जल्दी-जल्दी आती है जम्हाई तो हो जाएं सावधान, इन 5 समस्याओं का हो सकता है संकेत

जम्हाई या उबासी आने का मतलब हम यह समझते हैं कि शरीर में थकावट है और नींद की जरूरत है। मगर क्या आप जानते हैं कि अगर आपको जल्दी-जल्दी और लगातार जम्हाई आने लगे, तो ये किसी बीमारी का भी संकेत हो सकता है। आमतौर पर हम जम्हाई तब लेते हैं जब फेफड़ों में प

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jan 14, 2019
जल्दी-जल्दी आती है जम्हाई तो हो जाएं सावधान, इन 5 समस्याओं का हो सकता है संकेत

जम्हाई या उबासी आने का मतलब हम यह समझते हैं कि शरीर में थकावट है और नींद की जरूरत है। मगर क्या आप जानते हैं कि अगर आपको जल्दी-जल्दी और लगातार जम्हाई आने लगे, तो ये किसी बीमारी का भी संकेत हो सकता है। आमतौर पर हम जम्हाई तब लेते हैं जब फेफड़ों में पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती है और हमें अतिरिक्त ऑक्सीजन की जरूरत होती है। जम्हाई लेने से मस्तिष्क की गर्मी भी निकलती है। आइए आपको बताते हैं बार-बार जम्हाई आना किन बातों का हो सकता है संकेत।

शरीर में आयरन की कमी (एनीमिया)

एनीमिया (रक्त में आयरन की कमी) और थकान अत्‍यधिक जम्‍हाई का कारण होती है। अधिकांश लोग थकान और सुस्‍ती को आम समस्‍या मान कर डॉक्‍टर के पास नहीं जाते। लेकिन जरूरत से ज्‍यादा थकान और बहुत ज्‍यादा जम्‍हाई महसूस होने पर आपको अपने आहार में आयरन युक्त खाद्य पदार्थों को लेना चाहिए। इसके अलावा एनीमिया के लिए टेस्‍ट पर विचार करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:- नींद न आने का कारण हो सकते हैं ये 5 आहार, इन्सोम्निया के हो सकते हैं शिकार

थायरॉइड ग्रंथि की समस्या

थायरॉयड धीरे-धीरे चयापचय को नियंत्रित कर आपको बहुत अधिक थकान महसूस कराता है। और थकान महसूस होने पर आपको लगातार जम्‍हाई आने लगती है। बार-बार जम्‍हाई आने पर आपको अपने थायरॉयड की जांच करवानी चाहिए। एक साधारण रक्त परीक्षण से आपको पता चल जायेगा कि आपका थायराइड सामान्‍य रूप से काम कर रहा है या नहीं।

खानपान की गड़बड़ी

कुछ एनर्जी बूस्टिंग ड्रिंक का वास्‍तव में आप पर विप‍रीत असर होता है। जैसे कॉफी पीने से आप काम को ध्‍यान से करते है, लेकिन इसकी अधिक मात्रा वास्‍तव में थकान और जम्‍हाई का कारण बनती है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि हाई एनर्जी या कम एनर्जी का पीछा करती है। शक्कर से भरपूर खाद्य पदार्थों से ऐसा प्रभाव होता है। अगर आपको खाने के बाद थकान या जम्‍हाई महसूस होती है, तो अपने आहार के प्रति सावधान हो जाये।

इसे भी पढ़ें:- आपके शरीर का 'सेंट्रल कंट्रोलर' है आपका लिवर, जानें इसका काम और कैसे रखें स्वस्थ

दवाओं का साइड इफेक्ट

अवसाद या चिंता के इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली कुछ दवाएं, साइड इफेक्‍ट के रूप में जम्‍हाई पैदा कर सकते हैं। हालांकि डॉक्टरों एंटी चिकित्सा के पक्ष प्रभाव के रूप में अत्यधिक जम्हाई के बारे में पता कर रहे हैं, लेकिन इस विषय पर पर्याप्‍त शोध नहीं है।

नार्कोलेप्सी रोग

अधिकांश लोग दिन के अंत में थकान के कारण जम्‍हाई लेना शुरू करते हैं, लेकिन कुछ लोग थका हुआ महसूस करने के कारण पूरा दिन सोने की कोशिश करते हैं। इस अवस्‍था को नार्कोलेप्‍सी के रूप में जाना जाता है। यह बहुत अधिक गंभीर बीमारी नहीं है लेकिन आपके दैनिक कार्य में बाधा उत्‍पन्‍न कर सकती है। इसलिए इस समस्‍या को दूर करने के लिए चिकित्‍सक से संपर्क करें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Miscellaneous In Hindi

Disclaimer