मेटाबोलिज्म तेज करने और वेट लॉस में मददगार हैं डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स, Luke coutinho से जानें क्या हैं ये

Digestive enzymes foods वो खाने पीने की चीजें हैं, जो आपके पाचन क्रिया को तेज करते हैं और मोटापा और कब्ज जैसी समस्याओं से निजात दिलाते हैं। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Aug 16, 2021 15:40 IST
मेटाबोलिज्म तेज करने और वेट लॉस में मददगार हैं डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स, Luke coutinho से जानें क्या हैं ये

वेट लॉस के लिए क्या खाएं (foods for weight loss), ये प्रश्न अक्सर बहुत से लोग पूछते हैं। पर ये भूल जाते हैं कि वेट लॉस के लिए सबसे जरूरी है पाचन तंत्र का स्वस्थ रहना। वेलनेस कॉच ल्यूक कौटिन्हो (Luke coutinho) हमेशा से ही वेट लॉस टिप्स शेयर करते रहते हैं। हाल ही में उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स (foods with digestive enzymes) के बारे में शेयर किया। दरअसल, डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स में ऐसे खाद्य पदार्थ आते हैं जो कि आपके पेट को स्वस्थ रखते हैं, मेटाबोलिज्म को तेज करते है और वजन घटाने में भी मदद करते हैं। ये फूड्स पाचन एंजाइम (digestive enzymes) से भरपूर होते हैं। तो, आइए विस्तार से समझते हैं कि क्या है डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स और कैसे है ये फायदेमंद। पर उससे पहले जानते हैं क्या है डाइजेस्टिव एंजाइम और कहां बनते हैं?

insideDigestiveenzymesfoods

Image Credit: Purely Optimal

क्या है डाइजेस्टिव एंजाइम-Digestive enzymes

डाइजेस्टिव एंजाइम (Digestive enzymes), भोजन पचाने के लिए लार ग्रंथियों, पेट, पेनक्रियाज और छोटी आंत की कोशिकाओं द्वारा निकलते हैं। ये प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और मैक्रोन्यूट्रिएंट्स बनाने वाले बड़े, भोजन के जटिल अणुओं को छोटा करते हैं, जिससे इन खाद्य पदार्थों से पोषक तत्वों को आसानी से रक्तप्रवाह में अवशोषित किया जा सकता है और पूरे शरीर में ले जाया जा सकता है। इस तरह ये भोजन को पचाने में मदद करता है। डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स में खासतौर पर 3 पाचक एंजाइम होते हैं:

एमाइलेज (Amylases): एमाइलेज स्टार्च जैसे कार्ब्स को साधारण शुगर में तोड़ता है और सभी स्टार्च वाले फूड्स को पचाने में मदद करता है। 

प्रोटीज (Proteases): प्रोटीज वो एंजाइम है जो प्रोटीन को छोटे पेप्टाइड्स और अमीनो एसिड में तोड़ते हैं और प्रोटीन को पचाने में मदद करता है। 

लाइपेज (Lipases): लाइपेज फैट को तीन फैटी एसिड और एक ग्लिसरॉल में तोड़ते हैं और ब्लड में इन्हें सर्कुलेट करने में मदद करते हैं।

शरीर में कहां बनते हैं डाइजेस्टिव एंजाइम-Where do digestive enzymes come from

पाचन एंजाइम ज्यादातर पेनक्रियाज , पेट और छोटी आंत में निर्मित होते हैं। असल में जब आप खाना चबा रहे होते हैं तो, आपकी लार ग्रंथियां भोजन के अणुओं को तोड़ना शुरू करती हैं और पाचन एंजाइम उत्पन्न होना शुरू हो जाते हैं।  छोटी आंत में लैक्टेज, माल्टेज और सुक्रेज जैसे एंजाइम बनते हैं। 

डाइजेस्टिव एंजाइम ना बनने के नुकसान

शरीर में जब पर्याप्त पाचक एंजाइम नहीं बना पाता है तो, भोजन ठीक से पचा नहीं पाते हैं। इससे 

  • -लैक्टोज इनटॉलेरेंस जैसे फूड एलर्जी की समस्या हो सकती है। 
  • - डाइजेस्टिव एंजाइम ना होने से अपच और बदहजमी की परेशानी होती है। 
  • -आगे चल कर ये पाचन तंत्र से जुड़ी किसी गंभीर बीमारी जैसे गैस्ट्राइटिस का कारण भी बन सकता है।
  • -मोटापा बढ़ता है
  • -इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम (IBS) के लक्षण पैदा करता है।

डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स-Digestive enzymes foods

1. पपीता : पपीते में  प्रोटीज (Proteases) होते हैं जो प्रोटीन को पचाने में मदद करते हैं। हालांकि, उनमें पपैन नामक प्रोटीज का एक अलग समूह होता है, जो कि प्रोटीन के अपच से होने वाली परेशानियों से बचाते हैं।

