क्या प्रेगनेंसी में हेयर कलर करवा सकते हैं? जानें खतरे और सावधानियां

Hair Colouring During Pregnancy: महिलाओं को प्रेगनेंसी के समय हेयर कलर लगाना सुरक्षित है या नहीं?

Deepshikha Singh
Written by: Deepshikha SinghPublished at: Aug 02, 2022Updated at: Aug 02, 2022
क्या प्रेगनेंसी में हेयर कलर करवा सकते हैं? जानें खतरे और सावधानियां

प्रेगनेंसी के समय महिलाओं को बहुत सी चीजें करने से मना किया जाता हैं। ऐसे में प्रेगनेंसी के समय बाल कलर कराना चाहिए या नहीं, ये प्रश्न कई महिलाओं के मन में आता है। डॉक्टर महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान बहुत सारी सावधानियां बरतने की सलाह देते हैं। ऐसे में महिलाओं के मन में ये प्रश्न बार-बार उठता हैं कि कहीं कलर कराने से शिशु की सेहत को कोई नुकसान तो नहीं पहुंचेगा? ऐसा माना जाता है कि हेयर कलर में ऐसे केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है, जो शिशु के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते हैं। आइए जानते हैं कि क्या प्रेगनेंसी में हेयर कलर करवा सकते हैं?

प्रेगनेंसी में हेयर कलर का इस्तेमाल

प्रेगनेंसी में हेयर कलर के इस्तेमाल से केमिकलयुक्त कलर का कुछ हिस्सा त्वचा के सहारे अंदर चला जाता है। कुछ स्थितियों में ये केमिकल्स प्लेसेंटा के जरिए भ्रूण तक जा सकते हैं। ऐसा कहा जाता है कि हेयर कलर में अमोनिया पाया जाता है, जो शिशु के विकास के लिए हानिकारक हो सकता है। ऐसे में हेयर कलर की जगह हाईलाइट्स कराकर भी बालों को हेयर कलर करने से बचा जा सकता हैंक्योंकि हाईलाइट्स बालों के जड़ तक नहीं लगाया जाता जिस कारण हाईलाइट कराने का भ्रूण पर कुछ ज्यादा असर नहीं होता है। प्रेगनेंसी के समय हेयर कलर कराना अगर बहुत जरूरी हो, तो डॉक्टर की सलाह पर प्रेगनेंसी के दूसरे ट्राइमेस्टर (दूसरी तिमाही) में हेयर कलर करा सकते हैं। प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में हेयर कलर कराना ज्यादा खतरनाक हो सकता है क्योंकि उस दौरान शिशु की हड्डियो का विकास, शिशु के आकार आदि का विकास होता है। उस समय हेयर कलर कराना बिल्कुल सही नहीं होगा। ध्यान रखें प्रेगनेंसी में किसी भी समय हेयर कलर कराने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर बात कर लें।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी में पैरों की सूजन को कम करने के घरेलू उपाय

Hair Colouring During Pregnancy

प्रेगनेंसी में हेयर कलर कराने पर बरती जानें वाली सावधानियां

हेयर कलर कराने से पहले पैकेट की जांच करें। सभी निर्देशो को अच्छे से पढ़ें। अमोनिया और ब्लीच मुक्त हेयर कलर करने की कोशिश करें। 

प्रेगनेंसी में बालों को कलर करने के लिए हर्बल हेयर डाई सबसे सुरक्षित होती है। इसमें किसी तरह के केमिकल्स नहीं होते।

बालों को रंगने के लिए मेहंदी का इस्तेमाल भी किया जा सकता है।

हेयर डाई को बालों पर लगाते हुए ग्लव्स अवश्य पहनें।

बालों पर बहुत देर तक हेयर कलर लगा हुआ न छोड़ें। 

प्रेगनेंसी का समय बहुत नाजुक होता है। स्किन और बालों पर कुछ भी लगाने से पहले डॉक्टर की राय अवश्य लें। 

All Image Credit- Freepik

Disclaimer