बच्चे की डिलीवरी के लिए हॉस्पिटल जाने से पहले बैग में जरूर रख लें ये सामान, नहीं उठानी पड़ेगी परेशानी

Hospital bag: डिलीवरी डेट से पहले मां को अपने लिए और बच्चे के लिए ये सामान बैग में जरूर रख लेने चाहिए, वरना बाद में परेशानी उठानी पड़ सकती है।

Deepshikha Singh
Written by: Deepshikha SinghPublished at: Aug 15, 2022Updated at: Aug 15, 2022
बच्चे की डिलीवरी के लिए हॉस्पिटल जाने से पहले बैग में जरूर रख लें ये सामान, नहीं उठानी पड़ेगी परेशानी

डिलीवरी का समय नजदीक आते ही हर मां को घबराहट होने लगती है। कई बार समझ नहीं आता कि क्या तैयारी करें और क्या नहीं। ये समय और मुश्किल तब हो जाता है, जब आप पहली बार मां बन रही हों।  डिलीवरी के लिए हॉस्पिटल जाने से पहले क्या तैयारी करनी चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, इस बारे में कई बार लोगों को जानकारी नहीं होती है। इसके कारण उन्हें हॉस्पिटल में कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। आमतौर पर अगर बेबी नॉर्मल डिलीवरी से होता है, तो आपको 1 से 2 दिन हॉस्पिटल में रहना पड़ सकता है। वहीं सिजेरियन डिलीवरी होने की स्थिति में 4 से 5 दिनों तक हॉस्पिटल में रहना पड़ सकता है। इसलिए डिलिवरी डेट नजदीक आते ही आपको हॉस्पिटल में जरूरत पड़ने वाले सामानों की पैकिंग शुरू कर देनी चाहिए। आप अस्पताल जाने वाला बैग प्रेग्‍नेंसी के 36 हफ्ते पूरे होने के बाद तैयार कर सकते हैं। इस बैग को ऐसी जगह रखें जहां जाने से पहले नजर पडे़।

मां के लिए जरूरी सामान

मैटरनिटी बैग तैयार करते समय मां को ध्यान रखना चाहिए कि बैग में इस तरह का सामान रखें, जो बेबी होने के बाद भी काम आए। बैग में सबसे पहले अपनी प्रेगनेंसी के दौरान हुई जांच, पुराने समय से चल रही बीमारी की रिपोर्ट, दवाओं की पर्ची आदि  रख लें। इसकी जानकारी परिवार के किसी सदस्य को भी दें। 

  • ऐसी चप्पलें जो पहनने में कंफर्ट हो और फिसले नहीं।
  • अपने लिए 3-4 नाईटी या गाउन रखना न भूलें। 
  • अस्पताल के लिए कंघा, टूथब्रश, टूथपेस्ट, शॉवर जेल और शैम्पू रखना न भूलें।
  • जुराबें भी साथ रखें। मौसम कोई भी हो, डिलीवरी होने के बाद इन्हें पहनना अच्छा रहता है।
  • घर वापस जाते समय पहनकर जाने वाले कपड़े भी साथ रखें। इस समय के लिए ऐसे कपड़े का चुनाव करें जो कमर से ज्यादा टाइट न  हों।
  • शिशु को स्तनपात करवाने के लिए नर्सिंग ब्रा को लेना अति आवश्यक है।
  • अपने साथ मैटरनिटी सैनिटरी पैड भी रखें। ये नॉर्मल पैड से अलग होते  हैं।
  • ऐसे अंडरगारमेंट्स का चुनाव करें, जिसकी इलास्टिक बैंड ज्यादा टाइट न हो।

इसे भी पढ़ें- पेरेंट्स को बच्चों के सामने नहीं करनी चाहिए ये गलतियां, पड़ता है बुरा असर

Hospital bag checklist

 शिशु के लिए सामान

मौसम के हिसाब से बच्चे के लिए 3 से 4 जोड़ी कपड़े रखें। ध्यान रखें बच्चे के लिए रॉम्पर, झबला, जुराबें और ग्लव्स आदि जरूर रखें।

  • बच्चे को लिटाने के लिए बिछाने वाली कॉटन की चादरें जरूर रखें।
  • मौसम सर्द हो या न हो, बच्चे को ढकने के लिए कंबल और साफ टॉवेल रखें।
  • बिस्तर सूखा रखने के लिए वॉटरप्रूफ शीट भी रख सकते हैं।
  • बच्चे के लिए सबसे छोटे साइज का ही डाइपर खरीदें।
  • बच्चे को नहलाने के लिए शैंपू, साबुन और एक साफ तौलिया साथ रखें।
  • बच्चे का मुंह पोंछने के लिए कॉटन का रूमाल रखें।
  • बच्चे की स्किन को साफ करने के लिए मुलायम वाइप्स रखें।
  • आप शिशु के लिए दूध की बॉटल भी रख सकते हैं क्योंकि कई बार मां को दूध आने में थोड़ा वक्त लगता है। ऐसे में शिशु को बोतल से दूध पिलाने की जरूरत पड़ सकती है।

इन चीजों के अलावा आप अपनी पर्सनल जरूरत के अनुसार याद करके चीजें रख सकते हैं, ताकि आपको बार-बार परेशानी न हो।

All Image Credit- Freepik

Disclaimer