ग्रीन लाइट थेरेपी क्या है? जानें दर्द से लेकर तनाव दूर करने तक इसके 9 फायदे

Green Light Therapy: ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद से स्वास्थ्य को कई लाभ हो सकते हैं। आइए जानते हैं इस बारे में-

 
Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraUpdated at: Nov 25, 2022 14:21 IST
ग्रीन लाइट थेरेपी क्या है? जानें दर्द से लेकर तनाव दूर करने तक इसके 9 फायदे

Green Light Therapy: आधुनिक समय में लोग कई तरह की गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं। इन बीमारियों में लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारियां प्रमुख रूप से शामिल हैं। बुजुर्गों से लेकर छोटे-छोटे बच्चे कई तरह की समस्याओं से ग्रसित हो रहे हैं। इन समस्याओं में दर्द की परेशानी काफी ज्यादा आम हो चुकी है। शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द होने पर हमारे दिनचर्या प्रभावित होती है। खासतौर पर जब पुराना दर्द उबर आए तो यह काफी ज्यादा तकलीफदेह हो जाता है, जिसे दूर करना काफी मुश्किल हो जाता है। इस तरह की परेशानियों को दूर करने के लिए आपको किसी दवा या फिर इलाज की जरूरत नहीं है, बल्कि ग्रीन लाइट थेरेपी आपके पुराने से पुराने दर्द को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। जी हां, हाल ही में हुए रिसर्च के मुताबिक, ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद से सालों पुराने दर्द की परेशानी कम की जा सकती है। आइए जानते हैं ग्रीन लाइट थेरेपी क्या है और इससे होने वाले फायदे क्या हैं? Green Light Therapy - ग्रीन लाइट थेरेपी

क्या है ग्रीन लाइट थेरेपी?

ग्रीन लाइट थेरेपी इन दिनों काफी ज्यादा पॉपुलर हो रहा है। दरअसल, इस थेरेपी में मरीज या फिर दर्द से पीड़ित व्यक्ति को ग्रीन लाइट में रहने की सलाह दी जाती है। इस थेरेपी की खास बात यह है कि इससे आपके स्वास्थ्य को किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है। 

इसे भी पढ़ें - क्या अस्थमा के कारण सीने में दर्द हो सकता है? जानें किन लक्षणों को नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी

क्या कहती है रिपोर्ट

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, अमेरिका की ड्यूक यूनिवर्सिटी में ग्रीन लाइट थेरेपी पर अध्ययन किया गया है। दअरसल, अमेरिका जैसे देश में लगभग 5 करोड़ से अधिक लोग किसी न किसी दर्द संबंधी परेशानी से जूझ रहे हैं। इन परेशानियों से छुटाका पाने के लिए लोगों ने कई तरह की थेरेपी ली, लेकिन इससे उनके स्वास्थ्य में किसी भी तरह का फर्क नजर नहीं आया। वहीं, कई ऐसे लोग हैं, जिन्हें दर्द को कम करने वाली दवाओं की आदत हो गई, जो स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह साबित होता है। ऐसे लोगों के लिए ग्रीन लाइट थेरेपी वरदान से कम नहीं है।

ड्यूक यूनिवर्सिटी में किए गए अध्ययन में दर्द से पीड़ित मरीजों को 4-4 घंटे के लिए अलग-अलग रंग के चश्में पहनने के लिए दिया गया। रिसर्च में यह बात सामने आई कि जिन लोगों ने हरे रंग का चश्मा पहना, उनमें दर्द और चिंता विकृति जैसी परेशानी कम हुई। 

कैसे कार्य करती है ग्रीन लाइट थेरेपी

रिसर्च में बताया गया है कि ग्रीन लाइट थेरेपी लेने से स्वास्थ्य को कई लाभ हो सकते हैं। दरअसल, जब आप ग्रीन लाइट थेरेपी लेते हैं, तो हरे रंग की लाइट आंखों के रास्तों से ब्रेन तक पहुंचती है, जिससे दर्द को कम करने में मदद मिलती है। इसके साथ ही ग्रीन लाइट से आंखों में मौजूद मेलानोप्सिन एसिड ट्रिगर होता है, जो दिमाग को दर्द पर काबू पाने का संदेश भेजता है, जिससे दर्द को कंट्रोल करने में मदद मिलती है।  

ग्रीन लाइट थेरेपी के फायदे क्या हैं?

1. ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद से आप सालों पुराने दर्द पर काफी पा सकते हैं।

2. यह माइग्रेन की वजह से होने वाले सिरदर्द को कम कर सकता है। 

3. ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद से आप मानसिक समस्याओं को दूर कर सकते हैं। 

4. यह लाइट नसों में होने वाले दर्द को भी कम करने में प्रभावी है। 

5. शरीर की सूजन को कम करने में मददगार होता है। 

6. अनिद्रा की परेशानियों को कम करने में असरदार है। 

7. स्किन के लिए भी ग्रीन लाइट थेरेपी असरदार होता है। 

8. एक्ने की परेशानियों को दूर करने के लिए ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद ली जा सकती है। 

9. ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर की जा सकती है। 

ग्रीन लाइट थेरेपी की मदद से सालों पुराने दर्द को कम किया जा सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि अगर आप किसी गंभीर परेशानी से जूझ रहे हैं तो एक्सपर्ट की सलाह लेकर ही ग्रीन लाइट थेरेपी लें। वहीं, समय पर अपना इलाज कराएं।

 
Disclaimer