2. अनानास : अनानास में ब्रोमेलैन नामक पाचन एंजाइमों का एक समूह होता है, जो प्रोटीन को अमीनो एसिड में तोड़ने में मदद करता है।

3. कच्चा शहद :  शहद में डायस्टेस (diastase), एमाइलेज (Amylases), इनवर्टेज (invertase) और प्रोटीज (Proteases) सहित कई तरह के पाचक एंजाइम होते हैं। इसलिए पेट को स्वस्थ रखने और वजन घटाने के लिए शहद का इस्तेमाल किया जाता है।

4. आम : आम में एमाइलेज (Amylases) होता है, जो स्टार्च यानी कि एक जटिल कार्ब को ग्लूकोज और माल्टोज जैसे शुगर में तोड़ देता है। एमाइलेज आम को पकने में भी मदद करता है।

5. केला : केले में एमाइलेज (Amylases) और ग्लूकोसिडेस (glucosidases) नाम के दो एंजाइम जो जटिल स्टार्च को आसानी से अवशोषित कर शुगर में पचाते हैं। जैसे ही केले पकना शुरू होता है इस एंजाइम की मात्रा बढ़ने लगती है। 

6. एवोकाडो :  एवोकाडो  में  लाइपेज (Lipases) होता है, जो फैट को छोटे फैटी एसिड और ग्लिसरॉल में तोड़ देता है। हालांकि लाइपेज शरीर द्वारा बनाया जाता है, लेकिन एवोकाडो का सेवन से ये बढ़ने लगता है।

7. अदरक : अदरक में  जिंजीबैन (zingibain) होता है, जो प्रोटीज (Proteases) नामक डाइजेस्टिव एंजाइम  है। यह पाचन तंत्र के जरिए भोजन को तेजी से आगे बढ़ने और उनके पाचन में सहायता करता है।

8.  कीवी : कीवी फ्रूट में  एक्टिनिडैन (actinidain) नामक पाचक एंजाइम होता है, जो प्रोटीन को पचाने में मदद करता है। इसके अलावा, कीवी के फायदे की बात करें तो, ये  पेट में सूजन और कब्ज की समस्या को भी कम कर सकता है।

डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स के फायदे-benefits of digestive enzymes foods

1. मेटाबोलिज्म को तेज करते हैं

मेटाबोलिज्म को तेज करने में भी डाइजेस्टिव एंजाइम एक बड़ी भूमिका निभाते हैं। ये आपकी आंत में गुड बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देते हैं और खाना पचाने में मदद करते हैं। दरअसल, मेटाबोलिज्म खराब होने से इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम (IBS), पेट में सूजन, गैस और पेट में ब्लोटिंग की समस्या भी होती है। ऐसे में ये पाचक एंजाइम से भरपूर फूड्स मेटाबोलिज्म को तेज करके मोटापा सहित कई बीमारियों से बचा सकते हैं। 

inside2weightloss

Image Credit: Health&Beauty

2. वेट लॉस में फायदेमंद 

वेट लॉस में लाइपेज (Lipases) एंजाइस की एक बड़ी भूमिका है। दरअसल, लाइपेज फैट को पचाने में मदद करता है। ये नेचुरल तरीके से पाचन की प्रक्रिया को तेज करके और फैट को पचा कर वजन घटाने में मदद करता है। इससे आप शरीर के चिशूज और सेल्स में फैट जमा नहीं होता है और इस तरह आप बैली फैट जैसी समस्याओं से बचे रह सकते हैं। अनानास, पपीता, आम, शहद, केला, एवोकाडो आदि जैसे खाद्य पदार्थों में पाचन एंजाइम भी स्वाभाविक रूप से मौजूद होते हैं। इस तरह वजन घटाने में ये फूड्स आपकी मदद कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : पराठे से लेकर दाल-चावल तक, जानें क्यों आपकी वेट-लॉस डाइट में इन चीजों का होना भी है जरूरी

अगर आपका पाचनतंत्र सही से काम नहीं करता तो, शरीर में थकान और दर्द की परेशानी रह सकती है। इसके अलावा माइग्रेन और सिरदर्द जैसी चीजें आपके आंत में सूजन से जुड़ी हो सकती हैं, जो इस प्रकार पोषक तत्वों कमी के कारण होती है। विशेष रूप से, प्रोटीज (Proteases) के कारण जिसे हमारे शरीर ऊर्जा देने में मदद करती है। इसलिए डाइजेस्टिव एंजाइम से भरपूर फूड्स की मदद से, आप भोजन को ठीक से पचा पाएंगे जिससे आपकी आंत में सूजन कम होगी और बदले में दर्द और थकान कम होगी। इस तरह आप डाइजेस्टिव एंजाइम फूड्स का सेवन कर पेट से जुड़ी तमाम परेशानियों से बचे रह सकते हैं। इन फूड्स की खास बात ये भी है कि ये डायबिटीज और अन्य पाचन संबंधी परेशानियों से जुड़े लोग भी खा सकते हैं।

Main Image credit: Harry & David

Read more articles on Weight Management in Hindi

Disclaimer