूट जाने पर क्या करें? जानें डॉक्टर से

शोर से बचाएं

दिवाली पर पटाखों की आवाज से आपका शिशु डर सकता है, क्योंकि उसे इतना शोर सुनने की आदत नहीं है। नवजात शिशु के कान काफी सेंसिटिव होते है, इसलिए ज्यादा शोर के कारण उसके कानों को भी नुकसान पहुंच सकता है। बेहतर होगा कि आप शिशु को लेकर कहीं बाहर ना जाएं और घर के अंदर भी उसके कानों को कॉटन बॉल या टोपी से ढंककर रखें। इसके अलावा, दिवाली के शोर-शराबे से शिशु को बचाने के लिए कमरे के खिड़की और दरवाजे भी बंद कर दें। 

Baby-Diwali-Care

शिशु को मिले साफ हवा 

दिवाली के दौरान पटाखों के धुंए के कारण एयर क्वालिटी काफी खराब हो जाती है, जिससे आपके बच्चे को सांस लेने में तकलीफ हो सकती है। बेहतर होगा कि बच्चे को बाहर की दूषित हवा में ना लेकर जाएं। घर में भी बच्चे के कमरे में एयर प्यूरीफायर लगाएं, जिससे उसे साफ हवा मिल सके। अगर आप बच्चे को बाहर लेकर ला रहे हैं तो उसके मुंह को किसी कॉटन की चुन्नी या कपड़े से ढंककर रखें। लेकिन, ध्यान रखें कि इससे बच्चे की सांस ना फूले।  

इसे भी पढ़ें: श‍िशु के चेहरे पर दाने निकलने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें बचाव के उपाय

सेलिब्रेशन शुरू होने से पहले बेबी को करें तैयार

अगर आप चाहती हैं कि आप और आपका बेबी त्योहार को एंजॉय करे, तो दिवाली वाले दिन पूजा और सेलिब्रेशन शुरू होने से पहले ही बेबी को तैयार कर दें। दिवाली की पूजा शुरू होने से पहले ही बच्चे का डायपर चेंज कर दें और उसे कपड़े पहना दें। इसके अलावा, त्योहार की तैयारियों के बीच अपने बच्चे को दूध पिलाना ना भूलें। कई महिलाऐं अपनी व्यस्तता के कारण बच्चे को ब्रेस्टफीड के बजाय बोतल से फीड करवाती हैं। लेकिन, अगर आपके शिशु को बाहरी दूध की आदत नहीं है, तो इससे उसका पेट खराब हो सकता है। बेहतर होगा कि आप दिवाली वाले दिन समय से बच्चे को तैयार कर दें, जिससे सेलिब्रेशन के समय बच्चा भूख से रोए नहीं।    

इन टिप्स को फॉलो करके आप दिवाली पर अपने न्यूबॉर्न बेबी की देखभाल कर सकते हैं। इससे आप और आपका बेबी, दोनों दिवाली को एंजॉय कर पाएंगे।

Disclaimer