मिथिला मखाना है सेहत के लिए खास, कोलेस्ट्रॉल और हाई बीपी जैसी इन 5 समस्याओं में फायदेमंद है इसका सेवन

मिथिला मखाना में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह डायबिटीज से लेकर हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद करता है। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariUpdated at: Dec 20, 2021 16:33 IST
मिथिला मखाना है सेहत के लिए खास, कोलेस्ट्रॉल और हाई बीपी जैसी इन 5 समस्याओं में फायदेमंद है इसका सेवन

मखाना कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। व्रत-उपवास में ही नहीं बल्कि शाम के हेल्दी स्नैक्स में भी मखाना लोगों को खूब पसंद आता है। लेकिन मखाना में भी बिहार के मिथिला का मखाना सबसे प्रसिद्ध है। हाल ही में सरकार द्वारा इसे जीआई टैग भी मिल गया है। भारत में 90 प्रतिशत मखाने का उत्पादन बिहार में होता है। मिथिला मखाना स्वाद में बेहतरीन और पोषक तत्वों से भरपूर होता है। सूपरफूड मिथिला मखाना में प्रोटीन और फाइबर पाया जाता है। साथ ही यह कैल्शियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस और कैलोरी से भरपूर एक अच्छा खाद्य पदार्थ है। इसमें कई विटामिन्स भी पाए जाते हैं। इसमें अखरोट, काजू और अन्य ,सूखे मेवे की तुलना में ज्यादा पोषक तत्व पाए जाते हैं। आइए विस्तार से जानते हैं इसके स्वास्थ्य लाभ और इस्तेमाल के बारे में।

मिथिला मखाना के फायदे (Health benefits of Mithila makhana)

1.  वजन कम करने में मददगार

मिथिला मखाना में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है, जिससे जल्दी भूख नहीं लगती है। मखाना के सेवन से आप ओवरईटिंग नहीं करते हैं। इसमें प्रोटीन भी पाया जाता है, जो वजन कम करने और शरीर के पोषण के लिए बेहद जरूरी होता है। इससे आपको आसानी से वजन कम करने में मदद मिलेगी।

2.  हाई ब्लड प्रेशर करें कंट्रोल 

मिथिला मखाना में सोडियम की बेहद कम मात्रा पाई जाती है, जिससे आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है । साथ ही मिथिला मखाना में पोटैशियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक है। इसलिए मिथिला मखाना का सेवन हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों के लिए बेहद फायदेमंद है।

mithila-makhaana

Image Credit- Freepik

3.  एंटी एजिंग गुणों से भरपूर

मिथिला मखाना में एंटी एंजिंग और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करने में मददगार है। इसके सेवन से झुर्रियों और सफेद बाल कम हो जाते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद केम्पफएरोल नामक प्राकृतिक फ्लेवोनोइड की मदद से चेहरे की सूजन को रोकने में मदद मिलती है।

4. कोलेस्ट्रोल कम करने में सहायक

मिथिला मखाना में कैलोरी की काफी कम मात्रा में होती है। साथ ही इसमें कई एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जिससे कोलेस्ट्रोल कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा मखाना के सेवन से हार्ट डिजीज और अर्थराइटिस में भी काफी आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें-  इन 4 समस्याओं वाले लोगों को नहीं खाना चाहिए मखाना, सेहत को हो सकता है नुकसान

5. डायबिटीज कंट्रोल करें

डायबिटीज रोगियों के लिए मखाना बहुत अच्छा होता है। मखाना का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, जिसकी वजह से इसके सेवन से ब्लड में शुगर की मात्रा नहीं बढ़ती है। मिथिला मखाना में मैग्नीशियम पाया जाता है, जिससे मसल्स और नर्व फंक्शन को ठीक रखता है।  

mithila-makhaana

Image Credit- Freepik

एक दिन में कितना मिथिला मखाना खाना चाहिए

एक दिन में 2-3 मुट्ठी मिथिला मखाना का सेवन ही करना चाहिए। इसके सेवन से आपको प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर भरपूर मात्रा में मिल जाता है। इसका अपनी स्वास्थ्य आवश्यकता के अनुसार सेवन करना चाहिए। वजन घटाने के लिए 30 ग्राम से कम मिथिला मखाना खाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें- बच्चों को मखाना खिलाने से उनकी सेहत को मिलते हैं ये 9 फायदे, पूरी होती है पोषक तत्वों की कमी

मिथिला मखाना का इस्तेमाल करने का तरीका 

1.  मिथिला मखाना को आप सुबह अंजीर और बादाम के साथ खा सकते हैं। इससे पूरे दिन आप ऊर्जावान महसूस करते हैं। 

2. इसके अलावा आप मिथिला मखाना को शाम में स्नैक्स के तरह भी खा सकते हैं। घी में भुनकर इसमें काला नमक डालकर इसका सेवन किया जाता है। 

3. मिथिला मखाना की खीर बनाकर भी इसका सेवन किया जा सकता है। इसके लिए आप दूध में केला, ड्राई फ्रूट्स, केसर और मिथिला मखाना डालकर खीर बना लें।

4. इसके अलावा आप मिथिला मखाना को घी और गुड़ में मिलाकर कढ़ाई में पकाकर भी खा सकते हैं। स्वाद के लिए आप इसमें ऊपर से सफेद तिल भी डाल सकते हैं।

मिथिला मखाना के नुकसान 

अधिक मिथिला मखाना के सेवन से आपको कई नुकसान भी हो सकते हैं। अधिक सेवन से कब्ज, गैस, सूजन और पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती है। इसके अलावा डायबिटीज के मरीजों का शुगर लेवल कम हो सकता है। साथ ही कई लोगों को मिथिला मखाने से एलर्जी भी हो सकती है। इसलिए अपनी स्वास्थ्य स्थिति का ध्यान रखते हुए मिथिला मखाना का सेवन संतुलित मात्रा में करें। 

Disclaimer