कम नींद के कारण स्किन और बालों पर भी पड़ता है बुरा असर, जानें कैसे

कम सोने के कारण केवल आपकी सेहत पर ही असर नहीं पड़ता है बल्कि इससे आपकी स्किन और बाल भी खराब हो सकते हैं। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Jun 20, 2022Updated at: Jun 20, 2022
कम नींद के कारण स्किन और बालों पर भी पड़ता है बुरा असर, जानें कैसे

तनाव आपको जिंदगी के हर स्टेज में देखने को मिलता है। जब आप छोटे होते हैं, तो आपको पढ़ाई और रिजल्ट्स की चिंता होती है। फिर जब थोड़े बड़े होते हैं, तो कॉलेज में दोस्तों के समाने अच्छा दिखने की होड़ आपको परेशानी करती है और फिर काम और परिवार का बोझ आपको स्ट्रेस में डाल सकता है। ऐसे तो स्ट्रेस आपको काफी परेशान कर सकता है। साथ ही आपकी सेहत के लिए भी ये काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है। लेकिन, आपको इससे निकलने का तरीका आपको आना चाहिए क्योंकि अगर काम और तनाव के चक्कर में न केवल आपकी सेहत खराब हो सकती है बल्कि आपकी स्किन और बालों के लिए भी हानिकारक हो सकता है। काम का तनाव या किसी भी तरह का तनाव लेने पर आपके बाल तेजी से झड़ने लगते हैं। इसके अलावा स्किन पर कील-मुहांसे, दाने, ड्राइनेस, रिंकल्स और दाग-धब्बे होने लगते हैं। इससे आपकी स्किन खराब हो सकती है। तनाव के कारण आपके शरीर में हार्मोनल परिवर्तन भी हो सकता है और इससे आपके बाल और स्किन अंदरूनी रूप से खराब हो सकते हैं। फिर इसे रिपेयर करने के लिए आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है इसलिए आपको अपने काम और अन्य बातों का स्ट्रेस अधिक नहीं लेना चाहिए। आइए इसके नुकसान और उपायों के बारे में विस्तार से जानते हैं। 

तनाव का स्किन पर असर 

1. एक्ने

कई लोगों को आपने देखा होगा कि जब आप काम या निजी जीवन का बहुत अधिक स्ट्रेस लेते हैं। उनके चेहरे पर एक्ने और कई दाने नजर आने लगते हैं। इसके अलावा अगर आप पढ़ाई या किसी भी कारण से कम सो रहे हैं, तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि स्लीप साइकल बिगड़ने से आपके चेहरे का ग्लो खत्म हो जाता है और चेहरे पर एक्ने निकलने लगते हैं। साथ ही इसके दाग-धब्बे भी आपके चेहरे की खूबसूरती खराब कर सकते हैं। इसके लिए आपको अच्छे से सोने और तनाव कम लेने की जरूरत होती है। 

skin-hair-stress

2. डार्क सर्कल्स 

जब हम बहुत अधिक तनाव लेते हैं, तो हमारी नींद प्रभावित होती है। इससे आपकी आंखों के नीचे की मसल्स कमजोर हो सकती है और उनपर दबाव भी अधिक बढ़ जाता है, जिससे आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स की परेशानी हो सकती है। इससे आपकी आंखें सैगी आइज, फाइन लाइन्स, स्किन में स्टिफनेस और पिगमेंटेशन की परेशानी हो सकती है। इससे आपकी आंखों की खूबसूरती खराब हो सकती है। साथ ही इससे आपका चेहरा उदास नजर आने लगता है। इससे बचने के लिए आप रातों में आंखों के नीचे खीरा, मसाज और टी बैग्स रखकर अच्छे से सो सकते हैं। इससे आपकी स्किन को लाभ मिल सकता है। 

3. स्किन ड्राईनेस

स्किन का असर आपके चेहरे के हाइड्रेशन और नैरिशमेंट पर भी असर पड़ सकता है। आपकी स्किन डल और बेजान नजर आ सकती है। इससे स्किन की फ्लक्सिबिलिटी जाने लगती है और स्किन ड्राई और खराब नजर आने लगती है। इसके अलावा इन सभी कारणों से आपका आत्मविश्वास भी खराब होने लगता है।

इसे भी पढे़ं- स्ट्रेस दूर करने के लिए करें ये 5 काम, जानें तनाव कैसे बनाता है आपको धीरे-धीरे बीमार

4. बालों का झड़ना 

नींद कम लेने या अधिक तनाव लेने के कारण हेयर फॉलिकल सक्रिय नहीं हो पाते हैं। जिसके कारण रोजाना आपके बहुत बाल टूटते हैं। इससे स्कैल्प में दर्द और बालों में तेज खिंचाव आता है।  इसके कारण रोजाना 100 से अधिक बाल टूटते हैं। ऐसे हेयर फॉल को टेलोजेन एफ्लुवियम कहते हैं। इस बीमारी में बालों में तेज खिंचाव होता है। तनाव और चिंता के कारण न केवल सिर के बाल टूटते हैं बल्कि भौहों और पलकों के बाल भी तेजी से टूटते हैं। इसके कारण कई लोगों को गंजेपन की भी परेशानी हो सकती है। इम्यून सिस्टम कमजोर होने के कारण भी आपको परेशानी हो सकती है। 

skin-hair-stress

5. बालों का सफेद होना 

कम सोने के कारण आपके बाल तेजी से सफेद हो सकते हैं। छोटी उम्र में भी आपके सारे बाल सफेद हो सकते हैं। ये परेशानी ज्यादातर युवाओं में देखने को मिल रही है। उनकी अस्त-व्यस्त दिनचर्या के कारण उनकी जीवनशैली खराब हो जाती है और स्लीप साइकल भी बिगड़ जाता है, जिससे उनके बाल तेजी से सफेद और झड़ने लगते हैं। 

(All Image Credit- Freepik.com)

Disclaimer