PM Modi Birthday: 71 साल की उम्र में खुद को कैसे फिट रखते हैं पीएम मोदी, जानें उनके फिटनेस सीक्रेट्स

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन्मदिन है। 71 साल की उम्र में भी वो जितने फिट और एक्टिव हैं, वो युवाओं के लिए भी प्रेरणा हैं। जानें उनका फिटनेस रूटीन

सम्‍पादकीय विभाग
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Sep 16, 2019
PM Modi Birthday: 71 साल की उम्र में खुद को कैसे फिट रखते हैं पीएम मोदी, जानें उनके फिटनेस सीक्रेट्स

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज 71वां जन्‍मदिन (Prime Minister Narendra Modi's 71st birthday) है। उम्र के इस पड़ाव में भी प्रधानमंत्री मोदी काफी फिट हैं। पीएम मोदी का फिटनेस, स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति उनकी सजगता को दर्शाता है। शायद यही वजह है कि वह योग और अन्‍य दूसरे तरीकों से खुद को फिट रखते हैं। उन्‍हें कई बार अलग-अलग कार्यक्रमों के माध्‍यम से लोगों को स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति जागरूक करते सुने जाते हैं। अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस, खेलो इंडिया, फिट इंडिया मूवमेंट और ऐसे कई मौकों पर नरेंद्र मोदी स्‍वस्‍थ शरीर के महत्‍व के बारे में बताते रहे हैं। उन्‍होंने कई बार अपने साथी मंत्रियों को भी फिट रहने की सलाह दी है। 

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) का मानना है कि शरीर को स्‍वस्‍थ रखकर ही मस्तिष्‍क को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है। जो खुद के और देश के विकास के लिए जरूरी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्‍मदिन के मौके पर हम आपको उनके बताए कुछ हेल्‍थ टिप्‍स के बारे में बता रहे हैं, जिनके माध्‍यम से आप खुद को हेल्‍दी रख सकते हैं। 

 

पीएम मोदी का फिटनेस टिप्‍स- Narendra Modi Fitness Tips

साल 2012 में, जब प्रधानमंत्री गुजरात के मुख्‍मंत्री थे, तब उन्‍होंने एक साक्षात्‍कार में बताया था कि, उन्‍हें खिचड़ी पसंद है और वे बहुत ही सिंपल भोजन करते हैं। उन्‍होंने बताया कि वह रेगुलर योग और एक्‍सरसाइज भी करते हैं। पीएम मोदी कहते हैं "मेरा शरीर कभी भी देश के लिए समाज के लिए बोझ न बने, कोई भी मेरी सेवा न करें और मैं चाहता हूं कि अंतिम सांस तक मैं तंदरूस्‍त रहूं।"  

योग

हम सभी इस तथ्य से अच्छी तरह से वाकिफ हैं कि पीएम मोदी अपने दिन की शुरुआत योग से करते हैं। प्रधानमंत्री अक्सर सोशल मीडिया पर फिटनेस वीडियो पोस्ट करते हैं। हाल ही में, 21 जून को योग दिवस से पहले, स्वास्थ्य के प्रति सजग पीएम ने कई वीडियो ट्वीट किए थे, जिसमें खुद को एनिमेटेड आसन करते दिखाया था, जिसमें विभिन्न आसन करते हुए नागरिकों को योग जैसी स्वस्थ जीवन शैली अपनाने के लिए प्रेरित किया था। योग के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य लाभ बहुत अधिक हैं, जो फ्लेक्सिबिलिटी और मांसपेशियों की ताकत बढ़ाने से लेकर तनाव और अनिद्रा को दूर करने में मददगार है। पीएम मोदी ने बताया ध्‍यान करने का स‍ही तरीका

नंगे पैर चलना 

अपने फिटनेस रूटीन के बारे में कुछ दिलचस्प बातों का खुलासा करते हुए पीएम मोदी ने पिछले साल एक वीडियो पोस्‍ट किया, जिसमें उन्हें फ़ुट रिफ्लेक्सोलॉजी यानी नंगे पैर चलते हुए देखा जा सका था। मूल रूप से, पैर रिफ्लेक्सोलॉजी पैरों के तलवों पर एक्यूप्रेशर बिंदुओं को मालिश करने और उत्तेजित करने के लिए बनाया गया व्यायाम है। रिफ्लेक्सोलॉजी पथ में कई स्वास्थ्य लाभ देने का दावा किया जाता है, जिसमें रक्तचाप को कम करना, तनाव से राहत, रिफ्लेक्स पॉइंट और महत्वपूर्ण ऊर्जा को बढ़ावा देना शामिल है।

pm-modi

ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज

पीएम मोदी ने यह भी खुलासा कर चुके हैं कि वह ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज भी करते हैं, जिसका उद्देश्य तंत्रिका तंत्र को शांत करने से लेकर हृदय प्रणाली में सुधार करने के लिए करते हैं। ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज के लाभों में श्वसन प्रणाली में सुधार और कई अन्य लोगों में पाचन को बढ़ावा देना शामिल है। 

सर्दी-जुकाम होने पर अपनाते हैं घरेलू उपाय

2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान, अभिनेता अक्षय कुमार को दिए 'नॉन-पॉलिटिकल इंटरव्‍यू' में उन्‍होंने अक्षय से बताया था कि "जुकाम होने पर मैं गर्म पानी पूरे समय पीता हूं, दूसरा हो सके तो फास्टिंग करता हूं, 24 से 48 घंटे सिर्फ गर्म पानी पीता हूं। तीसारा, सरसों का तेल होता है, जिसे मैं हल्‍का गर्म करके एक-दो बूंद नाक में डाल देता हूं, यह जलन तो करता है लेकिन एक-दो दिन में यह ठीक हो जाता है" हालांकि, उन्‍होंने यह भी बताया कि वह त्‍वचा की देखभाल करने के लिए कैस्‍टर ऑयल का इस्‍तेमाल करते थे। इससे उनकी त्‍वचा हमेशा चमकती रहती थी।

इसे भी पढ़ें: पीएम मोदी ने बताए जुकाम दूर भगाने के आसान घरेलू उपाय, 2 दिन में मिलता है आराम

'फिट इंडिया मूवमेंट' से बताया फिट रहने का मूल मंत्र

प्रधानमंत्री मोदी ने 29 अगस्‍त 2019 को फिट इंडिया मूवमेंट का आगाज किया था। भारत सरकार के मुताबिक, फिट इंडिया मूवमेंट करीब चार साल तक चलाया जाएगा। हालांकि हर साल इसमें फिटनेस के अलग-अलग विषयों को शामिल किया जाएगा। अभियान की थीम पहले साल शारीरिक फिटनेस, दूसरे साल खाने की आदतें, तीसरे साल पर्यावरण अनुकूल जीवन शैली और चौथे साल रोगों से दूर रहने के तरीकों पर आधारिक है और इसके आधार पर ही लोगों को जागरूक किया जाएगा।

Read More Articles On Fitness & Exercise In Hindi

Disclaimer