Expert

फॉलिकुलाइटिस बन सकता है हेयर फॉल का कारण, जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

फॉलिकुलाइटिस  सिर के बाल झड़ने का कारण बन सकता है।  चलिए जानते हैं इसके कारण और बचाव 

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: May 07, 2022Updated at: May 07, 2022
फॉलिकुलाइटिस बन सकता है हेयर फॉल का कारण, जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

फॉलिकुलाइटिस यानी स्कैल्प एक्ने। यह एक ऐसी समस्या है, जो बाल झड़ने का कारण बनती है। यह स्कैल्प में बालों के रोम का एक सूजन संबंधी विकार है। सेलिब्रिटी हेयर स्टाइलिस्ट प्रियंका बोरकर के अनुसार फॉलिकुलाइटिस एक ऐसी स्थिति है, जिसमें हेयर फॉलिकल्स में सूजन हो जाती है।  इसे  प्रोपियोनिबैक्टीरियम फॉलिकुलिटिस के नाम से भी जाना जाता है। फॉलिकुलाइटिस होने पर स्कैल्प पर छोटे,  खुजली दाने हो जाते हैं, जो हेयरलाइन पर सबसे अधिक परेशानी करती है। इसकी वजह से स्कैल्प की स्किन ड्राई हो जाती है, बालों के बीच का फ्रिक्शन कम हो जाता है। चलिए विस्तार से जानते हैं फॉलिकुलाइटिस के बारे में- 

फॉलिकुलाइटिस के कारण

  • बैक्टीरिया या यीस्ट इंफेक्शन भी सिर के हेयर फॉलिकल्स पर अटैक कर सकते हैं। इस स्थिति में फॉलिकल्स सूज जाते हैं और फिर सूजन देखने को मिलती है।
  • ज्यादा फ्रिक्शन (घर्षण) भी हेयर फॉलिकल्स के सूज जाने का कारण हो सकता है। इसकी वजह से पूरे सिर में धीरे-धीरे फॉलिकुलाइटिस जैसी स्थिति विकसित होने लगती है।
  • पसीना, गंदगी और प्रदूषण की वजह से भी फॉलिकुलाइटिस की समस्या हो सकती है। क्योंकि इनके कारण सिर के पोर्स बंद हो जाते हैं, जो हेयर फॉलिकल्स में सूजन पैदा करते हैं।
  • नॉन क्लोरिनेटेड टब या पूल में नहाने से भी यह समस्या हो सकती है।
  • नियमित रूप से रेजर का इस्तेमाल हेयर फॉलिकल्स को काफी नुकसान पहुंच सकता है। इससे हेयर फॉलिकल्स लाल हो सकते हैं, इनमें सूजन आ सकती है और खुजली हो सकती है।

इनके अलावा कई बार टाइट कपड़े पहनने से, क्लोरीन द्वारा ट्रीट न हुए पानी को पीने से, मेकअप, कोकोआ प्रोडक्ट्स और मोटर ऑयल जैसी चीजों का प्रयोग करने से भी यह समस्या पैदा हो सकती है। सिर की चोट या घाव फॉलिकुलाइटिस का कारण बन सकता है।

इसे भी पढ़ें - परमानेंट हेयर स्ट्रेटनिंग कराने जा रही हैं तो पहले जान लें ये जरूरी बातें

फॉलिकुलाइटिस के लक्षण

  • स्कैल्प पर पिंपल्सया दाने होना, इन पर बाल निकलना
  • स्कैल्प पर खुजली
  • बालों और स्कैल्पर पर गर्मी महसूस होना

स्कैल्प पर हो रहे पिंपल्स फूटते हैं, तो इनसे ब्लड या पस निकलता है। इस स्थिति में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। 

फॉलिकुलाइटिस का इलाज

  • वैसे तो यह समस्या दो हफ्तों में अपने आप ठीक हो जाती है, लेकिन स्कैल्प पर खुजली होने पर इसका इलाज जरूरी हो जाता है।
  • खुजली हो, तो सफेद सिरके में थोड़ा गर्म कंप्रेस का प्रयोग करके स्कैल्प पर लगा सकते हैं।
  • बाल धोने के लिए मेडिकेटेड शैंपू का प्रयोग करना चाहिए। लेकिन कोई भी शैंपू लेने से पहले एक बार स्त्री रोग विशेषज्ञ से जरूर बात कर लें।
  • एंटी सेप्टिक सोप प्रिपरेशन का प्रयोग कर सकते हैं।
  • ओवर द काउंटर क्रीम का प्रयोग फायदेमंद हो सकता है।

यह स्थिति खतरनाक नहीं होती है, इसलिए आपको इस स्थिति से डरने की जरूरत नहीं है। यह काफी आम होती है और किसी को भी हो सकती है। लेकिन फॉलिकुलाइटिस के लक्षण नजर आने पर आपको तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

Disclaimer