क्या कोरोना के कारण अचानक मृत्यु हो सकती है? डॉक्टर से जानें ऐसा होने की आशंका कब होती है

पत्रकार रोहित सरदाना की मृत्यु के बाद ये सवाल उठने लगे कि कोरोना से अचानक मौत कैसे हो सकती है? सीनियर डॉक्टर अव्यक्त अग्रवाल से जानें ऐसा कब होता है।

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: May 02, 2021Updated at: May 02, 2021
क्या कोरोना के कारण अचानक मृत्यु हो सकती है? डॉक्टर से जानें ऐसा होने की आशंका कब होती है

पत्रकार रोहित सरदाना की अचानक मृत्यु के बाद देशभर में एक सवाल काफी पूछा जाने लगा कि कोरोना होने के बाद ठीक दिख रहा व्यक्ति अचानक कैसे मौत का शिकार हो जाता है। यही नहीं, हम हाल ही में बहुत से ऐसे केस देख रहे हैं जिनमें कोविड के कारण बहुत से लोगों की अचानक से मृत्यु हो जा रही है। इस कारण बहुत से लोग बहुत भयभीत हो रहे हैं लेकिन हम आपको बता दें कि आपको डरने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि कोविड से अचानक मौत बहुत ही कम केस में होती है। चिकित्सकों के मुताबिक ऐसा अक्सर लोगों की गलतियों के कारण होता है।

सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव चिकित्सक और पीडियाट्रीशियन डॉ. अव्यक्त अग्रवाल ने हाल में ही फेसबुक पर पत्रकार रोहित सरदाना की मृत्यु पर श्रद्धांजलि देते हुए एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने लोगों को उन गलतियों के बारे में चेताया है, जो कोरोना के दौरान अचानक मृत्यु का कारण बन सकती हैं। डॉ. अग्रवाल के मुताबिक बहुत से लोग पढ़े लिखे होकर भी ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिस कारण वह अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर लेते हैं। आपको कोविड बचने के बहुत से मौके देता है। उपचार से बचाव हमेशा बेहतर होता है इसलिए आपको पहले अपने बचाव के लिए स्टेप्स लेने चाहिए। अगर आपको फिर भी कोविड हो जाता है तो इससे अचानक मृत्यु हो जाने के चांस बहुत ही कम हैं। आपके ठीक होने के बहुत बहुत चांस हैं और अगर आप कुछ गलतियां नहीं करेंगे तो आप कोविड से आसानी से रिकवर हो सकते हैं। आइए डॉ. अग्रवाल से समझते हैं कि कोरोना में अचानक मृत्यु की कितनी आशंका है और इससे कैसे बचा जा सकता है?

blood clot

क्या हो सकता है कोविड में अचानक मृत्यु का कारण?

कोरोना वायरस शरीर में ब्लड क्लॉट बना सकता है यानी खून के थक्के जमा सकता है। ऐसी स्थिति में अगर ब्लड क्लॉट ब्रेन या हार्ट के हिस्से में होता है, तो व्यक्ति की अचानक मृत्यु हो सकती है। डॉ. अव्यक्त के अनुसार किसी व्यक्ति को ब्लड क्लॉट हो सकते हैं, इसके लिए कई तरह के टेस्ट हैं, जिनके बारे में आपको डॉक्टर बता सकते हैं। उन टेस्ट्स को कराना बहुत जरूरी है क्योंकि ब्लड क्लॉट कुछ परिस्थितियों में अचानक हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: वैक्सीन की पहली डोज के बाद कैसे रिएक्ट करता है शरीर? समझें कोरोना से बचाव में वैक्सीन की भूमिका

निम्न गलतियां करते हैं लोग

अगर आप नहीं चाहते कि कोविड आपको नुकसान पहुंचाए तो आपको खुद को निम्न गलतियां करने से बचाना होगा।

1. लक्षणों को नजर अंदाज करना

अगर आप शुरुआत के लक्षणों जैसे खांसी, बुखार आदि को नजरंदाज कर देते हैं तो यह आप सबसे बड़ी गलती कर रहे हैं। बहुत से लोग यह सोचते हैं कि हमें खांसी कुछ ठंडा खा पीने से हो गई होगी या हमें वायरल बुखार होगा। लेकिन हो सकता है यह कोविड हो इसलिए आपको शुरुआत के लक्षण नजरंदाज करके खुद को और बीमार होने का मौका नहीं देना चाहिए।

2. जरूरी टेस्ट न करवाना

कोविड से मृत्यु होने के कुछ ही कारण होते हैं जैसे आपके दिमाग या अन्य ऑर्गन में क्लॉट का जम जाना। इसके जमने के कारण आपको अचानक हार्ट अटैक या अन्य अचानक घटनाओं के कारण मृत्यु हो जाती है। इसलिए अगर आपके डॉक्टर इनसे संबंधित कोई टेस्ट आपको लिखते हैं तो आपको वह करवा लेने चाहिए। नहीं तो यह कुछ पैसे न खर्च करने की इच्छा आपकी जान भी ले सकती है।

wearing mask

3. खुद को स्वस्थ समझना

हम अक्सर यह मान लेते हैं कि हमें कोई बीमारी नहीं होती या हम शरीर से फिट है तो हम कोविड से भी मुक्त होंगे। लेकिन ऐसा अवश्य नहीं है। हो सकता है आप शारीरिक रूप से बहुत फिट और स्वस्थ दिखाई दे रहे हैं और आपका इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर हो और बीमारी होने पर वह आपको न बचा पाए। इसलिए शुरुआती लक्षणों को कभी भी इग्नोर नहीं करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: जबरदस्त थकान, सिर दर्द, बदन दर्द और प्लेटलेट्स घटने जैसे लक्षण भी हैं नए कोरोना का संकेत, नजरअंदाज न करें

आज जिन गलतियों का जिक्र हमने किया है वह ही आपके अचानक से मृत्यु होने का कारण बन सकती हैं इसलिए कोशिश करें कि आप यह गलतियां करने से बचें। यह गलतियां केवल अशिक्षित ही नहीं बल्कि पढ़े लिखे लोग भी करते हैं। सबसे पहले कोशिश करें कि आपको यह संक्रमण हो ही न इसलिए मास्क पहनें, घर से न निकलें और सामाजिक दूरी का पालन करते रहें। ऊपर दिया गया डॉक्टर अव्यक्त का वीडियो देखें और लोगों के साथ शेयर करें, ताकि लोग इन बातों को लेकर जागरूक हों।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer